Thursday, November 15, 2018
Follow us on
Education

HAPPENING HARYANA-सेमेस्टर प्रणाली खत्म हो या फिर परीक्षाएं हों देरी से

September 15, 2015 05:15 AM

सेमेस्टर प्रणाली खत्म हो या फिर परीक्षाएं हों देरी से
अजय मल्होत्रा / हप्र
भिवानी, 14 सितम्बर
प्रदेश में पंचायत चुनाव के चलते हरियाणा स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 10वीं व 12वीं कक्षाओं में सेमेस्टर प्रणाली आगामी वर्ष की बजाय इसी वर्ष समाप्त करने की योजना तैयार की है। इस फैसले को आगामी कुछ दिन में शिक्षा विभाग तथा हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड सैद्धांतिक रूप से स्वीकृति प्रदान कर सकता है।
गौरतलब होगा कि प्रदेश में गत 8 सितम्बर को पंचायत चुनाव की घोषणा के साथ ही 29 सितम्बर से 21 सितम्बर तक होने वाली हरियाणा शिक्षा बोर्ड की 10वीं व 12वीं कक्षाओं के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षाओं पर अनिश्चितता के बादल छा गये हैं। यूं भी सभी अध्यापकों की पंचायत चुनाव में ड्यूटी लगाई जा रही हैं।
ऐसे में अध्यापकों द्वारा परीक्षाएं संचालित करना मुश्किल होगा। हरियाणा राजकीय अध्यापक संघ तथा हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ पहले से ही इस बारे अपनी चिंता व्यक्त कर चुका है। बोर्ड द्वारा परीक्षा की तिथियां चुनाव घोषणा से ठीक 4 दिन पहले यानि 4 सितम्बर को घोषित की गई थी। इसी दौरान चुनाव कार्यक्रम घोषित होने के कारण शिक्षा बोर्ड की ओर से प्रदेश सरकार को दो सुझाव भेजे गए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बोर्ड प्रशासन ने 10वीं तथा 12वीं के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षाएं समाप्त करके ये परीक्षाएं वार्षिक आधार पर एक साथ मार्च में करवाने अथवा प्रथम सेमेस्टर की परीक्षाएं चुनाव के बाद करवाने के प्रस्ताव भेजे हैं। यूं भी प्रदेश में गिरते शिक्षा के स्तर को ध्यान में रखते हुए गत दिनों शिक्षा विभाग ने प्रदेश के स्कूलों में सेमेस्टर प्रणाली समाप्त कर दी थी लेकिन वर्तमान वर्ष में 10वीं तथा 12वीं कक्षाओं के लिए यह प्रणाली लागू रखने की बात कही गई थी।
पंचायत चुनाव और परीक्षा की तारीख
चुनाव आयोग ने तीन चरणों यानि 4 अक्तूबर, 11 अक्तूबर व 18 अक्तूबर के लिए पोलिंग निर्धारित की गई हैं। इन तीनों तिथियों से एक दिन पहले तथा एक दिन बाद बोर्ड की परीक्षा की तारीखें भी निर्धारित हैं।
4 अक्तूबर यानि प्रथम चरण की पोलिंग से एक दिन पहले 3 अक्तूबर को 12वीं का हिन्दी तथा अंग्रेजी का पर्चा है।
पोलिंग से अगले दिन 5 अक्तूबर को 10वीं का गणित व 12वीं का मिल्ट्री साइंस व अन्य आॅप्शनल पर्चे हैं।
11 अक्तूबर यानी पोलिंग के दूसरे चरण के दिन से ठीक दो दिन पहले 9 अक्तूबर को 12वीं का गणित व 10 अक्तूबर को फाइन आर्ट्स का पर्चा है। पोलिंग से अगले दिन 12 अक्तूबर को 10वीं का एसएस तथा 12वीं का राजनीति शास्त्र व अकाउन्ट्स का पर्चा है। 18 अक्तूबर पोलिंग के तीसरे चरण से एक दिन पहले 17 अक्तूबर को 12वीं का फिजीकल एजुकेशन तथा बायोलॉजी व बिजनेस विषयों के पर्चे हैं।
इन हालात में शिक्षा बोर्ड के लिए मुश्िकल स्थिति पैदा हो गई है। चुनाव की तिथियों को ध्यान में रखते हुए अगर शिक्षा बोर्ड परीक्षाएं स्थगित करके एक या दो माह देरी से परीक्षाएं आयोजित करता है तो दसवीं तथा बारहवीं के लगभग 7 लाख छात्र-छात्राओं का भविष्य दांव पर लगेगा। इन छात्र-छात्राओं का प्रथम सेमेस्टर लेट होता है तो द्वितीय सेमेस्टर स्वभाविक तौर पर देरी से आरंभ होगा।
बोर्ड प्रवक्ता मीनाक्षी के अनुसार पंचायत चुनाव तथा प्रथम सेमेस्टर की तिथियां टकराने के कारण बोर्ड ने दो प्रस्ताव भेजे हैं, या तो प्रथम सेमेस्टर की परीक्षाएं समाप्त कर दी जायें या फिर परीक्षाएं नवम्बर में हों।( COURSTEY DAINIK TRIBUNE SEPT 15)

Have something to say? Post your comment
 
More Education News
दीपालय स्कूल घुसपैठी के छात्रों ने जिला स्तर प्रतियोगिता में अन्य स्कूलों के प्रतियोगियों को पीछे छोड़ा
डी.एल.एड. प्रवेश वर्ष-2017 (प्रथम वर्ष नियमित) एवं डी.एड. द्वितीय/तृतीय/चतुर्थ सैमेस्टर (रि-अपीयर) परीक्षाएं जुलाई-2018 का परीक्षा परिणाम आज घोषित किया गया
ट्राई सिटी के छात्रों द्वारा बनाई गई लघु फिल्मों की हुई स्क्रीनिंग और आंकलन
थापर इंस्टीट्यूट की क्यूएस ब्रिक्स यूनिवर्सिटी में उच्च रैंकिंग पहली बार क्यूएस इंडिया रैंकिंग में 31 वें स्थान पर
Drive on SPR still tough after a year near Vatika Chowk वर्तमान में श्रीकृष्णा आयुष विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र से संबंधित सभी आयुर्वेदिक महाविद्यालायों के बीएएमएस तथा डी-फार्मा द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम वीरवार तक घोषित कर दिया जाएगा: कुलपति डॉ. ओपी कालरा 24 सितंबर को गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी ऑफ साईंस एंड टैक्नोलोजी, हिसार में ‘स्वच्छ भारत समर इंटर्नशीप स्कीम’ के तहत प्रदर्शनी लगाई जाएगी जिसमें इंटर्नस द्वारा बनाई गई पेंङ्क्षटग, स्लोगन, चार्ट व अन्य सामग्री प्रदर्शित की जाएगी प्राइमरी स्कूलों में 97 हजार टीचरों की जरूरत, मेरिट पर सिलेक्शन है प्रमुखता: योगी पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत आवेदन नहीं कर पाए या पंजीकरण उपरांत आवेदन पूर्ण नहीं कर पाए, उन सभी छात्रों को 10 सितम्बर, 2018 तक विभागीय पोर्टल www.hryscbcschemes.in पर आवेदन करने का अंतिम अवसर प्रदान किया प्रदेश के प्राईवेट स्कूलों की अस्थाई मान्यता एक साल के लिए बढ़ी:राम बिलास शर्मा