Sunday, July 12, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
खालिस्तान रेफरेंडम 2020 में वोटिंग न करने के लिए शांडिल्य ने जताया सिख समाज का आभार राजस्थानः सभी मंत्रियों और विधायकों को जयपुर पहुंचने के निर्देश, मुख्यमंत्री ने मिलने बुलायाकानपुर कांड की होगी न्यायिक जांच, यूपी सरकार ने एक सदस्यीय जांच आयोग का किया गठनअमिताभ बच्चन के बाद ऐश्वर्या राय और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिवFICCI के सर्वे में चालू वित्त वर्ष के दौरान GDP ग्रोथ रेट -4.5 फीसदी रहने का अनुमानबांग्लादेश में भारत के नए उच्चायुक्त होंगे विक्रम दोरईस्वामीयूपीः कोरोना से निपटने के लिए सरकार का प्लान, हर हफ्ते लगेगा वीकेंड लॉकडाउनअनुपम खेर की मां कोरोना पॉजिटिव, कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती
Haryana

SONIPAT-निगम ने कर्मियों को वेतन नहीं दिया, पेयजल सप्लाई रोकी

June 03, 2020 07:07 AM

COURTESY DB JUNE 3

निगम ने कर्मियों को वेतन नहीं दिया, पेयजल सप्लाई रोकी

शहर में नगर निगम एवं कर्मियों के बीच जारी तनातनी का खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। 5 माह से वेतन नहीं मिलने से नाराज जलापूर्ति कर्मियों के समर्थन में अन्य स्टाफ सदस्यों द्वारा कार्य का बहिष्कार किए जाने से शहर के एक बड़े हिस्से की पेयजल व्यवस्था ठप हो गई। इसे लेकर जब लोगों ने विरोध प्रदर्शन शुरू किया तो प्रशासन की नींद खुली और निगम अधिकारियों ने पुलिस की मौजूदगी में पेयजल सप्लाई चालू करवाई।
वहीं दूसरी ओर कर्मचारियों ने वेतन नहीं मिलने पर अपना प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी रखा। सोनीपत नगर सुधार मंच ने सुबह धरना दिया। जिसके बाद निगम के जेसी एडिशनल एसएचओ सुरेंद्र कुमार, गोहाना रोड चौकी इंचार्ज रामकुमार मौके पर पहुंचे और अन्य कर्मियों को बुलाकर पानी की सप्लाई चालू की गई। इस दौरान धरने पर सोनीपत नगर सुधार मंच के चेयरमैन संजय सिंगला, प्रधान मोहन सिंह मनोचा, उप प्रधान रवीन्द्र सरोहा, पूर्व पार्षद सुरेन्द्र काला, मानव अधिकार संघ के अध्यक्ष जयबीर गहलावत, हेमंत नांदल, सोनू, संदीप सूद, अनिपाल आदि मौजूद रहे।
यह है पूरा मामला : नगर निगम में डेपुटेशन पर काम कर रहे कर्मियो को वेतन को लेकर काफी समय से दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कर्मियों का आरोप है कि उन्हें जनवरी माह से वेतन को लेकर चक्कर कटवाए जा रहे हैं, लेकिन वेतन नहीं मिल रहा है, कोरोना काल में जब चहुं ओर परेशानी है तो विभाग से प्रोत्साहन की जगह अनदेखी की जा रही है। जिसके चलते कर्मचारियों में आक्रोश है।
पुलिस प्रशासन पहुंचा तो पांच दिन बाद मिल सका लोगों को पानी
नहीं सुलझा है अभी मामला
भले ही आमजन के विरोध प्रदर्शन के चलते शहरवासियों को पानी आपूर्ति चालू हो गई है, लेकिन करीब 35 कर्मियों को वेतन अब तक हासिल नहीं हो सका है। कर्मी नेताओं ने बताया कि आयुक्त ने आश्वासन दिया है, लेकिन अब तक वेतन को लेकर कोई ठोस पहल नहीं हो सकी है। हरियाणा गर्वनमेंट पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल वर्कर्स यूनियन के जिला प्रधान विष्णु दत्त ने बताया कि वेतन को लेकर काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन को यह समझना चाहिए।
इन क्षेत्रों में पेयजल को लेकर हो रही है दिक्कत : पेयजल लाइन चालू नहीं किए जाने के कारण मुरथल रोड, लाइन पार क्षेत्र आदि में पानी नहीं पहुंच पा रहा है। जिसमे विशेष रूप से सेक्टर-23, पुराना तहसील, मुरथल रोड, बस स्टैंड के आसपास के क्षेत्र के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।
निगम का कोई इरादा वेतन रोकने का नहीं है, लेकिन तकनीकी कारणों के चलते समय वेतन को लेकर दिक्कत आ रही है। हालांकि निगम की ओर से शहर की पेयजल सप्लाई ठप नहीं हो इसे लेकर व्यवस्था बनाए रखी जाएगी। संबंधित कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। अशोक रावत, एक्सईएन, नगर निगम, जनस्वास्थ्य सेवाएं।

Have something to say? Post your comment