Sunday, July 12, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
खालिस्तान रेफरेंडम 2020 में वोटिंग न करने के लिए शांडिल्य ने जताया सिख समाज का आभार राजस्थानः सभी मंत्रियों और विधायकों को जयपुर पहुंचने के निर्देश, मुख्यमंत्री ने मिलने बुलायाकानपुर कांड की होगी न्यायिक जांच, यूपी सरकार ने एक सदस्यीय जांच आयोग का किया गठनअमिताभ बच्चन के बाद ऐश्वर्या राय और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिवFICCI के सर्वे में चालू वित्त वर्ष के दौरान GDP ग्रोथ रेट -4.5 फीसदी रहने का अनुमानबांग्लादेश में भारत के नए उच्चायुक्त होंगे विक्रम दोरईस्वामीयूपीः कोरोना से निपटने के लिए सरकार का प्लान, हर हफ्ते लगेगा वीकेंड लॉकडाउनअनुपम खेर की मां कोरोना पॉजिटिव, कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती
Punjab

‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के अंतर्गत विभिन्न सेक्टरों व वर्गों को समाविष्ट करने वाले आर्थिक पैकेजों को इस क्षेत्र में सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है

May 19, 2020 06:46 PM

आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के अंतर्गत विभिन्न सेक्टरोंव वर्गों को समाविष्ट करने वाले आर्थिकपैकेजोंको इस क्षेत्र में संबंधित पक्षों से सकारात्मक प्रतिक्रिया प्राप्त हो रही है। हाल ही में, वित्त मंत्री, श्रीमति निर्मला सीतारमण ने पांच चरणों में आर्थिक पैकेजों की घोषणा की है।

पंजाब के मदनहेड़ी गांव के सरपंच जसविन्द्र सिंह ने ‘मनरेगा’ (महात्मा गांधी नेश्नल रूरल इम्पलायमैंट गारण्टी ऐक्ट - महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोज़गार गारण्टी अधिनियम) के अंतर्गत बढ़ाए ख़र्च की सराहना करते हुए कहा कि इससे अधिक विकासात्मक कार्य हो सकेंगे तथा जिन से कामगारों के लिए रोज़गार के अधिक दिवस सुनिश्चित हो सकेंगे। सरकार ने ‘मनरेगा’ के अंतर्गत 40,000 करोड़ रुपए अतिरिक्त रखने का प्रस्ताव रखा है। इससे लगभग कुल 300 करोड़ व्यक्ति दिवस उत्पन्न करने में सहायता मिलेगी तथा इससे घरों को लौट रहे प्रवासी मज़दूरों के कारण आने वाली मानसून ऋतु के दौरान कार्य की बढ़ती आवश्यकता की पूर्ति हो सकेगी।

पंजाब के एक अध्यापक रघुराज वर्मा ने कहा कि वित्त मंत्री द्वारा की गई घोषणा के अनुसार ‘एक वर्ग एक चैनल’ पहल व ई-पाठशाला पर 200 अतिरिक्त पुस्तकों से बच्चों के लिए पढ़ाई न केवल सरल होगी, अपितु उन्हें पाठ्यक्रम से संबंधित किसी प्रकार की समस्याओं का सामना भी नहीं करना पड़ेगा। होशियारपुर, पंजाब के डीएवी सीनियर सैकण्डरी स्कूल के प्रिंसीपल मोनिका सूद ने इन पहलों के प्रति पूरी तरह ऐसी ही सकारात्मक आशा प्रकट की।

पंजाब के एक किसान जगमोहन सिंह ग्रेवाल ने कहा कि कृषि विपणन, मतस्य पालन क्षेत्र इत्यादि हेतु की गई हालिया घोषणाएं देश के लिए लाभदायक सिद्ध होंगी। भारत सरकार ने ‘प्रधान मंत्री मतस्य सम्पदा योजना’ (एमएमएसवाई) के द्वारा संगठित, टिकाऊ, समुद्री व देश में अन्य स्थानों पर मछली पालन के विकास हेतु 20,000 करोड़ रुपए की घोषणा की है। कृषि विपणन हेतु, एक केन्द्रीय कानून बनाया जाएगा, जिससे किसान को अपनी फ़सल को लाभदायक कीमत पर बेचने के लिए अवरोध-मुक्त अंतर-राज्य व्यापार व ई-व्यापार का नैटवर्क जैसे उचित विकल्प प्रदान होंगे।

12 मई, 2020 को भारत के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को आत्मनिर्भर बनाने हेतु ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान का ज़ोरदार आहवान दिया था।

Have something to say? Post your comment
More Punjab News
Hospitals owned by docs out of Clinical Establishments Act Punjab says can’t hold final-yr exams, urges UGC to reconsider पंजाब में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 158 नए मामले, 3 लोगों की मौत Capt announces cancellation of university, college exams इस क्षेत्र के लोगों ने ‘प्रधान मंत्री ग़रीब कल्याण अन्न योजना’ के विस्तार का स्वागत किया अनलॉक-2: पंजाब में किराना स्टोर और शॉपिंग मॉल रात 8 बजे तक खुले रहेंगे पंजाब: अनलॉक-2 / सूबे में दुकानें खोलने का वक्त बदला, बस सेवा में बढ़ोतरी की जाएगी; रात 10 से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू स्वास्थ्य विभाग ने अपनी रिपोर्ट सामने रखी जिसमे पंजाब के हालात चर्चा किये गए व विभाग ने बताए:पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बदल कही बीज घोटाला हुआ तो कहीं नाजायज शराब का काम हुआ:बिक्रम मजीठिया ED begins probe into private lab’s fake Covid reports