Monday, January 27, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा प्रदेश आज प्रदेश की गठबंधन सरकार की अनदेखी से गर्त में डूबा जा रहा है:अभय सिंह चौटालाचंडीगढ़:अनिल विज पत्रकारों से बातचीत करते हुएउत्तराखंडः कांग्रेस विधायक हरीश धामी ने प्रदेश सचिव के पद से दिया इस्तीफाअफगानिस्तान में अफगान एयरलाइंस का विमान क्रैशविधु विनोद चोपड़ा की फ़िल्म 'शिकारा' का दूसरा ट्रेलर हुआ रिलीज़सलमान खान के बीइंग ह्यूमन फाउंडेशन और बुक ए स्माइल का शुक्रिया अदा करने के लिए पिक्चर पाठशाला करेगा एक कार्यक्रम की मेजबानीUP: ED ने गृह मंत्रालय को भेजा नोट, कहा- CAA प्रोटेस्ट से PFI का सीधा संबंधBJP कार्यकर्ता दुलाल हत्याकांड में SC ने पश्चिम बंगाल सरकार से मांगा जवाब
Haryana

HARYANA CM CITY KARNAL-करनाल में 6 माह से तड़प रही 7 साल की रेप पीड़िता, पिता बोले- हैदराबाद की तरह बच्ची के दरिंदों को भी गोली मारो

December 07, 2019 06:03 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR DEC 7

लोग बोले- रेपिस्टों के लिए कठोर कानून होना चाहिए, यहां लचीला कानून होने के कारण बच जाते हैं अपराधी

करनाल में भी तीन दरिंदों द्वारा सात साल की मासूम बच्ची से रेप करके उसकी हत्या करने के लिए ब्लेड से उसके शरीर पर बार-बार वार किए गए थे। रेप पीड़िता बच्ची छह माह से करनाल के अस्पताल में तड़प रही है। पुलिस ने तीनों दरिंदों को जेल मंे डाला हुआ है। लेकिन बेटी की हालत देखकर हर कोई विचलित हो जाता है। बेटी के चार ऑपरेशन हो चुके हैं और पांचवां अाॅपरेशन 27 दिसंबर को चंडीगढ़ पीजीआई में होगा। अस्पताल में बैठे बच्ची के पिता की बात करते ही आंखें भर आती हैं। बेटी को जब दर्द होता है तो चीखने लग जाती है। बेटी तिल-तिल मर रही है। दिन रात बेटी के पास रहना पड़ता है।
हैदराबाद में दरिंदों को गोली मारकर मारने के बाद इस पिता की भी इच्छा है कि बेटी के दरिंदों को भी ऐसी सजा मिले। ताकि दोबारा से ऐसे दरिंदे समाज में पैदा न हों। छह साल की बेटी कुछ समझ भी नहीं पाई थी कि दरिंदों ने इतना बड़ा दर्द क्यों दिया। पुलिस रोजाना उनके पास आती है और डॉक्टर इलाज कर रहे हैं। बेटी अब थोड़ा बहुत बोलने लगी हैं और कुछ डिंगे भी चल पाती है।
31 मई 2019 की रात को हुई थी बच्ची के साथ वारदात
बेटी के चार ऑपरेशन हो चुके हैं और अब पांचवां अाॅपरेशन 27 दिसंबर को चंडीगढ़ पीजीआई में होगा
तीन मजदूरों ने किया था रेप, ब्लेड से पहुचाएं थे शरीर पर नुकसान
31 मई 2019 की रात को असंध के एक गांव में भट्ठे पर काम करने वाले मजदूर की 7 वर्षीय मासूम बेटी को तीन मजदूर उठाकर 100 मीटर दूरी पर ले गए। तीनों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद आरोपी बच्ची के शरीर को ब्लेड से काटकर फरार हो गए थे। बच्ची की चीख सुनकर पीड़ित पिता मौके पर पहुंचा। बच्ची की हालत देखकर उसके हाेश उड़ गए। बच्ची को तुरंत कल्पना चावला राजकीय मेडिकल काॅलेज में दाखिल कराया गया। छह माह से करनाल के मेडिकल कॉलेज में दाखिल है। बच्ची के चार ऑपरेशन हो चुके हैं। जबकि एक ऑपरेशन 27 दिसंबर को पीजीआई चंडीगढ़ में होगा। रेप करने के तीनों आरोपी विनोद, खिलावन और दिनेश फिलहाल जेल में बंद हैं।
ऐसे दरिंदों का सरेआम एनकाउंटर करना चाहिए
बच्ची के पिता ने कहा कि इस प्रकार का कृत्य करने वाले दरिंदों को बिना किसी जांच, गवाही के एनकाउंटर कर देना चहिए। पिछले छह माह से उनकी बेटी मौत और जिंदगी से लड़ रही है। आरोपियों का कुछ भी नहीं हुआ। जिस प्रकार से हैदराबाद के डॉ. के हत्याकांड के चारों आरोपियों का हैदराबाद पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया, रेप के आरोपी का इसी प्रकार तुरंत एनकाउंटर करना चाहिए। इसी तरह निर्भया कांड हुआ था, हरियाणा में भी कई कांड हुए। लेकिन अभी तक आरोपियों को सजा नहीं मिल पाई। उनकी बेटी के साथ हुई इस दरिंदगी से उसका घर व काम सब कुछ छूट गया। वह पिछले छह माह से अस्पताल में है। जल्द आरोपियों को सजा मिलनी चाहिए। बच्ची के पिता ने कहा कि फिलहाल तीनों आरोपी जेल में हैं। फिलहाल बच्ची का आपरेशन होगा, उसके बाद बयान होंगे।
365 दिन में 149 रेप और 13 के साथ हुआ गैंगरेप
जिले में रेप की हुई घटनाएं शर्मसार करने वाली हैं। एक साल यानि 365 दिन में 149 के साथ रेप और 13 के साथ गैंगरेप की घटनाएं हुई हैं। पुलिस में केस दर्ज हैं। समाज के लिए यह घटनाएं होना बहुत गलत है। शिकायत के आधार पर पुलिस कार्रवाई करती है। लेकिन 40 प्रतिशत केसों में भी पीड़िता ही समझौता कर जाती है। इसलिए रेप करने की वालों की फाइलें बंद हो जाती हैं। पिछले दिनों में असंध में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के एक इंस्पेक्टर पर रेप का केस दर्ज हुआ। लेकिन केस निपट गया। ऐसे दर्जनभर उदाहरण हैं, जिन पर पीड़िता समाज व अन्य प्रेशर में आकर पीछे हट रही हैं। वहीं, लोगों का कहना है कि रेपिस्टों के लिए कठोर कानून होना चाहिए, यहां लचीला कानून होने के कारण अपराधी बच जाते हैं।
पुलिस में किए गए दुष्कर्म के केस दर्ज
वर्ष 2015 में 111 रेप और 15 गैंगरेप हुए।
वर्ष 2016 में 87 रेप, 14 गैंगरेप हुए।
वर्ष 2017 में 84 रेप और 11 गैंगरेप हुए।
वर्ष 2018 में 149 रेप और 13 के साथ गैंगरेप हुआ है।
सुरक्षा को लगाई हुई है दुर्गा शक्ति, पीसीआर
महिलाओं की सुरक्षा के लिए दुर्गा शक्ति, पीसीआर, राइडर तुरंत सहायता करने में लगाए हुए हैं। 1091 नंबर स्पेशल महिलाओं के लिए है। रेप जैसी शिकायतों पर तुरंत प्रभाव से कार्रवाई होती है। रेप केसों के सभी आरोपी पकड़े गए हैं। -सुरेंद्र सिंह भौरिया, एसपी करना

 
Have something to say? Post your comment
 
 
More Haryana News
हरियाणा प्रदेश आज प्रदेश की गठबंधन सरकार की अनदेखी से गर्त में डूबा जा रहा है:अभय सिंह चौटाला
चंडीगढ़:अनिल विज पत्रकारों से बातचीत करते हुए
GURGAON-NCR के 7 प्रदूषित इलाकों में एक अपना उद्योग विहार प्रिंसिपल अकाउंटेंट जनरल की रिपोर्ट में हुआ खुलासा हूडा में फर्जी रसीदें लगा "68 करोड़ का घोटाला ! Near Jamia, a poetic celebration of Constitution through the night Students Joined By Women & Children In Protest Against CAA And NRC Padma Shri recipient bhajan singer Ramzan Khan & son Firoze
उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ करनाल से चंडीगढ़ पहुंचे
सत्यदेव नारायण आर्य ने ली परेड की सलामी और दिया प्रदेशवासियों को संदेश
हरियाणा:सभी जिलों में इन मुख्य अतिथियों ने फहराया तिरंगा
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुलेट पर पीछे खड़े होकर ग्राउंड का राउंड लगाया