Wednesday, November 20, 2019
Follow us on
 
Haryana

HISAR- हजारों समर्थकों ने शहर में डाला डेरा तो बिगड़ी व्यवस्था

October 15, 2019 06:17 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR OCT 15

हजारों समर्थकों ने शहर में डाला डेरा तो बिगड़ी व्यवस्था, पीएलए वासी बोले: रामपाल को भौंडसी जेल शिफ्ट करो, हम घरों में बन जाते हैं बंधक
सतलोक आश्रम प्रकरण : देशद्रोह मामले में रामपाल समेत 898 की पेशी, 7 पुलिसकर्मी नहीं पहुंचे गवाही देने

सतलोक आश्रम प्रकरण के दौरान बरवाला थाना में दर्ज देशद्रोह संबंधित मुकदमा नंबर 428 में रामपाल समेत 898 आरोपियों की सेंट्रल जेल वन में लगी अदालत में पेशी हुई। इस दौरान प्रकरण के समय घायल हुए सात पुलिस कर्मियों की गवाही होनी थी, लेकिन कोई नहीं आया। सभी ने रिक्वेस्ट भेजकर न आने का कारण वीआईपी और चुनावी ड्यूटी लगना बताया। ऐसे में अदालत ने सभी की रिक्वेस्ट स्वीकार करते हुए सुनवाई के लिए 25 नवंबर की अगली तारीख निर्धारित कर दी है। सैकड़ों आरोपियों की पेशी के अलावा करीब रामपाल के करीब 20 हजार समर्थक हिसार पहुंचे। शहर के विभिन्न एरिया में डेरा डाल लिया। इसके कारण दिनभर अव्यवस्था का आलम रहा।
पीएलए वासी इतने दुखी हो चुके हैं कि उन्होंने सीएम से रामपाल को भौंडसी जेल में शिफ्ट करने की गुहार लगा डाली। बोले कि हम तो बंधक बन जाते हैं। बच्चों को घर से बाहर निकालने तक में डर लगता है। इसके अलावा समर्थक जहां रुकते हैं वहां गंदगी फैलाकर चले जाते हैं। खुले में मल-मूत्र करते हैं, जिससे बीमारियां फैलने का खतरा है। समर्थकों की वजह से न सिर्फ सफाई बल्कि सफाई व्यवस्था भी बिगड़ती है। पुलिस को कानून एवं शांति व्यवस्था बनाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है।
अव्यवस्था : टाउन पार्क से लेकर बस स्टैंड तक जाम
सतलोक आश्रम के संचालक रामपाल की पेशी के दाैरान हजारों समर्थक निजी बसों व रेलगाड़ी में सवार होकर हिसार पहुंचे थे। अधिकांश ने टाउन पार्क, क्रांतिमान पार्क, ओल्ड कोर्ट काॅम्प्लेक्स, रेलवे स्टेशन पर डेरा डाल रखा था। इनके सड़क पर आने की वजह से टाउन पार्क से लेकर बस स्टैंड तक जाम की स्थिति रही। शहरवासियों को परेशानी उठानी पड़ रही है। लोग बोले- उनके घर घेरकर बैठ जाते हैं। दूसरा घर से बाहर निकले तो समर्थकों की वजह से जाम झेलना पड़ता है।
रेहड़ी अाैर अाॅटाे चालकाें की चांदी
रामपाल समर्थकों के हिसार में एकजुट हाेने पर रेहड़ी अाैर अाॅटाे रिक्शा चालकाें की खूब चांदी रही। जितना सामान रेहड़ी वाले पूरे दिन या सप्ताह भर में नहीं बेच पाते वह एक दिन में बिक जाता है। इसके अलावा अाॅटाे रिक्शा भी एक-दाे नहीं बल्कि पूरी सवारी बैठाकर या बुक करके लेकर जाते हैं।
पीएलए प्रधान बोले : सुबह 7 बजे आते हैं शाम 5 बजे जाते हैं, हम हो चुके हैं परेशान
पीएलए आरडब्लूए के प्रधान सतपाल ठाकुर का कहना है कि रामपाल समर्थकों से परेशान हो चुके हैं। लंबे समय से शासन-प्रशासन से गुहार लगा चुके हैं कि समर्थकों पर नकेल कसे लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। अब हालात बंधक जैसे हो चुके हैं। घरों से बाहर भी निकलना मुश्किल हो जाता है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल से गुहार लगाते हैं कि रामपाल को भौंडसी जेल शिफ्ट कर दें ताकि उक्त समस्या का निदान हो सके। प्रारंभ में 100 से 200 अनुयायियों का शहर में आना आरंभ हुआ था। अब यह संख्या हजारों में जा पहुंची है। रामपाल की पेशी के दौरान सुबह 7 बजे आते हैं और शाम को 5 जाते हैं। इन समर्थकों की भीड़ एक तरह से शहर को हाईजैक किया हुआ लगता है।
रामपाल की पेशी के चलते उनके समर्थकों के भारी संख्या में पहुंचने के कारण मटका चाैक पर बनी जाम की स्थिति अाैर खड़े समर्थक।

 
Have something to say? Post your comment
 
 
More Haryana News
चुनाव के बाद सभी राज्यों की समीक्षा कर रहे हैं बीजेपी:अनिल विज
चंड़ीगढ़:हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात की
फतेहाबाद के एसडीएम सुरजीत सिंह को टोहाना के एसडीएम का अत्तिरिक्त कार्यभार सौंपा गया
HARYANAराज्यसभा की दो सीटों के लिए भाजपा में जबरदस्त लाबिं रात में 300 राइस मिलों की चेकिंग, फूड सप्लाई की दो और वेयर हाउस की एक मिल में मिली कई खामियां एचएसआईआईडीसी डेढ़ माह और कंपनी का करेगी इंतजार, इसके बाद स्वयं केएमपी को करेगी राेशन Hry gives foolproof security to Dera chief in Sunaria jail barrack GURGAON-Residents of South City 1 move court over water supply ROHTAK-Leaking roof, garbage in open; patients, docs bear the brunt at PGIMS With 4 deaths a day, Haryana roads remain unsafe for pedestrians