Monday, June 01, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
सुखना लेक पर लगाई छलांग लोगों और पुलिस की मदद से बचाया व्यक्ति कोभाजपा की केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष बड़ी उपलब्धियों वाला रहा : सुभाष बरालाइनेलो के नेता अभय चौटाला हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात कीआज से पंजाब में शराब महंगी हुई,शराब पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई गईचंडीगढ़: सोनीपत में शराब घोटाले का मामला,SET की अवधि 2 महीने बढ़ीगुरूनानक देव जी का जीवन-दर्शन मानव के लिए सुखी एवं प्रसन्नता से रहने का मार्ग प्रशस्त करता है:कंवर पाल रेहड़ी-पटरी वालों के लिए भी योजना, देंगे 10000 तक लोनः प्रकाश जावड़ेकरकिसानों को 3 लाख तक के लोन पर ब्याज दर में 2 फीसदी छूटः प्रकाश जावड़ेकर
Haryana

HARYANA - PVT SCHOOLS-इंश्योरेंस नहीं ताे मान्यता हो सकती है रद्द

September 22, 2019 05:58 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR SEPT 22

जिले के 500 निजी स्कूलों के 50 हजार छात्रों का 30
तक कराना पड़ेगा इंश्योरेंस
इंश्योरेंस नहीं ताे मान्यता हो सकती है रद्द

िजले के सभी निजी स्कूलों को उनके यहां पढ़ रहे छात्रों का 30 सितंबर तक इंश्योरेंस कराना अनिवार्य होगा। जिला शिक्षा विभाग ने ऐसा निर्देश दिया है। विभाग ने कहा है कि जो स्कूल इस आदेश का पालन नहीं करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 1 अक्टूबर से ऐसे स्कूलों के खिलाफ जांच अभियान चलाया जाएगा। जांच में अगर यह पाया गया कि बच्चों का इंश्योरेंस नहीं कराया गया है तो संबंधित स्कूल की मान्यता रद्द करने के लिए मुख्यालय को लिखा जाएगा। अधिकारियों के अनुसार यह आदेश छात्रों की सुरक्षा को लेकर जारी किया गया है। इससे स्कूलों में छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित होगी। स्कूल अपने स्तर पर कम से कम 25 रुपए से उक्त राशि तक का इंश्योरेंस कराएंगे। इसमें दो से ढाई लाख तक का क्लेम मिल सकता है। कोई आपदा होने पर बीमित छात्र का मुफ्त में उपचार संभव हो सकेगा।
िजले में हैं 500 निजी स्कूल
िजले में 150 के आसपास सीबीएसई और 350 के आसपास हरियाणा बोर्ड के निजी स्कूल संचालित हैं। इनमें 50 हजार से अधिक छात्र पढ़ रहे हैं। अधिकारियों का मानना है कि कई ऐसे स्कूल हैं, जिन्होंने बच्चों का इंश्योरेंस नहीं कराया है। ऐसे में इन बच्चों की सुरक्षा पर सवाल उठता है। अगर कोई हादसा होता है तो ऐसे में संबंधित छात्र के उपचार में पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं। लिहाजा जिले के सभी स्कूलों को उनके यहां पढ़ रहे छात्रों का इंश्योरेंस कराने के लिए कहा गया है।
अिधकािरयों के अनुसार छात्रों की सुरक्षा को लेकर उच्चतर शिक्षा निदेशालय ने यह निर्देश िदया
जानकारी पोर्टल पर डालना होगा
छात्रों का इंश्योरेंस होने के बाद सारी डिटेल एमआईएस पोर्टल पर अपलोड करना जरूरी है। इसमें छात्रों का नाम, उसका इंश्योरेंस नंबर आदि की जानकारी 30 तक अपलोड करना है। इससे निदेशालय यह जानकारी आसानी से जुटा सकेगा कि किस स्कूल ने इंश्योरेंस कराया है और किसने नहीं। डिटेल अपलोड नहीं करने वाले स्कूलों पर मुख्यालय की ओर से कार्रवाई की जाएगी।
स्कूल भवन का इंश्योरेंस जरूरी
िजला शिक्षा विभाग के अनुसार सभी स्कूलों को अपनी बिल्डिंग का भी इंश्योरेंस कराना होगा। इसके लिए भी निर्देश दिया गया है। सभी से कहा गया है कि छात्रों के साथ स्कूल संचालक अपने भवन का भी बीमा कराएं, जिससे छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित हा़े सके।
जो स्कूल नहीं करेंगे उनपर होगी कार्रवाई
हमने सभी स्कूलों को निर्देश दे दिया है। सभी को 30 सितंबर तक स्कूल की बिल्डिंग व छात्रों का इंश्योरेंस कराने के लिए कहा है। ऐसा करने के बाद इसकी जानकारी एमआईएस पोर्टल पर अपलोड करने के लिए भी कहा है। जो स्कूल यह काम नहीं करेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। -सतिंदर कौर, जिला शिक्षा अधिकारी

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
सुखना लेक पर लगाई छलांग लोगों और पुलिस की मदद से बचाया व्यक्ति को
भाजपा की केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष बड़ी उपलब्धियों वाला रहा : सुभाष बराला
इनेलो के नेता अभय चौटाला हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात की चंडीगढ़: सोनीपत में शराब घोटाले का मामला,SET की अवधि 2 महीने बढ़ी गुरूनानक देव जी का जीवन-दर्शन मानव के लिए सुखी एवं प्रसन्नता से रहने का मार्ग प्रशस्त करता है:कंवर पाल ओम प्रकाश यादव को आज चंडीगढ़ में वी सर्व बिजनेस सोल्यूशन्स प्राइवेट लिमिटेड गुरुग्राम के एम डी श्री संदीप पासे ने एक लाख रुपये की राशि का चैक हरियाणा कोरोना रिलीफ फण्ड के लिए सौंपा
गाइडलाइन में प्रदेश सरकार को अधिकार:अनिल विज,हरियाणा के गृहमंत्री
चंडीगढ़ में अभय चौटाला पत्रकारों को संबोधित करते हुए
चंडीगढ़ महिला कांग्रेस की अध्यक्ष दीपा दुबे ने फिजिकल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए कॉलोनी वासियों की समस्या सुनी
Haryana govt’s data on families breached