Wednesday, October 16, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
जयपुरः चूड़ी बनाने वाली फैक्ट्री से 6 बाल मजदूरों का रेस्क्यू, एक आरोपी गिरफ्तारहरियाणाः अंबाला कैंट से BSP उम्मीदवार राजेश घायल, 2 अज्ञात लोगों ने किया हमलायूपीः 31 मार्च के बाद होमगार्ड को नए मानदेय के साथ मिलेगी पूरी ड्यूटी-चेतन चौहानसंसद के शीत सत्र की तारीखों का कल ऐलान संभव, CCPA करेगी बैठककांग्रेस की सरकार बनने की भनक पा परेशान हो उठी भाजपा : कुमारी सैलजादिल्लीः रैनबैक्सी के पूर्व सीईओ मलविंदर सिंह की पुलिस हिरासत 2 दिन के लिए बढ़ीमुर्शिदाबाद हत्याकांडः बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति कोविंद से मिलाEC ने 21 अक्टूबर को सुबह 7 बजे से शाम 6.30 बजे तक एग्जिट पोल पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की
 
Uttar Pradesh

अब नसबंदी फेल होने पर दोगुना मुआवजा देगी योगी सरकार

September 18, 2019 06:23 AM

COURTESY NBT SEPT 18

अब नसबंदी फेल होने पर दोगुना मुआवजा देगी योगी सरकार


नसबंदी ऑपरेशन में मौत होने पर 4 लाख मुआवजा
नए निर्देशों के मुताबिक, नसबंदी के दौरान या फिर डिस्चार्ज होने के एक हफ्ते के भीतर मौत होने पर दो के बजाए अब चार लाख रुपये का मुआवजा परिवार को मिलेगा। नसबंदी के बाद आठ से तीस दिन के भीतर अगर मौत होती है तो 50 हजार के बजाए 1 लाख रुपये का मुआवजा मिलेगा। इसी तरह नसबंदी के बाद व 60 दिनों के भीतर अगर महिला को किसी प्रकार की दिक्कत होती है तो उसके इलाज के लिए 25 हजार के बजाए अब 50 हजार रुपये दिए जाएंगे।
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने जारी किए निर्देश, 30 हजार के बजाए मिलेंगे 60 हजार
आंकड़ों के मुताबिक 2018-19 में 88 नसबंदी फेल हुई हैं। इनमें सबसे ज्यादा 15 केस शाहजहांपुर में हुए। दूसरे नंबर पर पीलीभीत है, जहां 9 केस फेल हुए और तीसरे पर बाराबंकी है, जहां 7 ऐसे मामले हुए। इसके साथ ही एक महिला की मौत भी नसबंदी के दौरान हुई है। अधिकारियों के मुताबिक 2017-18 में 183 केस फेल हुए। साथ ही एक महिला की मौत और एक की तबीयत बिगड़ी थी।
नसबंदी के बाद इंफेक्शन या बुखार होने पर मिलेंगे 50 हजार रुपये
निदेशक परिवार कल्याण के मुताबिक पहले नसबंदी के बाद अगर महिला की तबीयत बिगड़ती या फिर इंफेक्शन, बुखार आने की दिक्कत होती थी तो उस स्थिति में महिला के इलाज के लिए 25 हजार मुआवजे का प्रावधान था, लेकिन सरकार ने इस राशि को भी दोगुना कर दिया है।• अभिषेक गौतम, लखनऊ

 

परिवार नियोजन के तहत नसबंदी फेल होने पर महिलाओं को अब 30 हजार रुपये के बजाए अब 60 हजार रुपये का हर्जाना मिलेगा। यह निर्देश पिछले महीने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की ओर से जारी किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक इसका लाभ 31 मार्च 2019 के बाद के जितने भी केस फेल हुए हैं, उन सभी मामलों में महिलाओं को दिया जाएगा।

बता दें कि जहां एक तरफ भारत सरकार परिवार नियोजन को बढ़वा दे रही है, वहीं उत्तर प्रदेश में डॉक्टरों की लापरवाही जनसंख्या नियंत्रण की कवायद पर भारी पड़ रही है। इसके चलते प्रदेश में 2018-19 में 88 नसबंदी ऑपरेशन फेल हुए। साथ ही नसबंदी के दौरान एक महिला की मौत भी हो चुकी है। इसको देखते हुए प्रदेश सरकार ने लाभार्थियों का मुआवजा दोगुना कर दिया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण निदेशक बद्री विशाल के मुताबिक अगर अब नसबंदी फेल हो जाए तो लाभार्थी महिला को 30 हजार रुपये के बजाए 60 हजार रुपये मुआवजा मिलेगा। इसका भुगतान नैशनल हेल्थ मिशन के जरिए किया जाएगा।

Have something to say? Post your comment
More Uttar Pradesh News
यूपीः 31 मार्च के बाद होमगार्ड को नए मानदेय के साथ मिलेगी पूरी ड्यूटी-चेतन चौहान गाजियाबाद में पटाखों के गोदामों में छापेमारी, करीब 50 लाख के अवैध पटाखे किए जब्त यूपी: मऊ में सिलेंडर ब्लास्ट में 7 लोगों की मौत, सीएम योगी ने जताया दुख लखनऊ: इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आज खादी फैशन शो का होगा आयोजन यूपी: बुलंदशहर में सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को बस ने कुचला, 7 की मौत UP: हरदोई के DM पर चिकित्सा अधिकारियों से दुर्व्यवहार का आरोप, विरोध में 19 अधिकारियों ने दिए इस्तीफे अजय कुमार लल्लू बने यूपी कांग्रेस के नए अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू हो सकते हैं यूपी कांग्रेस के नए अध्यक्ष अयोध्या में इस साल भी मनाएंगे भव्य दीपोत्सव- योगी आदित्यनाथ मुरादाबाद में पटरी से उतरी लखनऊ-आनंद विहार डबल डेकर ट्रेन