Tuesday, October 15, 2019
Follow us on
 
International

पहली बार कोई अमेरिकी राष्ट्रपति भारतीय पीएम संग मंच साझा करेगा हाउडी मोदी मेगा शो में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प भी शामिल होंगे

September 17, 2019 06:25 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR SEPT 17

पहली बार कोई अमेरिकी राष्ट्रपति भारतीय पीएम संग मंच साझा करेगा
हाउडी मोदी मेगा शो में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प भी शामिल होंगे

ट्रम्प के ह्यूस्टन शो में शामिल होने की वजह
डेमोक्रेट्स और रिपब्लिकन के 60 सांसद भी मोदी के इवेंट में शामिल हो सकते हैं
भास्कर न्यूज | वॉशिंगटन/नई दिल्ली
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ह्यूस्टन रैली में शामिल होने की हामी भर दी है। पीएम मोदी 22 सितंबर को अमेरिका में 'हाउडी मोदी' रैली को संबोधित करेंगे। अमेरिका में ऐसा पहली बार होगा, जब कोई अमेरिकी राष्ट्रपति भारतीय प्रधानमंत्री के साथ एक मंच से भारतीय समुदाय को संबोधित करेगा। इस मेगा शो में भारतीय समुदाय के 50 हजार से ज्यादा लोग शामिल होंगे।
ह्वाइट हाउस ने रविवार देर रात ट्रम्प के मोदी के शो में शामिल होने की पुष्टि की। प्रेस सचिव ने कहा कि 22 सितंबर को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका-भारत के बीच अहम साझेदारी को बताने के लिए ह्यूस्टन जाएंगे। यहां ट्रम्प 'हाउडी मोदी' इवेंट में शामिल होंगे। यह कार्यक्रम- हमारे सपनों और सुनहरे भविष्य को लेकर है।
वहीं, इस शो में ट्रम्प के शामिल होने के पीछे सियासी वजहें भी बताई जा रही हैं। 2020 में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं। ट्रम्प दूसरी बार चुनाव लड़ने वाले हैं। माना जा रहा है कि ट्रम्प इसलिए ह्यूस्टन जा रहे हैं, क्योंकि यहां सबसे ज्यादा भारतीय मूल के लोग रहते हैं। इस कार्यक्रम में शामिल होने से उन्हें भारतीय मूल के लोग चुनाव में सपोर्ट कर सकते हैं।
पीएम मोदी ने जताई खुशी: इस पर मोदी ने ट्वीट कर खुशी जताई और लिखा, '22 सितंबर को ह्यूस्टन में ट्रम्प भी होंगे, इससे मैं काफी खुश हूं। ट्रम्प का यह फैसला भारत और अमेरिका के बीच खास दोस्ती का संकेत है। ह्यूस्टन में मेरे साथ ट्रम्प का होना अमेरिकी समाज और अर्थव्यवस्था में भारतीय समुदाय के योगदान को मान्यता देता है।'
2020 में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव हैं, ट्रम्प प्री-पोल में पीछे चल रहे
ह्यूस्टन अमेरिका का चौथा बड़ा शहर, यहां 1.5 लाख भारतीय रहते हैं
डोनाल्ड ट्रम्प के नरेंद्र मोदी के साथ एक मंच पर आने के मायने
2020 राष्ट्रपति चुनाव
रिपब्लिकन भारतीय मूल के लोगों को जोड़ना चाह रही है
ह्यूस्टन अमेरिका के टेक्सास राज्य में है। शहर की जनसंख्या 23 लाख है। यहां भारतीय मूल के डेढ़ लाख से ज्यादा लोग रहते हैं। टेक्सास ट्रम्प की पार्टी रिपब्लिकन का 1976 से गढ़ रहा है, पर पिछले कुछ चुनाव डेमोक्रेट्स पार्टी ने कड़ी चुनौती पेश की है। ऐसे में रिपब्लिकन पार्टी को मोदी-ट्रम्प के मेगा शो से भारतीय मूल के लोगों को अपने पक्ष में करने की बड़ी उम्मीद हैं।
हाउडी मोदी के लिए 50 हजार लोगों का रजिस्ट्रेशन
ह्यूसटन अमेरिका का चौथा सबसे बड़ा शहर है। इसके साथ ही यह एनर्जी कैपिटल भी है। भारत ऊर्जा का बड़ा आयातक देश है और पहले से ह्यूस्टन से बड़ी मात्रा में तेल और गैस खरीद रहा है। हाउडी मोदी ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में होगा। इसमें शामिल होने के लिए 50 हजार लोगों ने अब तक रजिस्ट्रेशन कराया है। यह कार्यक्रम टेक्सास इंडिया फोरम द्वारा होस्ट किया जा रहा है। शो का नाम alt39साझा सपने, उज्ज्वल भविष्यalt39 है।
अमेरिका में मोदी का यह तीसरा और सबसे बड़ा इवेंट
मोदी का अमेरिका में तीसरा बड़ा कार्यक्रम होगा। इससे पहले 2014 में न्यूयॉर्क के मेडिसन स्क्वॉयर में मोदी ने लोगों को संबोधित किया था, जबकि 2016 में कैलीफोर्निया में कार्यक्रम किया था। दोनों ही इवेंट में 20 हजार लोग शामिल हुए थे।
पाकिस्तान को झटका
मोदी-ट्रम्प के शो के दौरान अमेरिका में इमरान भी होंगे
मोदी के कार्यक्रम में ट्रम्प का आना पाकिस्तान के लिए बड़ा झटका है। पाकिस्तान लगातार कश्मीर के मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति से मध्यस्थता की रट लगाए हुआ है। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प भी पहले चार बार मध्यस्थता की बात कह चुके हैं। वहीं, मोदी अमेरिका में उस वक्त मेगा शो करने वाले हैं, जब न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक होने वाली है। पाक पीएम इमरान खान भी अमेरिका में होंगे।
मोदी से मिले जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल मलिक
जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस दौरान राज्यपाल ने प्रधानमंत्री को घाटी के हालात के बारे में जानकारी दी। मुलाकात के दौरान कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई है। बाद में मलिक ने बताया कि घाटी में हमने कई अहम काम किए हैं। कुपवाड़ा, हंदवाड़ा और लेह के लिए भी नए कॉलेज मिले हैं। देश में किसी भी राज्य को इतने मेडिकल कॉलेज नहीं मिले हैं, जिन्हें अब हमें मिलकर कामयाब बनाना है। डॉक्टरों की कमी थी, जिसके लिए शुक्रवार को ही 800 डॉक्टरों की नियुक्ति का निर्णय लिया गया है, राज्य में अब 4500 डॉक्टर हो जाएंगे।
भारत-अमेरिका दोस्ती
2 माह में मोदी तीसरी बार ट्रम्प से मिलेंगे, कई समझौते संभव
मोदी और ट्रम्प के इस साझा मेगा शो से आने वाले समय में भारत-अमेरिका के रिश्ते और मजबूत होंगे। मोदी के दौरे पर भारत और अमेरिका के बीच कई रक्षा और ट्रेड समझौते भी हो सकते हैं। ट्रम्प और मोदी के बीच की केमिस्ट्री कमाल की है। अधिकारी बताते हैं कि निमंत्रण मिलने के तुरंत बाद ट्रम्प ने इसके लिए हामी भर दी थी। यह दोनों के बीच की दो महीने में तीसरी मीटिंग होगी।

Have something to say? Post your comment
More International News
जापान में हगिबीस तूफान का कहर, 70 लोग घायलः जापानी मीडिया बुर्किना फासो में मस्जिद पर बड़ा हमला, 16 लोगों की मौत पाकिस्तान को आतंकी समूहों को समर्थन खत्म करना होगा: अमेरिकी सीनेटर ब्रिटेन: मैनचेस्टर के एक शॉपिंग सेंटर में चाकू से कई लोगों को घायल करने वाला संदिग्ध गिरफ्तार कोमोरोस यात्रा पर उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, 'द ऑर्डर ऑफ द ग्रीन क्रिसेंट' से सम्मानित जर्मनी के सिनगॉग के बाहर 2 लोगों की हत्या, आरोपी गिरफ्तार पेरिस: राजनाथ सिंह की फ्रांस की रक्षा कंपनियों के साथ बैठक आज राजनाथ सिंह ने भरी राफेल में उड़ान, करीब 35 मिनट तक हवा में रहेंगे रक्षा मंत्री रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल विमान में उड़ान पूरी की राफेल पर उड़ान भरने के बाद बोले राजनाथ- आत्मरक्षा में करेंगे इसका इस्तेमाल