Sunday, September 22, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
3rd T20: टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला कियानौकरी के नाम पर युवाओं को ठोकरें खिला रही है खट्टर सरकार - सुरजेवालापरीक्षा केन्द्र पर जल्दी पहुंचने की कोशिश में हिसार जिले के दो युवाओं को जान गंवानी पड़ी :हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डाबेगूसराय में एसडीओ पर बरसे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, वीडियो वायरलआंध्र प्रदेश-ओडिशा बॉर्डर पर मुठभेड़ में दो माओवादी ढेरदिल्लीः हरियाणा चुनाव को लेकर पार्टी मुख्यालय में बैठक जारी, CM मनोहर लाल खट्टर मौजूदआप ने घोषित की 22 उम्मीदवारों की पहली सूची, हुड्डा की सीट गढ़ी सांपला किलोई में मुनीपाल अत्री देंगे टक्करदिल्ली: कर्नाटक के सीएम ने अमित शाह से उनके घर जाकर की मुलाकात
 
Haryana

GURGJAON-लापरवाही : पीडब्ल्यूडी मंत्री ने 1 माह में सर्विस लेन सही कराने का आश्वासन दिया था, डेढ़ साल बाद भी नहीं सुधरी

August 17, 2019 05:52 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR AUG 17


बारिश में बह गईं सड़कें, शिकायत के लिए बने हरपथ एप पर कोई सुनवाई नहीं,गड्‌ढों से लगता है रोज जाम
लापरवाही : पीडब्ल्यूडी मंत्री ने 1 माह में सर्विस लेन सही कराने का आश्वासन दिया था, डेढ़ साल बाद भी नहीं सुधरी

करीब एक महीने से गुड़गांव में हो रही बारिश के दौरान शहर की अधिकांश सड़कें जर्जर हो चुकी हैं। बारिश से जहां सड़कें कई जगह से धंस चुकी हैं, वहीं कई सड़कें नाले का रूप ले चुकी हैं। सोहना रोड हाइवे की सर्विस लेन किसी नाले से कम नहीं है। हालांकि सोहना रोड को 6 लाइन करने व एलिवेटेड फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य चल रहा है, जिस पर करीब 1900 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे, लेकिन हाइवे की सर्विस लेन में पिछले दो साल से गहरे गड्ढे बने हुए हैं। इसकी मरम्मत के लिए कोई पहल नहीं की गई है।
इस संबंध में करीब डेढ़ साल पहले पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह के कार्यक्रम में भी सोसायटी के लोगों ने मांग की थी। मंत्री के आश्वासन के डेढ़ साल बाद भी यह रोड जर्जर है।
गुड़गांव में क्षतिग्रस्त सड़कों की शिकायत के लिए फिलहाल केवल हर पथ एप का विकल्प है। बरसात में शहर की लगभग सभी सड़कें क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं, मगर इसकी शिकायत के लिए कोई हेल्प नंबर जारी नहीं किया गया है। गुड़गांव की सभी मुख्य सड़कें जीएमडीए अंतर्गत हैं, जबकि सेक्टरों और कॉलोनियों की सड़कें नगर निगम के अंतर्गत हैं। चिंता की बात है कि इन दिनों हर पथ एप भी निष्क्रिय पड़ा है।
गड्‌ढों की शिकायत को बनाए गए हर पथ एप को लेकर में अधिकारी गैरजिम्मेदाराना जवाब दे रहे
सेक्टर-50 की सड़क पर गड़ढों से जाम
यह सेक्ट-50 की सड़क है। यह गड्ढा करीब आधी सड़क पर बना हुआ है। जिससे इस गड्ढे को बचाने के चक्कर में अक्सर दुर्घटना होने का खतरा बना रहता है। सोहना रोड से जाम से बचने के लिए काफी गाड़ियां इस रोड से सीधे सेक्टर-51, गोल्फ कोर्स रोड, सेक्टर-31, सेक्टर-40 व हुडा सिटी सेंटर को भी निकलते हैं। गड्ढे के कारण रोजाना ट्रैफिक जाम होता है।
पालम विहार रोड का पक्का नाला धंसा
पालम विहार रोड के किनारे बनाया गया नाला गुरुवार सुबह हुई तेज बारिश के बाद यह नाला धंस गया। ऐसे में सड़क के किनारे चलने वाले वाहन चालक भी यहां किसी भी हादसे का शिकार हो सकते हैं। बारिश के दौरान सड़क व नाले धंसने को लेकर नगर निगम कहीं भी मरम्मत नहीं कर रहा है। ऐसे स्थानों पर केवल प्राथमिक मरम्मत करके छोड़ा जा रहा है, जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।
सोहना रोड हाइवे की सर्विस लेन पर कीचड़ ही कीचड़
गुड़गांव. सोहना रोड स्थित सर्विस लेन पर हुई कीचड़ से निकलते वाहन।
ये सोहना रोड हाइवे की सर्विस लेन है। इस रोड की सर्विस लेन का यह सिर्फ एक जगह का नजारा है, लेकिन इस रोड पर करीब तीन किलोमीटर लंबाई में इस तरह के एक नहीं बल्कि 50 से अधिक गड्ढे हैं। इस रोड से रोजाना एक लाख से अधिक गाड़ियां गुजरती हैं। मेन रोड पर निर्माण कार्य चल रहा है, जिससे आधे वाहन इस गड्ढे से होकर ही गुजरते हैं। इस गड्ढे में रोजाना कोई न कोई टू-व्हीलर चालक भी गिरकर चोटिल हो जाता है।
पीडब्ल्यूडी अधिकारी बोले, अब कंसेसनर की है जिम्मेवारी
पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन संदीप सिंह ने बताया कि सोहना रोड की सर्विस लेन का काम पहले उनके पास था, लेकिन अब तो सोहना रोड पर निर्माण कार्य चल रहा है, अब कंसेसनर की जिम्मेवारी है, वे ही सर्विस लेन की मरम्मत करेंगे।
गुड़गांव-सोहना रोड पर काम शुरू हो गया है
गुड़गांव-सोहना रोड पर काम शुरू हो गया है। लेकिन अभी तक पीडब्ल्यूडी की जिम्मेवारी थी, लेकिन समय पर मरम्मत नहीं की गई है। -अशोक शर्मा, प्रोजेक्ट डायरेक्टर, एनएचएआई, गुड़गांव
इनके बयान बताते हैं हालात
हरपथ एप पर कोई शिकायत नहीं :जितेंद्र मित्तल
जीएमडीए के इंफ्रास्ट्रक्चर से संबंधित चीफ इंजीनियर ललित अरोड़ा का कहना है कि क्षतिग्रस्त सड़कों की शिकायत के लिए फिलहाल केवल हर पथ एप पर सुविधा है। जीएमडीए द्वारा मोबाइल एप लांच करने की तैयारी हो चल रही है। इन दिनों हर पथ एप पर शिकायतें मिल रही है, मगर इस संबंध में विस्तृत जानकारी चीफ इंजीनियर जितेंद्र मित्तल ही दे सकते हैं। दूसरी तरफ, जितेंद्र मित्तल का कहना है कि हर पथ एप पर कोई शिकायत नहीं मिल रही है। साथ ही बोलते हैं कि उन्हें इसकी कोई जानकारी नहीं है। इसकी जानकारी एक्सईएन ही दे सकते हैं।
एप पर शिकायतें मिल रहीं है, पर कम-एनडी वशिष्ठ
उधर, नगर निगम के चीफ इंजीनियर एनडी वशिष्ठ का कहना है कि हर पथ एप पर शिकायतें मिल रही हैं, मगर काफी कम है। निगम की लगभग सभी सड़कें या तो टाइल्स की हैं या फिर आरएमसी की बनी हुई हैं, जिसके क्षतिग्रस्त होने की शिकायतें काफी कम रहती हैं। शहर की सभी प्रमुख सड़कें जीएमडीए के अंतर्गत है

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
नौकरी के नाम पर युवाओं को ठोकरें खिला रही है खट्टर सरकार - सुरजेवाला परीक्षा केन्द्र पर जल्दी पहुंचने की कोशिश में हिसार जिले के दो युवाओं को जान गंवानी पड़ी :हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा
आप ने घोषित की 22 उम्मीदवारों की पहली सूची, हुड्डा की सीट गढ़ी सांपला किलोई में मुनीपाल अत्री देंगे टक्कर
Vikas’ pitch works but that is not NCR districts’ only concern Hooda’s main challenge is to save his bastion from BJP BJP Counts On Turncoats Opposition in Haryana deeply bruised, but a confident BJP eyes an easy win क्लर्क भर्ती का पेपर देने पहुंचे 12 हजार, शहर सेे निकलने में लगे 2 घंटे, फिर टोल पर फंसे बिना प्लान-शहर जाम : आज और कल दो शिफ्टों में होंगी परीक्षाएं, व्यवस्था बनाना फिर चुनौती HARYANA - PVT SCHOOLS-इंश्योरेंस नहीं ताे मान्यता हो सकती है रद्द फेस ऑफ द डे मनोहरलाल खट्‌टर 5 साल सरकार के पूरे, सीएम के चारों और घूमेगा चुनाव