Tuesday, October 15, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
बीजेपी आज पश्चिम बंगाल में 10 दिवसीय गांधी संकल्प यात्रा निकालेगीरिजर्व बैंक ने आज सरकारी बैंकों के प्रमुखों की बैठक बुलाई, आर्थिक मसलों पर होगी चर्चा हरियाणा में आज पीएम मोदी की दो रैलियां, कुरुक्षेत्र और चरखी दादरी में भरेंगे हुंकारदिल्ली में प्रदूषण को देखते हुए आज से ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान लागू, डीजल जनरेटरों पर रोक गाजियाबाद में पटाखों के गोदामों में छापेमारी, करीब 50 लाख के अवैध पटाखे किए जब्तदिल्ली: बढ़ते प्रदूषण के स्तर को रोकने के लिए डीजल जनरेटर पर बैनइंदौर: असिस्टेंट एक्साइज कमिश्नर के घर पर लोकायुक्त का छापाउत्तराखंड: टिहरी गढ़वाल में सड़क हादसा, 5 लोगों की मौत, SDRF मौके पर
 
Haryana

हवाला के 800 कराेड़ रुपयों पर काॅटन का हरियाणा से पंजाब तक पनप रहा था काराेबार, 38 कराेड़ की वसूली

June 17, 2019 06:20 AM


COURTESY DAINIK BHASKR JUNE 17
हवाला के 800 कराेड़ रुपयों पर काॅटन का हरियाणा से पंजाब तक पनप रहा था काराेबार, 38 कराेड़ की वसूली
आरोपियों को पकड़ने के लिए जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम वारेंट जारी कर मार रही है छापे
हरियाणा के हिसार, सिरसा अाैर राेहतक जिलाें में कुछ समय पहले काॅटन के टैक्स चाेरी करने वाले नेक्सस काे समझने के लिए डीजी जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम ने छापे मारे थे। अब इसके परिणाम सामने अा रहे हैं। सूत्राें की मानें ताे फर्जी फर्माें के जरिए पंजाब की स्पिनिंग मिलाें तक के ट्रैक की टीम ने जांच की ताे पाया कि करीब 800 कराेड़ रुपयाें काे काॅटन के व्यापार में घुमाया गया है। यह काेई एक जगह से अाए रुपये से ताे हाे नहीं सकते एेसे में इसकी बड़ी संभावना जताई जा रही है कि यह रकम हवाला के जरिए पाकिस्तान या अन्य देशाें से हवाला के लिए घुमाई जा रही है। सूत्र बताते हैं कि जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम ने पंजाब की स्पिनिंग मिलाें से 38 कराेड़ रुपये का टैक्स भरवाया है, जाेकि जांच से पहले न अाने की उम्मीद थी। यह ताे एक कड़ी अाैर कुछ फर्में हैं, अगर पूरे काॅटन के व्यापार का एनालिसिस किया जाए ताे यह अांकड़ा इससे कई गुना अधिक बड़ा निकलेगा।
समझिए वह ट्रैक.. जाे प्रदेश में कराेड़ाें के टैक्स चाेरी का खुलासा करता है
पहले एेसे लाेगाें के नाम से जीएसटी पर अाईडी जेनरेट की जाती है जाे सामान्य काम कर अपना गुजारा करते हैं।
इस काम काे कराने के लिए कुछ वकील या सीए की मदद ली जाती है।
इस धंधे में शामिल लाेगाें की काेशिश हाेती है कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन बिना अधिकारी के तीन दिन में अाॅटाे जेनरेट हाे जाए।
जब तक अधिकारियाें काे पता चलता है कि तब तक इन फर्माें के पीछे छिपे चेहरे एक दाे नहीं बल्कि कई साै कराेड़ की काॅटन एक स्थान से दूसरे स्थान भेज चुके हाेते हैं।
सबसे अधिक बिल पंजाबी की स्पिनिंग मिलाें के मिल रहे हैं।
इस विक्रय पर अंत में इनपुट टैक्स क्रेडिट लेकर फर्म बंद कर दी जाती है।
यहां से टैक्स चाेरी राेकने वाले विभाग सक्रिय हाेते हैं, फर्माें के पताें पर अधिकारी पहुंचते हैं ताे वहां फर्म जैसा कुछ भी नहीं मिलता लिहाजा एफअाईअार दर्ज करा दी जाती है।
भास्कर ने पहले ही बताई थी हकीकत : प्रदेश में पनप रहे काॅटन के अवैध काराेबार अाैर जीएसटी सिस्टम की कमजाेरियाें का प्रयाेग कर किसी प्रकार से कराेड़ाें में टैक्स चाेरी की जा रही है इसका खुलासा कुछ महीनाें पहले भास्कर ने किया था। जिसमें टैक्स चाेरी करने वाले इस नेक्सस का ट्रैक का पूरा सिस्टम का खुलासा किया था। अब कुछ एेसी ही हकीकत जीएसटी टीम की जांच में सामने अा रही है।
6 से 7 लाेगाें के निकाले वारेंट
डीजी जीएसटी इंटेलीजेंस की टीमाें ने हरियाणा व पंजाब तक जांच करने के बाद हिसार, अादमपुर, सिरसा के 6 से 7 लाेगाें काे चिह्नित किया, जिनके माध्यम से काॅटन में बड़े स्तर पर टैक्स चाेरी की गई। इनकाे पकड़ने के लिए टीम सक्रिय हैं। साथ ही कई एक्टाें में मामले दर्ज करने की तैयारी भी चल रही है।
जीएसटी इंटेलीजेंस ने कैसे ट्रैक समझा
डिपार्टमेंट ने दिल्ली में रणनीति बनाई 4 से 5 टीमाें काे गठित किया गया।
फर्माें से लेकर स्पिनिंग मिल तक एक-एक टीम भेजी गई।
कंप्यूटर, लैपटाॅप दूसरे दस्तावेज, बिल सभी का मिलान किया गया।
माैके पर ही मिले गड़बड़ी काे देखते हुए टैक्स माैके पर ही भरवाया गया।
कुछ दस्तावेज अपने साथ टीम ले गई। जहां अांकलन में खुलासा हुअा।
सुनवाई के दाैरान कुछ टैक्स व्यापारियाें से भरवाया गया।
पहले इतनी फर्माें हाे चुकी है एफअाईअार
अब तक 10 जिलों में 574 करोड़ की टैक्स चोरी सेल टैक्स डिपार्टमेंट ने पकड़ी है, जिसमें 40 फर्माें पर एफअाईअार दर्ज कराई गई थी।
सेंट्रल जीएसटी ने भी विभिन्न जिलाें में काॅटन चाेरी में एफअाईअार दर्ज करवाई

Have something to say? Post your comment