Wednesday, October 16, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
जयपुरः चूड़ी बनाने वाली फैक्ट्री से 6 बाल मजदूरों का रेस्क्यू, एक आरोपी गिरफ्तारहरियाणाः अंबाला कैंट से BSP उम्मीदवार राजेश घायल, 2 अज्ञात लोगों ने किया हमलायूपीः 31 मार्च के बाद होमगार्ड को नए मानदेय के साथ मिलेगी पूरी ड्यूटी-चेतन चौहानसंसद के शीत सत्र की तारीखों का कल ऐलान संभव, CCPA करेगी बैठककांग्रेस की सरकार बनने की भनक पा परेशान हो उठी भाजपा : कुमारी सैलजादिल्लीः रैनबैक्सी के पूर्व सीईओ मलविंदर सिंह की पुलिस हिरासत 2 दिन के लिए बढ़ीमुर्शिदाबाद हत्याकांडः बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति कोविंद से मिलाEC ने 21 अक्टूबर को सुबह 7 बजे से शाम 6.30 बजे तक एग्जिट पोल पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की
 
Haryana

हरियाणा पुलिस की मुस्तैदी से पेपर में नकल कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश

May 27, 2019 06:38 PM

रेवाड़ी पुलिस व स्पेशल टास्क फोर्स ने रविवार को नायब तहसीलदार का पेपर लीक करने के मामले में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पांच आरोपी जहां रेवाड़ी से पकड़े गए हैं वहीं रेवाड़ी पुलिस से मिली जानकारी के आधार पर एसटीएफ ने गुरुग्राम से तीन आरोपियों को दबोचा है। आरोपियों को आंसर की परीक्षार्थियों तक पहुंचाने से पहले ही पकड़ लिया गया। इसमें रेवाड़ी पुलिस व साइबर सैल की विशेष भूमिका रही। उल्लेखनीय है कि रविवार 26 मई को प्रदेशभर में नायब तहसीलदार पद के लिए लिखित परीक्षा थी। रेवाड़ी में भी 33 सेंटरों पर 4600 से अधिक युवाओं ने परीक्षा दी। परीक्षा सुबह 10 बजे शुरू हुई। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा खुद लगातार परीक्षा केंद्रों का दौरा कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि एक गिरोह पेपर लीक करके आंसर की परीक्षार्थियों तक पहुंचाने का प्रयास कर रहा है। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने तुरंत ही इंस्पेक्टर आनंद व साइबर सैल इंचार्ज बलवंत सिंह की देखरेख में टीम का गठन किया। इस टीम ने पता लगाना शुरू किया कि गिरोह के कौन-कौन लोग सक्रिय है। पुलिस टीम को जानकारी मिली कि हिसार के गांव बांस निवासी दिनेश व उसका भाई मनोज जो अलग-अलग परीक्षा केंद्र में परीक्षा दे रहे हैं उनके पास पेपर साॅल्व करके आंसर की पहुंचाई जानी है। इनकी मदद के लिए गिरोह के सदस्य परीक्षा केंद्रों के बाहर मौजूद है। दिनेश नामक युवक जैन कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में परीक्षा दे रहा था तथा उसका भाई मनोज माउंट लिट्रा जी स्कूल में परीक्षा दे रहा था। टीम को जानकारी मिली कि गुरुग्राम में बैठा पंकज नामक युवक पूरे गिरोह को संचालित कर रहा है। इसके बाबत गुरुग्राम एसटीएफ के इंस्पेक्टर सोनू मलिक व इंस्पेक्टर संजीव को भी जानकारी दी गई। रेवाड़ी पुलिस ने जैन कन्या स्कूल के बाहर से सबसे पहले अखिल नाम के युवक को पकड़ लिया। अखिल ने बताया कि गुरुग्राम से पंकज ने उसके पास पेपर साॅल्व करके आंसर की उसके पास भेजी है। उसे यह आंसर की अंदर परीक्षा दे रहे दिनेश व उसके भाई मनोज के पास पहुंचानी थी। 
-माउंट लिट्रा स्कूल के कर्मचारी भी शामिल
पकड़े गए अखिल ने पुलिस को बताया कि माउंट लिट्रा स्कूल में परीक्षा दे रहे मनोज के पास आंसर की पहुंचाने की जिम्मेदारी इसी स्कूल में कार्यरत क्लर्क जसबीर व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कुलदीप तथा परीक्षा दे रहे आरोपी मनोज के साले दीपक को सौंपी गई है। इस मामले में तुरंत ही पुलिस की एक टीम को माउंट लिट्रा स्कूल भेजा गया तथा वहां से दीपक, जसबीर व कुलदीप नामक कर्मचारी को पकड़ लिया गया तथा मनोज मौके से फरार हो गया। जैन गर्ल्स स्कूल से पुलिस टीम ने दिनेश को भी पकड़ लिया जिसने स्वीकार कर लिया कि उनका पूरा गैंग पेपर लीक करने से जुड़ा है जिसमें कई लोग शामिल है। उधर एसटीएफ गुड़गांव ने भी रेवाड़ी पुलिस से मिली जानकारी के आधार पर सरगना पंकज सहित तीन आरोपियों को पकड़ा है।
-करनाल से लीक हुआ था पेपर
नायब तहसीलदार का पेपर करनाल के एसएस इंटरनेशनल स्कूल से लीक हुआ था और वहां से आरोपी पंकज के पास भेजा गया था। पंकज ने इस पेपर को साॅल्व करके अखिल के पास आंसर की भेजी थी।। करनाल में पेपर लीक करने के मामले में एसएस इंटरनेशनल स्कूल का कर्मचारी राजकुमार शामिल था जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों से लगातार पूछताछ चल रही है। एक भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा। नायब तहसीलदार का पेपर लीक करने के मामले में गिरफ्तार किए गए हिसार के भूरे निवासी दीपक, बाहनी अमरपुर निवासी कृष्ण, ददई निवासी रविश, रेवाड़ी के गांव बालियर निवासी कुलदीप व गुमीना निवासी जयवीर को दो दिन के रिमांड पर तथा हिसार के बाहनी अमरपुर निवासी अखिल, हांसी निवासी पंकज, बास खुर्द निवासी दिनेश कुमार व करनाल के एसएस इंटरनेशनल स्कूल के कर्मचारी राजकुमार उर्फ राजू को पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है। आगे इस मामलें की जांच के लिए डीएसपी मुख्यालय हंसराज के नेतृत्व में एसआईटी गठित की जायेगी। जो इस मामलें से जुडे सभी आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचाने का काम करेगी।  

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
हरियाणाः अंबाला कैंट से BSP उम्मीदवार राजेश घायल, 2 अज्ञात लोगों ने किया हमला
कांग्रेस की सरकार बनने की भनक पा परेशान हो उठी भाजपा : कुमारी सैलजा
EC ने 21 अक्टूबर को सुबह 7 बजे से शाम 6.30 बजे तक एग्जिट पोल पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की
चरखी दादरी:हरियाणा मुझे खींचकर ले आता है:मोदी
हरियाणा में आज पीएम मोदी की दो रैलियां, कुरुक्षेत्र और चरखी दादरी में भरेंगे हुंकार HISAR- हजारों समर्थकों ने शहर में डाला डेरा तो बिगड़ी व्यवस्था जजपा के रोहतास सबसे अमीर, कांडा 78 करोड़ के कर्जदार, कमाई में नांदल पहले और कैप्टन अभिमन्यु दूसरे नंबर पर NBT EDIT-दादा का दौर बनेंगे बीसीसीआई के अध्यक्ष HARYANA-जबरन रिटायर करने के विरोध में उतरी कर्मचारी यूनियन Water, not Art 370, is an issue with fauji families in Haryana