Wednesday, February 19, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने पहलवान सुनील कुमार को पहला स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई दीUP: बेसिक शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर तबादले, मनोज कुमार मिश्रा बने बीएसए हाथरस जम्मू और कश्मीर: सुरक्षा बलों ने पुलवामा में तीन आतंकियों को मार गिरायामुंबई: नाले में गिरी 19 साल की लड़की का शव बरामददिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज बुलाई अधिकारियों की उच्चस्तरीय बैठकचीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 2000 के पार हुईफिलहाल भारत से कोई बड़ा व्यापारिक समझौता नहीं करेंगे: डोनाल्ड ट्रंपमोदी कैबिनेट की बैठक आज, USA डिफेंस डील को CCS से मिल सकती है मंजूरी
Haryana

हरियाणा पुलिस की मुस्तैदी से पेपर में नकल कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश

May 27, 2019 06:38 PM

रेवाड़ी पुलिस व स्पेशल टास्क फोर्स ने रविवार को नायब तहसीलदार का पेपर लीक करने के मामले में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पांच आरोपी जहां रेवाड़ी से पकड़े गए हैं वहीं रेवाड़ी पुलिस से मिली जानकारी के आधार पर एसटीएफ ने गुरुग्राम से तीन आरोपियों को दबोचा है। आरोपियों को आंसर की परीक्षार्थियों तक पहुंचाने से पहले ही पकड़ लिया गया। इसमें रेवाड़ी पुलिस व साइबर सैल की विशेष भूमिका रही। उल्लेखनीय है कि रविवार 26 मई को प्रदेशभर में नायब तहसीलदार पद के लिए लिखित परीक्षा थी। रेवाड़ी में भी 33 सेंटरों पर 4600 से अधिक युवाओं ने परीक्षा दी। परीक्षा सुबह 10 बजे शुरू हुई। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा खुद लगातार परीक्षा केंद्रों का दौरा कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि एक गिरोह पेपर लीक करके आंसर की परीक्षार्थियों तक पहुंचाने का प्रयास कर रहा है। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने तुरंत ही इंस्पेक्टर आनंद व साइबर सैल इंचार्ज बलवंत सिंह की देखरेख में टीम का गठन किया। इस टीम ने पता लगाना शुरू किया कि गिरोह के कौन-कौन लोग सक्रिय है। पुलिस टीम को जानकारी मिली कि हिसार के गांव बांस निवासी दिनेश व उसका भाई मनोज जो अलग-अलग परीक्षा केंद्र में परीक्षा दे रहे हैं उनके पास पेपर साॅल्व करके आंसर की पहुंचाई जानी है। इनकी मदद के लिए गिरोह के सदस्य परीक्षा केंद्रों के बाहर मौजूद है। दिनेश नामक युवक जैन कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में परीक्षा दे रहा था तथा उसका भाई मनोज माउंट लिट्रा जी स्कूल में परीक्षा दे रहा था। टीम को जानकारी मिली कि गुरुग्राम में बैठा पंकज नामक युवक पूरे गिरोह को संचालित कर रहा है। इसके बाबत गुरुग्राम एसटीएफ के इंस्पेक्टर सोनू मलिक व इंस्पेक्टर संजीव को भी जानकारी दी गई। रेवाड़ी पुलिस ने जैन कन्या स्कूल के बाहर से सबसे पहले अखिल नाम के युवक को पकड़ लिया। अखिल ने बताया कि गुरुग्राम से पंकज ने उसके पास पेपर साॅल्व करके आंसर की उसके पास भेजी है। उसे यह आंसर की अंदर परीक्षा दे रहे दिनेश व उसके भाई मनोज के पास पहुंचानी थी। 
-माउंट लिट्रा स्कूल के कर्मचारी भी शामिल
पकड़े गए अखिल ने पुलिस को बताया कि माउंट लिट्रा स्कूल में परीक्षा दे रहे मनोज के पास आंसर की पहुंचाने की जिम्मेदारी इसी स्कूल में कार्यरत क्लर्क जसबीर व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कुलदीप तथा परीक्षा दे रहे आरोपी मनोज के साले दीपक को सौंपी गई है। इस मामले में तुरंत ही पुलिस की एक टीम को माउंट लिट्रा स्कूल भेजा गया तथा वहां से दीपक, जसबीर व कुलदीप नामक कर्मचारी को पकड़ लिया गया तथा मनोज मौके से फरार हो गया। जैन गर्ल्स स्कूल से पुलिस टीम ने दिनेश को भी पकड़ लिया जिसने स्वीकार कर लिया कि उनका पूरा गैंग पेपर लीक करने से जुड़ा है जिसमें कई लोग शामिल है। उधर एसटीएफ गुड़गांव ने भी रेवाड़ी पुलिस से मिली जानकारी के आधार पर सरगना पंकज सहित तीन आरोपियों को पकड़ा है।
-करनाल से लीक हुआ था पेपर
नायब तहसीलदार का पेपर करनाल के एसएस इंटरनेशनल स्कूल से लीक हुआ था और वहां से आरोपी पंकज के पास भेजा गया था। पंकज ने इस पेपर को साॅल्व करके अखिल के पास आंसर की भेजी थी।। करनाल में पेपर लीक करने के मामले में एसएस इंटरनेशनल स्कूल का कर्मचारी राजकुमार शामिल था जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों से लगातार पूछताछ चल रही है। एक भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा। नायब तहसीलदार का पेपर लीक करने के मामले में गिरफ्तार किए गए हिसार के भूरे निवासी दीपक, बाहनी अमरपुर निवासी कृष्ण, ददई निवासी रविश, रेवाड़ी के गांव बालियर निवासी कुलदीप व गुमीना निवासी जयवीर को दो दिन के रिमांड पर तथा हिसार के बाहनी अमरपुर निवासी अखिल, हांसी निवासी पंकज, बास खुर्द निवासी दिनेश कुमार व करनाल के एसएस इंटरनेशनल स्कूल के कर्मचारी राजकुमार उर्फ राजू को पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है। आगे इस मामलें की जांच के लिए डीएसपी मुख्यालय हंसराज के नेतृत्व में एसआईटी गठित की जायेगी। जो इस मामलें से जुडे सभी आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचाने का काम करेगी।  

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
GURGAON-3 शिक्षकों के भरोसे फर्रुखनगर गवर्नमेंट कॉलेज के 48 छात्र संजय कोठारी होंगे नए केंद्रीय सतर्कता अायुक्त, बिमल जुल्का नए मुख्य सूचना अायुक्त नियुक्त जजपा विधायक ने पार्टी के नोटिस का नहीं दिया जवाब, कहा- डंके की चोट पर सौ फीसदी सच कहा, यही है जवाब जींद: विधायक मिड्‌ढा के पड़ोसी के घर से 28 लाख रुपए चोरीएक दिन पहले प्लॉट की पेमेंट आई थी, शादी में गया था परिवार बजट से पहले लगेगी आबकारी नीति पर मुहर विधानसभा में कल सुबह 11 बजे शुरू होगा बजट सत्र, दोपहर दो बजे कैबिनेट बैठक लेंगे सीएम सरकार के 22 महकमों की 44 फीसदी स्कीमों में एक से पांच साल तक खर्च नहीं हुआ एक पैसा 3 राइस मिलर्स ने गोहाना की कंपनी से की 22.63 कराेड़ की धोखाधड़ीधान खरीदकर पेमेंट नहीं की, 9 लोगों पर केस दर्ज एमसीआई ने पीजीआई को दी एमडी स्पोर्ट्स मेडिसिन कोर्स की मंजूरी PANCHKULA - एमआर ओपीडी में डॉक्टरों के साथ बैठकर कार्ड पर लिख रहे वो दवाई जो बनती ही नहीं PANCHKULA -स्टेट ऑफिस का ऑनलाइन सिस्टम ठप, नहीं हो रहे कामलोगों को काम करवाने के लिए\