Monday, September 23, 2019
Follow us on
 
Haryana

HARYANA रोडवेज में आउटसोर्सिंग पर लगे 325 ड्राइवरों समेत 450 कर्मचारियों काे नौकरी से निकालने के आदेश

May 25, 2019 06:59 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR MAY 25

रोडवेज में आउटसोर्सिंग पर लगे 325 ड्राइवरों समेत 450 कर्मचारियों काे नौकरी से निकालने के आदेश
विभाग की ओर से सभी जीएम को पत्र जारी, ऑल हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन ने दी हड़ताल की चेतावनी
रोडवेज में आउटसोर्सिंग पर लगे प्रदेश के करीब 450 कर्मचारियों काे नौकरी से निकालने के अादेश दिए गए हैं। चंडीगढ़ से सभी डिपो के जीएम के पास लेटर पहुंच गए हैं। पत्र के अनुसार तुरंत प्रभाव से जीएम ने कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने की लिस्ट बना ली है। उनकी कागजी प्रक्रिया में लगे हैं। सोनीपत डिपो से 36 कर्मचारियों काे निकाल दिया गया है। करनाल डिपो से भी 16 ड्राइवरों पर गाज गिरनी तय है।
प्रदेशभर में आउटसोर्सिंग में 325 ड्राइवर और करीब 150 कर्मचारी वर्कशॉप में लगे हैं। इनके निकालने से स्टाफ के अभाव का सामना कर रहे विभाग की सर्विस पर सीधे तौर पर असर पड़ेगा। बस सर्विस कम हो जाएगी और वर्कशॉप में बसों का कार्य भी टाइम पर नहीं होगा। ऑल हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन ने इस पत्र के विरोध में आ गए हैं।
यूनियन के वरिष्ठ राज्य उपप्रधान सुरेश कुमार लाठा का कहना है कि 25 मई को कुरुक्षेत्र में आयोजित प्रदेश स्तर की मीटिंग में हड़ताल का फैसला लिया जा सकता है। कर्मचारियों की नौकरी छीनना किसी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। पब्लिक को मौजूदा टाइम पर बेहतर सर्विस नहीं दी जा रही है। ड्राइवरों के निकालने पर बसें खड़ी हो जाएंगी।
ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की तरफ से प्रदेशभर के जीएम को जारी पत्र में निर्देश दिए हैं कि आउट सोर्सिंग में जो भी कर्मचारी लगे हैं (वर्कशॉप, ड्राइवर, कंडक्टर, स्वीपर, चौकीदार, ट्रेनिंग स्कूल) उनकी सेवाएं समाप्त की जाए। इस पत्र के आधार पर प्रदेशभर के डिपो से कर्मचारियों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है। करनाल के रोडवेज जीएम अश्वनी डोगरा ने बताया कि आउटसोर्सिंग पर लगे कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने के संबंध में पत्र मिला है। कर्मचारियों की लिस्ट बनाई जा रही है। मुख्यालय के निर्देशानुसार कार्रवाई की जाएगी।
7500 चालकों की जरूरत, अभी 900 पद खाली: धनखड़
आउट सोर्सिंग पर लगे कर्मचारियों को हटाए जाने पर कर्मचारी संगठन सरकार से नाराज हैं। रोडवेज कर्मचारी यूनियन हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह धनखड़ ने कहा कि प्रदेश में अभी 6600 चालक हैं, जबकि नाॅर्म के अनुसार 7500 की जरूरत है। अभी भी 900 पद खाली हैं। इसके अलावा हर महीने 40 से 50 चालक रिटायर भी हो रहे हैं। इसलिए पक्की भर्ती होने तक सरकार इन्हें ड्यूटी पर रखे और भर्ती में इन्हंे वरीयता दी जाएगी। धनखड़ ने कहा कि इस मामले को लेकर चंडीगढ़ में उच्चाधिकारियों से बात की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आउटसोर्सिंग पर 365 चालक हैं। इनमें 55 ने पहले ही हाईकोर्ट से स्टे लिया हुआ है

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
HARYANA-क्लर्क एग्जाम में पूछा- पश्चिमी यमुना कहां से निकलती है; सही जवाब है हथनीकुंड, जो विकल्प में दिया ही नहीं HARYANA सीएम अपने गांव में बोले- तत्काल सफाई अपनाओ, चेक करवाऊंगा गंदगी पर सरपंच को फटकार हुड्‌डा की घोषणाओं पर पार्टी की रोक काैनग्रेट; कांग्रेस मैनिफेस्टो कमेटी की दिल्ली में पहली मीटिंग के बाद चेयरपर्सन की दो टूक करनाल के सेंटर में प्रश्न-उत्तर की मिस मैचिंग से हंगामा, पानीपत में अभ्यर्थियों ने रोकी रेल क्लर्क परीक्षा के दौरान लाेगाें काे जाम में हाेना पड़ा परेशान, जैमर लगने से फाेन के नेटवर्क भी रहे डिस्टर्ब परीक्षा : महिलाओं के कोके, बाली, चूड़ी, धागा और बाल खुलवाकर करने दी एंट्री घाघरा, धोती-कुर्ते में मॉडल करेंगे कैटवॉक करनाल में 29 को होगा हरियाणवी संस्कृति से लबरेज फैशन शो, 6 प्रदेशों के मॉडल लेंगे हिस्सा HARYANA-सीएम के खिलाफ कोर्ट में शिकायत फरीदाबाद में बीएसपी की वर्कर मीटिंग में चलीं लाठियां GURGAON-पहाड़ी जमीन पर फार्महाउस कैसे/ Dushyant promises sops for pensioners, youths at Rohtak rally