Thursday, June 20, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
पीएम मोदी ने 40 राजनीतिक दलों की बुलाई थी बैठक, सिर्फ 21 दल ही हुए शामिलः राजनाथवन नेशन वन इलेक्शन का अध्ययन करेगी एक कमेटी, पीएम मोदी ने किया ऐलानमुंबईः लोकसभा चुनाव जीतने वाले शिवसेना के सभी 18 सांसदों को किया जाएगा सम्मानितवन नेशन वन इलेक्शन का विचार संघीय ढांचे और लोकतंत्र के खिलाफ हैः सीपीआईएमगुरुग्रामः हुडा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन में महिला से अश्लील हरकत करने वाला गिरफ्तारबीजापुरः छत्तीसगढ़ आर्म्ड फॉर्सेस के 2 जवानों की सहकर्मी जवान ने गोली मारकर हत्या की वन नेशन, वन इलेक्शन की अवधारणा संघीय-विरोधी, लोकतांत्रिक विरोधी: CPI-Mबांग्‍लादेश के टीवी चैनल बीटीवी वर्ल्‍ड को दूरदर्शन के फ्री डिश पर
Haryana

कांग्रेस को मिली संजीवनी न केवल वोट प्रतिशत बढ़ा, बल्कि पांच विधानसभाओं में वह नंबर एक पर रही है

May 25, 2019 06:09 AM

COURTESY NBT MAY 25

कांग्रेस को मिली संजीवनी


न केवल वोट प्रतिशत बढ़ा, बल्कि पांच विधानसभाओं में वह नंबर एक पर रही है


Rahul.Anand@timesgroup.com• नई दिल्ली : 2019 का लोकसभा चुनाव कांग्रेस के लिए वजूद की लड़ाई थी। लगातार गिरते ग्राफ की वजह से पार्टी को चुनाव में खुद को स्थापित करने का दबाव था। यही वजह थी कि कांग्रेस, ‘आप’ के साथ गठबंधन के लिए भी तैयार हो गई थी। दिल्ली में लोकसभा की एक भी सीट जीत न पाने के बावजूद कांग्रेस को संजीवनी मिली है। न केवल उसके वोट प्रतिशत में इजाफा हुआ है, बल्कि पांच विधानसभाओं में वह नंबर एक पर रही है। अभी चुनाव हो, तो कांग्रेस पांच सीटों पर जीत सकती है। बाकी 65 सीटों पर बीजेपी का कब्जा हो सकता है।

कांग्रेस के लिए अच्छी बात यह रही कि उसका वोट 15.15 प्रतिशत से बढ़कर 22.50 तक पहुंच चुका है। यानी 7.35 पर्सेंट वोट का इजाफा हुआ है। पार्टी कुल 42 विधानसभाओं में दूसरे स्थान पर पहुंच चुकी है। कांग्रेस नेताओं का कहना है, ‘हम खुश तो नहीं हैं, लेकिन इस चुनाव ने हमें नए सिरे से दिल्ली में स्थापित किया है। पार्टी इसे अगले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पॉजिटिव तरीके से ले रही है।’

कांग्रेस प्रवक्ता जितेंद्र कुमार कोचर ने कहा, ‘इस चुनाव से इतना साफ हो गया है कि बीजेपी को केवल कांग्रेस हरा सकती है। हमारा रोडमैप तैयार है। हमारा एकमात्र दुश्मन ‘आप’ है।’ उन्होंने कहा कि ‘आप’ को इस चुनाव में जनता ने नकार दिया है। इसी तरह अगले चुनाव में भी जनता उसे नकार देगी। कोचर ने कहा कि जब-जब बीजेपी और कांग्रेस में सीधी टक्कर होती रही है, बीजेपी की हार होती रही है। अब फिर से बीजेपी को टक्कर देने के लिए कांग्रेस तैयार है। कांग्रेसस नए सिरे से तैयारी में जुटी है।

लोकसभा चुनाव के आंकड़े कहीं न कहीं कांग्रेस के लिए पॉजिटिव संकेत दे रहे हैं। कांग्रेस को पिछले कुछ सालों से लड़ाई का हिस्सा नहीं माना जाता था। अब कांग्रेस ने खुद को स्थापित कर दिया है। अब भी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष को लेकर चिंता बनी हुई है। इस हार के बाद आगे की रणनीति क्या होगी, यह तो साफ नहीं है, लेकिन कहा जा रहा है कि प्रदेश कांग्रेस में बड़े स्तर पर बदलाव संभव है।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि इस चुनाव में सबसे पहले गठबंधन की वजह से कांग्रेस के नेता और वर्कर घरों में बैठे रहे, उन्हें प्रचार

का समय नहीं मिला। दूसरा कांग्रेस का अटैक काफी असरहीन रहा।

सूत्रों का कहना है कि अध्यक्ष बनने के बाद शीला दीक्षित ने एक भी प्रदर्शन नहीं किया। वर्कर में जो जोश उनके आने के बाद आया था वह धीरे-धीरे कम हो गया। ‘आप’ सरकार के बजट पर भी पार्टी की तरफ से कोई प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं की गई। प्रदेश कांग्रेस की रफ्तार इतनी धीमी थी कि चुनाव आते-आते जोश ठंडा पड़ गया और इस वजह से जनता एकतरफा मोदी लहर में बीजेपी के साथ चली गई।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
गुरुग्रामः हुडा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन में महिला से अश्लील हरकत करने वाला गिरफ्तार वन नेशन, वन इलेक्शन की अवधारणा संघीय-विरोधी, लोकतांत्रिक विरोधी: CPI-M
हरियाणा सरकार ने विभिन्न विभागों, बोर्डों, निगमों के प्रमुखों को लिंक अधिकारी के रूप में मनोनीत किया
Haryana to construct bridge over Ghaggar River in sectors 26-27 and 20-21 in Panchkula Now in Haryana ‘Anath Ashram’ will be knowns as Jagganath Ashram. HARYANA to construct A Helipad at AIIMS, Badsa in district Jhajjar for the convenience of patients
हरियाणा विधान सभा ,एचपीएससी,हाई कोर्ट , अधीनस्थ न्यायालयों में काम करने वाले एम्प्लाइज को राज्य सरकार के कर्मचारी के रूप में नहीं माना जा सकता है, इसलिए उन्हें हरियाणा सरकार के किसी अन्य विभाग में स्थानांतरण के आधार पर नियुक्त नहीं किया जा सकता है
हरियाणा सरकार ने रेवाड़ी जिला में धारूहेड़ा के नाम से नया खंड बनाने की मंजूरी दे दी डी.एस.ढेसी ने आज यहां प्रदेश में रिजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम के द्वारा लागू की जाने वाली रेल नेटवर्क परियोजनाओं की समीक्षा की जेजेपी के टपरीवास सेल का विस्तार, कई महत्वपूर्ण नियुक्तियां प्रदेश स्तर पर 18 पदाधिकारियों और 3 जिला प्रधानों की नियुक्ति