Wednesday, June 26, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा पुलिस की भर्ती केआवेदन की डेट बढाकर 11जुलाई की गई दादूपुर-नलवी पर हरियाणा मंत्रिमंडल का फैसला किसानों से विश्वासघात करने वाला तुगलकी फरमान: सुरजेवालाहरिद्वार: स्वामी सत्यमित्रानंद की भू-समाधि में शामिल होंगे योगी आदित्यनाथअमित शाह कल जाएंगे अमरनाथ, पवित्र गुफा में करेंगे बाबा बर्फानी की पूजा दिल्ली: अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो आज पीएम मोदी और एस. जयशंकर से करेंगे मुलाकातराज्यसभा में आज राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जवाब देंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्ल्ड कप: पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच मुकाबला आज J-K: त्राल में सुरक्षा बलों ने आतंकियों को घेरा, मुठभेड़ जारी
Haryana

पैमाइश में पंचकूला की पांच एकड़ जमीन निकल रही बलटाना साइड, बने हैं 200 घर पंचकूला-बलटाना बॉर्डर एरिया का डिस्प्यूट, हाईकोर्ट में चल रही सुनवाई

May 23, 2019 06:13 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR MAY 23
पैमाइश में पंचकूला की पांच एकड़ जमीन निकल रही बलटाना साइड, बने हैं 200 घर
पंचकूला-बलटाना बॉर्डर एरिया का डिस्प्यूट, हाईकोर्ट में चल रही सुनवाई
पंजाब की करीब एक एकड़ जमीन निकल रही है पंचकूला साइड
पंचकूला-बलटाना बॉर्डर एरिया डिस्प्यूट मामले में नया मोड़ सामने आया है। अब तक हुई पैमाइश में सीआईडी दफ्तर का खाली हिस्सा पंजाब के एरिया में जाएगा।
सर्वे ऑफ इंडिया की मौजूदगी में पंजाब व हरियाणा के रेवेन्यु ऑफिसर्स की मौके पर दिखाए गए डॉक्यूमेंट्स के मुताबिक हरियाणा का हिस्सा पंजाब के एरिया में बताया जा रहा है। पंचकूला के रेवेन्यू ऑफिसर्स के मुताबिक पंचकूला की 5 एकड़ से ज्यादा जगह पंजाब एरिया में निकल रही है और पंजाब की एक एकड़ जमीन पंचकूला में निकल रही है। एेसे में पंचकूला व बलटाना में रहने वाले लोगों की निगाहें अब पैमाइश की फाइनल रिपोर्ट पर टिकी हुई है। अधिकारियों की पंजाब के बलटाना एरिया में जिस साइड हरियाणा की जमीन निकल रही है वहां पर 200 से ज्यादा घर बसे हुए हैं। ऐसे में दोनों राज्यों की सरकार की ओर से पैमाइश कंप्लीट करने के बाद दोनों राज्यों को उनके एरिया का कब्जा दिलवाना टेढ़ी खीर साबित हो सकती है। रेवेन्यू ऑफिसर्स के मुताबिक जिस एरिया को लेकर बॉर्डर पैमाइश का मामला शुरू हुआ था सीआईडी दफ्तर का वह एरिया पंजाब के हिस्से में जाने की संभावना है और उस पर जुलाई महीने में फाइनल मुहर लग जाएगी।
: डेढ़ महीने का मांगा समय... 21 जून को हाईकोर्ट में पंचकूला-बलटाना बॉर्डर विवाद मामले की सुनवाई हुई। सुनवाई में सर्वे ऑफ इंडिया की ओर से स्टेटस रिपोर्ट सौंपी गई। इसमें कोर्ट को बताया गया कि करीब 105 के करीब आरसीसी पिलर्स बॉर्डर की निशानदेही को लेकर लगाए जा चुके हैं और 100 के करीब आरसीसी पिलर्स और लगाए जाएंगे। इसके अलावा कोर्ट की ओर से दोनों राज्यों की ओर से पेमेंट के बारे में भी पूछा गया। सर्वे ऑफ इंडिया ने डिमार्केशन के कंप्लीशन के लिए कोर्ट से डेढ़ महीने का समय मांगा है। कोर्ट ने सर्वे ऑफ इंडिया के अधिकारी से कहा कि वह डेढ़ महीने में डिमार्केशन का काम पूरा कर रिपोर्ट पेश करे।
: यह है मामला
हरियाणा के पंचकूला और पंजाब के बलटाना बॉर्डर की सीमा को लेकर आए दिन कोई न कोई विवाद खड़ा होता रहता है। सेक्टर 19 व बलटाना के बीच में सीआईडी दफ्तर के पास दीवार बनाए जाने के बाद बलटाना के भगवंत सिंह सहित कुछ अन्य लोगों की ओर से पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में दायर की गई याचिका के आधार पर चल रही है

Have something to say? Post your comment