Thursday, June 20, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
पीएम मोदी ने 40 राजनीतिक दलों की बुलाई थी बैठक, सिर्फ 21 दल ही हुए शामिलः राजनाथवन नेशन वन इलेक्शन का अध्ययन करेगी एक कमेटी, पीएम मोदी ने किया ऐलानमुंबईः लोकसभा चुनाव जीतने वाले शिवसेना के सभी 18 सांसदों को किया जाएगा सम्मानितवन नेशन वन इलेक्शन का विचार संघीय ढांचे और लोकतंत्र के खिलाफ हैः सीपीआईएमगुरुग्रामः हुडा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन में महिला से अश्लील हरकत करने वाला गिरफ्तारबीजापुरः छत्तीसगढ़ आर्म्ड फॉर्सेस के 2 जवानों की सहकर्मी जवान ने गोली मारकर हत्या की वन नेशन, वन इलेक्शन की अवधारणा संघीय-विरोधी, लोकतांत्रिक विरोधी: CPI-Mबांग्‍लादेश के टीवी चैनल बीटीवी वर्ल्‍ड को दूरदर्शन के फ्री डिश पर
Chandigarh

चंडीगढ़ में इस बार दोहरी चुनौती से जूझ रही हैं किरण खेर!

May 16, 2019 05:42 AM

COURTESY NBT MAY 16
पवन बंसल
किरण खेर
पिछले चुनाव में कांग्रेस के पवन बंसल को 70 हजार से ज्यादा वोट से हराया था
चंडीगढ़• गुलशन राय खत्री, चंडीगढ़

 

पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर इस बार चुनावी जंग बेहद दिलचस्प हो गई है। हालांकि पिछली बार ऐक्ट्रेस और बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर ने कांग्रेस के दिग्गज नेता पवन बंसल को 70 हजार से अधिक मतों से मात दी थी लेकिन इस बार खेर के लिए राह आसान नजर नहीं आ रही। उन्हें दोहरी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है। चुनाव मैदान में अपने विरोधी कांग्रेस उम्मीदवार से तो टक्कर लेनी ही पड़ रही है, साथ ही उन्हें पार्टी के भीतर भी विरोधी गुट का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि बीजेपी ने अपने आला नेताओं को एक्टिव करके भितरघात रोकने की कोशिश शुरू कर दी है लेकिन इसके बावजूद बीजेपी के लिए इस बार चंडीगढ़ की राह बेहद मुश्किल नजर आ रही है।

जिसकी सरकार, उसी का उम्मीदवार : चंडीगढ़ के साथ यह संयोग रहा है कि देश की जनता जिसे केंद्र में सरकार बनाने के लिए चुनती है, चंडीगढ़ की जनता भी प्राय: उसी पार्टी के उम्मीदवार को जिताती है। यह सिलसिला लंबे अरसे से चलता आ रहा है। इसी सीट से 1996 और 1998 में बीजेपी के टिकट पर चुनाव जीत चुके सत्यपाल जैन का कहना है कि 1977 में भी जब जनता पार्टी जीती, तो यहां से इसी पार्टी के कृष्णकांत सांसद चुने गए थे। 1991, 2004 और 2009 में कांग्रेस उम्मीदवार जीते तो सरकारें भी कांग्रेस की ही बनीं। 2014 में भी यही सिलसिला बरकरार रहा। सीट बीजेपी की किरण खेर ने जीती और केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी।

क्यों है तगड़ी टक्कर/ : इस सीट पर तगड़ी टक्कर की वजह यही है कि कांग्रेस के पवन बंसल पर फिर से भरोसा जताया है। उन्हें मजबूत उम्मीदवार माना जाता है। वह इस सीट पर चार बार सांसद रह चुके हैं। हालांकि पिछली बार उन्हें किरण खेर के हाथों हार झेलनी पड़ी थी लेकिन उस वक्त देश भर में मोदी लहर भी चल रही थी और आम आदमी पार्टी भी मजबूत थी। पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार गुल पनाग ने ही लगभग 24 फीसदी वोट हासिल कर लिए थे, जबकि पवन बंसल को 27 फीसदी वोटों से ही संतोष करना पड़ा था। इस तरह से कांग्रेस और आप का वोट बंटने का फायदा किरण खेर को मिला था और वह 42 फीसदी वोट लेकर भी बंसल को 70 हजार के अंतर से हराने में कामयाब हो गई थीं। यहां 70 फीसदी वोटर शहरी हैं जबकि 20 फीसदी स्लम बस्तियों में रहने वाले और दस फीसदी देहातों में रहने वाले हैं। शहरी सीट होने की वजह से यहां न तो जात-पात मुद्दा बनता है और न ही धर्म।

इस बार समीकरण बदले : इस बार हालात बदले हुए हैं। आम आदमी पार्टी ने हरमोहन को उम्मीदवार बनाया है लेकिन पहले जैसा जलवा कायम नहीं रह सका है। ऐसे में बंसल मजबूती से चुनाव मैदान में हैं और किरण खेर पर चंडीगढ़ को पीछे ले जाने के आरोप लगा रहे हैं। किरण खेर अपने सांसद निधि फंड का इस्तेमाल करने से लेकर केंद्र सरकार के कामकाज और राष्ट्रवाद को मुद्दा बनाने की कोशिश कर रही हैं, जबकि बंसल उन्हें स्थानीय मुद्दों पर लगातार घेर रहे हैं। खेर लगातार कह रही हैं कि उन्होंने लोकसभा में जनता की आवाज बनकर काम किया है और चंडीगढ़ को स्मार्ट सिटी बनाने समेत शहर को संवारने का कार्य किया है

 
Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
चंडीगढ़: कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के जन्मोत्सव पर हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस की प्रभारी श्रीमती अनुपमा रावत और प्रदेश अध्यक्षा श्रीमती सुमित्रा चौहान ने केक काटकर बधाई दी
Bike-borne men loot ₹45,000 on PGI campus Court convicts, fines two for littering पंचकूला,चंडीगढ़ और मोहाली के आसपास के एरिया में रात तक धूल भरी आंधी के साथ छींटे पड़ने की संभावना CHANDIGARH-No additional supply this summer भारत के मुख्य चुनाव अधिकारी अशोक लवासा की चंडीगढ़ , पंजाब और हरियाणा के मुख्य चुनाव अधिकारियों के साथ मीटिंग हुई
किरण खेर ने लगातार दूसरी बार कांग्रेस के पवन बंसल को शिकस्त दी
बॉलीवुड एक्ट्रेस और चंडीगढ़ लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर 5000 वोटों से आगे चंडीगढ़ से किरण खेर आगे चल रही है चंडीगढ़ में 11 बजे तक 18.70 फीसदी वोटिंग