Wednesday, August 21, 2019
Follow us on
 
Haryana

HARYANA-ऑनलाइन सिस्टम में खामियां : गेहूं बेचने के एक सप्ताह बाद भी आढ़तियों के खाते में नहीं पहुंची पेमेंट, आढ़ती बोले- सरकार का 72 घंटे में भुगतान का दावा फेल

April 21, 2019 09:18 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR APRIL 21


आई फार्म नहीं हो सके फीड, किसानों के Rs.340 करोड़ अटके
ऑनलाइन सिस्टम में खामियां : गेहूं बेचने के एक सप्ताह बाद भी आढ़तियों के खाते में नहीं पहुंची पेमेंट, आढ़ती बोले- सरकार का 72 घंटे में भुगतान का दावा फेल

अमूमन एक अप्रैल से मंडियों में गेहूं की खरीद शुरू होने का समय निर्धारित है लेकिन इस बार थोड़ा देरी से सीजन शुरू होने के बावजूद भी सरकार व खरीद एजेंसियों द्वारा गेहूं की खरीद, पेमेंट, बारदाना आदि के लिए पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए हैं। जिले की मंडियों में करीब दस दिन से गेहूं की आवक जोरों पर है लेकिन अब किसी भी एजेंसी ने खरीदे गए गेहूं की पेमेंट आढ़तियों के खातों में नहीं डाली है। जिले के किसानों के करीब 340 करोड़ से अधिक की पेमेंट अटक गई है। ऐसे में आढ़ती व किसान परेशान हैं। आढ़तियों के मुताबिक सरकार का 72 घंटे में पेमेंट का दावा भी फेल हो रहा है। अगर एक सप्ताह से अधिक समय लगता है तो सरकार द्वारा ब्याज देने भी बात भी कही गई है। वहीं डीएफएससी का कहना है कि मार्केट कमेटी की ओर से आई फार्म जमा कराने के बाद पेमेंट हो पाएगी। अभी तक आई फार्म भी ऑनलाइन नहीं हो पाए हैं।
मंडियों में 1851860 क्विंटल गेहूं की हो चुकी अावक : जिले की मंडियों में 19 अप्रैल शाम तक कुल 18 लाख 51 हजार 860 क्विंटल गेहूं की आवक हो चुकी है। जिसकी पेमेंट 340 करोड़ 74 लाख 22400 रुपए बनती है। मगर अभी तक किसी भी एजेंसी की ओर से एक भी रुपया नहीं दिया गया है। इसको लेकर आढ़ती एजेंसी कार्यालयों के चक्कर काट रहे हैं वहीं किसान आढ़तियों के पास पेमेंट के लिए चक्कर लगा रहे हैं। किसान रघबीर, मलकीयत सिंह ने बताया कि उन्होंने 13 अप्रैल को गेहूं की फसल बेची थी लेकिन आज तक पेमेंट नहीं मिली है। एजेंसियों के अधिकारियों द्वारा ऑनलाइन सिस्टम के कारण कुछ दिक्कत आने की बात कही जा रही है।
डीएफएससी बोले-ऑनलाइन सिस्टम से हो रही दिक्कत, कल से शुरू करा देंगे पेमेंट
अब फूड सप्लाई को परचेज के आदेश : खरीद केंद्र गुहणा, फर्श माजरा व बाबा लदाना में एक दिन की खरीद के बाद एफसीआई ने कोई दाना नहीं खरीदा। इस पर आढ़तियों व किसानों ने प्रशासन से खरीद सुचारू कराने की मांग की। जिला खाद्य एवं आपूर्ति निदेशालय ने अब एफसीआई से काटकर फूड सप्लाई को खरीद अलॉट की है। इस संबंध में डीएफएसओ ने अलग-अलग परचेज सेंटरों पर खरीद कराने के लिए अधिकारियों को तैनात करने के निर्देश जारी किए हैं। इन तीनों सेंटरों पर बारदाना की कमी से भी आढ़ती परेशान हैं। किसानों के विरोध के बावजूद अब प्रशासन ने खरीद सुचारू कराने के लिए प्रयास किए हैं।
अब तक कितना खरीदा
एजेंसी गेहूं खरीद लिफ्टिंग
फूड सप्लाई 81664 13000
हैफेड 50212 12380
एफसीआई 38146 12211
वेयरहाउस 15164 835
कुल 185186 38426 एमटी
आढ़ती किसान से जे फार्म भरवाता है और पूरे दिन में आए किसानों की डिटेल भरकर आई फार्म मार्केट कमेटी कार्यालय में जमा कराता है। इसकी डिटेल को फीड कराने के लिए कंप्यूटर ऑपरेटर लगाए गए हैं। अभी तक 16 अप्रैल तक के सभी आई फार्म ऑनलाइन फीड हो चुके हैं। उनकी पेमेंट कराई जानी चाहिए थी। -दलेल सिंह, सचिव, मार्केट कमेटी, कैथल।
गेहूं की खरीद इन दिनों जोरों पर चल रही है, लेकिन किसी भी आढ़ती के खाते में पेमेंट नहीं आई है। जबकि नियमानुसार 72 घंटे में पेमेंट आ जानी चाहिए। वैसे तो एक सप्ताह के बाद सरकार ने पेमेंट पर ब्याज देने की बात भी कही है। बताया गया है कि ऑनलाइन सिस्टम में कोई दिक्कत आ रही है। सरकार को जल्द ही पेमेंट का भुगतान कराना चाहिए ताकि किसानों को कोई परेशानी न हो। -जोगध्यान गोयल, पूर्व प्रधान, अनाजमंडी आढ़ती एसोसिएशन।

ऑनलाइन सिस्टम के कारण इस बार गेहूं की पेमेंट में कुछ देरी हो रही है। मार्केट कमेटी की ओर से आई फार्म ही ऑनलाइन फीड नहीं हो पाए हैं। सोमवार से पेमेंट करानी शुरू करा देंगे। वैसे एक सप्ताह के अंदर अंदर पेमेंट करानी जरूरी है। -वरिंद्र सिंह, डीएफएससी, कैथल

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
अब 12वीं पास को भी मिलेगा 900 रुपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता
पांच रुपए में अाधा घंटा चला सकेंगे किराये पर लिया साइकिल, सीएम मनाेहर लाल बुधवार को करेंगे प्रोजेक्ट का उद्घाटन
हरियाणा के इतिहास में 75 का आंकड़ा पार करके सुनहरी अक्षरों में नाम दर्ज करवाने के लिए खट्टर सरकार तैयार
हरियाणा सरकार ने 18 इस्पेक्टरों का तबादला किया
मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची कैथल
हरियाणा सरकार ने जन्माष्टमी की छुट्टी 23 अगस्त को घोषित की
अनुभव अग्रवाल द्वारा मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा का भव्य स्वागत
सत्यदेव नारायण आर्य ने आज साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने वाले 27 संस्कृत साहित्यकारों को 28.86 लाख रूपए की पुरस्कार राशि एवं विभिन्न अलंकरणों से सम्मानित किया राम बिलास शर्मा 21 अगस्त को इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट(आईएचएम), पानीपत के नए परिसर का उद्घाटन करेंगे मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची कांगथली