Saturday, May 25, 2019
Follow us on
Haryana

हरियाणा में केवल 174 रजिस्टर्ड किन्नर मतदाता, एडवोकेट की आर.टी.आई. से खुलासा*

April 20, 2019 03:54 PM

चंडीगढ़ - हरियाणा राज्य में  कुल पंजीकृत मतदाताओं की संख्या जो इस माह 4 अप्रैल तक  1 करोड़ 77 लाख 77 हज़ार 302 है, उनमें से केवल 174  ही ट्रांसजेंडर (किन्नर) मतदाताओं के रूप में रजिस्टर्ड  हैं. यह जानकारी हरियाणा के मुख्य चुनाव  अधिकारी कार्यालय, चंडीगढ़  द्वारा अम्बाला शहर निवासी पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के एडवोकेट हेमंत कुमार द्वारा इस माह 3 अप्रैल को  दायर की गयी एक आर.टी.आई. याचिका के जवाब में दी गयी है. हेमंत ने अपनी आर.टी.आई. में हरियाणा के  हर  90 विधानसभा हलके वार  किन्नर मतदाताओं की रजिस्टर्ड संख्या बाबत जानकारी देने की मांग की थी परन्तु चुनाव कार्यालय द्वारा उन्हें यह सूचना  जिलेवार प्रदान की गयी है. कुल 21  ज़िलों में से ( चरखी दादरी को इसमें शामिल नहीं किया गया है) में से सबसे अधिक रजिस्टर्ड किन्नर मतदाता 25 फरीदाबाद ज़िले में है, इसके बाद 24 सोनीपत ज़िले में है. 19  गुरुग्राम में, 18 पानीपत में, 14 पंचकूला में, 11 मेवात में, सिरसा, जींद, कैथल और अम्बाला प्रत्येक ज़िले में सात-सात, 5 महेंद्रगढ़ में , करनाल, यमुनानगर, फतेहाबाद और  झज्जर प्रत्येक ज़िले में चार-चार , हिसार और भिवानी दोनों ज़िले में तीन-तीन एवं  रेवाड़ी, रोहतक, पलवल और  कुरुक्षेत्र में दो -दो किन्नर मतदाता रजिस्टर्ड है जिससे  इनकी कुल  कुल संख्या 174 बनती है. हेमंत ने बताया हालांकि यह संख्या  इस माह 4 अप्रैल तक की  है जबकि भारतीय चुनाव आयोग की हिदायतों के अनुसार चुनाव के नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया के दस दिन पहले तक, अर्थात हरियाणा में बीती 13 अप्रैल तक नए वोटर अपने आपको  रजिस्टर करवाने के लिए फॉर्म भर सकते  थे, इसलिए हो सकता है इनकी संख्या कुछ और बढ़ जाए. उन्होंने बताया की फाइनल मतदाता सूची नामांकन भरने के आखिरी दिन के बाद जारी की जाती है. चुनाव कार्यालय में इस विषय पर लगायी आर.टी.आई. डाले जाने के पीछे हेमंत ने बताया की जब उन्होंने पिछले माह 10 मार्च को  भारतीय चुनाव आयोग द्वारा 17 लोक सभा चुनावो की घोषणा सम्बन्धी प्रेस विज्ञप्ति देखी, तो उसमें लिखा गया था की वर्ष 2012 से मतदाता सूचियों में ट्रांसजेंडर/किन्नर मतदाताओं को न तो पुरुष   न महिला केटेगरी में बल्कि अन्य की केटेगरी  में दिखाया जा रहा है  एवं चुनाव आयोग में इस बाबत पूरे देश में इन मतदाताओं का आंकड़ा 38 हज़ार 325  बताया था जिसके बाद उन्होंने हरियाणा राजय में यह संख्या जननी चाही परन्तु राज्य की चुनाव विभाग की वेबसाइट पर यह उपलब्ध नहीं था जिस कारण उन्होंने आर.टी.आई दायर कर यह सूचना मांगी.

 
Have something to say? Post your comment