Thursday, July 18, 2019
Follow us on
 
Haryana

HARYANA भंडारण संकट -59 लाख टन अनाज से पहले भरे प्रदेश में गोदाम, कहां रखेंगे 85 लाख टन गेहूं

March 25, 2019 07:24 AM

COURESY DAINIK BHASKAR MARCH 25

59 लाख टन अनाज से पहले भरे प्रदेश में गोदाम, कहां रखेंगे 85 लाख टन गेहूं
भंडारण संकट : प्रदेश में एक अप्रैल से 15 मई तक होगी गेहूं की खरीद, पिछले साल की तरह अबकी बार भी खरीद लक्ष्य 85 लाख टन

सुशील भार्गव | राजधानी हरियाणा
गेहूं का सीजन आ गया है। पहले ही प्रदेश में बने गोदामों व ओपन एरिया में करीब 59 लाख टन गेहूं व धान भरे हुए हैं। जबकि अबकी बार फिर से 85 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
ऐसे में गेहूं खरीदने के बाद कहां रखा जाएगा, यह साफ नहीं है। हालांकि अधिकारी यही कह रहे हैं कि गोदामों मंे रखा अनाज अगले एक या दो महीने में काफी हद तक शिफ्ट कर दिया जाएगा। ऐसे में गेहूं का भंडारण करने में किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी। प्रदेश में एक अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू होगी, जो 15 मई तक चलेगी। अबक बार प्रदेश में करीब 25 लाख हेक्टेयर से अधिक एरिया में गेहूं की बिजाई की गई है। रबी की यह प्रदेश में सबसे बड़ी फसल है। प्रदेश की करीब 385 मंडियों व खरीद केंद्रों मंे गेहूं की खरीद की जाएगी। पिछले साल की तरह अबकी बार भी काफी ठंड पड़ी है और अनुमान लगाया जा रहा है कि इस बार भी गेहूं का बंपर उत्पादन हो सकता है। दूसरी ओर अधिकारियों का कहना है कि समय रहते बारदाना पहुंच जाएगा और किसानों को किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी। किसानों के गेहूं का एक-एक दाना खरीदा जाएगा।
3.10 लाख गांठ बारदाने की जरूरत, अब तक दो लाख टन के इंतजाम भी नहीं
1.20 करोड़ टन कुल भंडारण क्षमता
हरियाणा के गोदामों की कुल केपेसिटी कवर्ड व ओपन में 1.20 करोड़ टन की है। फिलहाल हरियाणा में 38 लाख टन गेहूं कवर्ड व ओपन एरिया में है। जबकि 21 लाख टन चावल है। इन गोदामों को गेहूं के सीजन से पहले खाली करना मुमकिन नहीं होगा। ऐसे में बड़ी दिक्कत हो सकती है कि अनाज को कहां रखा जाएगा।
अबकी बार नहीं बढ़ाया खरीद लक्ष्य
हरियाणा में गत वर्ष गेहूं खरीद का लक्ष्य 85 लाख टन निर्धारित किया गया था, अबकी बार भी 85 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य है। पिछले साल लक्ष्य से अधिक गेहूं मंडियांे में पहुंचा था और 87.56 लाख टन गेहूं की खरीद हुई थी। जो अब तक का गेहूं खरीद का रिकाॅर्ड है।
3.10 लाख गांठ में से बहुत कम पहुंचा बारदाना
अबकी बार प्रदेश में गेहूं की खरीद के बाद गेहूं को जिन कट्‌टों में रखना है, उन कट्‌टों की दरकार 3.10 लाख गांठ की है, जबकि सूत्रों के अनुसार अब तक केवल मात्र 1.96 लाख गांठ ही पहुंच पाई हैं। यदि बारदाना आने में देरी होती है तो गेहूं बेचने में किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि जिस तरह से ठंड पड़ रही है और अचानक गर्मी दस्तक देगी तो एक साथ गेहूं की फसल की कटाई शुरू होगी। ऐसे में मंडियों में भी गेहूं तेजी से पहुंचेगी।
ये बोले किसान संगठन
भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष रत्न मान के अनुसार गेहूं के सीजन में किसी तरह की दिक्कत न हो, इसके लिए सरकार को अभी से प्रयास करने चाहिए। बारदाने की कमी से किसानों के गेहूं की तुलाई समय पर नहीं हो पाएगी। क्योंकि अबकी बार सीजन में गेहूं कटाई का कार्य एक साथ शुरू हो जाएगा। गेहूं मंडियों में तेजी से आएगी। ऐसे में न केवल बारदाने, बल्कि किसानों के लिए मंडियों में किसी तरह की दिक्कत न हो, सभी प्रबंध अभी से करने चाहिए

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
सोनीपत:राहगिरों से लूट का षड़यन्त्र रचते 4 बदमाश काबू
21 जुलाई के मुख्यमंत्री के प्रस्तावित आगमन के दृष्टिïगत तैयारियां पूरी रखें सम्बन्धित अधिकारी:शरणदीप कौर बराड़ प्रदेश में वोट बनवाने के लिए आयोजित किया जाएगा विशेष अभियान:राजीव रंजन
अम्बाला:भव्य और शानदार तरीके से मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस समारोह:शरणदीप कौर बराड़
सिरसा:400 किलोग्राम डोडा पोस्त, 880 ग्राम अफीम बरामद
हरियाणा सरकार ने जिला पंचकूला की ग्राम पंचायत काजमपुर को खण्ड बरवाला से निकाल कर खण्ड रायपुररानी में जोडऩे का निर्णय लिया यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री बसपा प्रमुख मायावती के भाई आनंद पर आयकर का शिकंजा कसा HARYANA-जलभराव से खराब धान की फसल का नहीं मिलेगा बीमा क्लेम नियम बदला : जलभराव पर केवल मक्का का, ओलावृष्टि व भूस्खलन से खराब धान FARIDABAD-5.67 करोड़ से 189 वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगे, कहीं कूड़ा भरा तो किसी में काला पानी बारिश में कैसे होगा वाटर रिचार्ज HARYANA -पुलिस सोती रही और चाेर एटीएम उखाड़कर ले गए, कंट्रोल रूम में बजती रही घंटियां, लोग नहीं पहुंचते तो कैश ले भागते बदमाश