Thursday, July 18, 2019
Follow us on
 
National

मोदीजी खुद के प्रमोशन से अभिभूत हैं, उन्हें नफरत की राजनीति के लिए याद करूंगा: राहुल भास्कर इंटरव्यू - लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का विशेष साक्षात्कार

March 24, 2019 06:41 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR MARCH 24
मोदीजी खुद के प्रमोशन से अभिभूत हैं, उन्हें नफरत की राजनीति के लिए याद करूंगा: राहुल
भास्कर इंटरव्यू - लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का विशेष साक्षात्कार

चुनावी महासमर शुरू हो चुका है। 10 मार्च को लोकसभा चुनाव की घोषणा से अब तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 14 राज्यों का दौरा कर चुके हैं। इन व्यस्तताओं के बीच राहुल गांधी से भास्कर ने बातचीत की। राहुल कहते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी खुद के प्रमोशन और मार्केटिंग से अभिभूत हैं। उनका कहना है कि वे मोदी को नफरत और ध्रुवीकरण की राजनीति के लिए याद करेंगे। पढ़िए, हमारे राजनीतिक संपादक हेमंत अत्री से राहुल गांधी की बातचीत के मुख्य अंश...
भास्कर- कांग्रेस पर परिवारवाद के आरोप लगते रहे हैं। क्या प्रियंका को राजनीति में लाने सेे यह धारणा और मजबूत नहीं होती?
राहुल- मैं खुद अपने दम से काम करता हूं। हिंदुस्तान के लोगों की सेवा के लिए काम करता हूं। प्रियंका को उनकी योग्यता, क्षमता व अनुभव के आधार पर महासचिव बनाया गया। वे अच्छी वक्ता हैं, सबकी बात सुनती हैं। कार्यकर्ताओं से सीधे कनेक्ट करती हैं।
भास्कर- लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए सर्वश्रेष्ठ स्कोर कितनी सीटों को मानेंगे? सीटें कम रहने पर किसी सहयोगी दल के नेता को पीएम स्वीकार करेंगे?
राहुल- ये गठबंधन केवल चुनाव जीतने के लिए नहीं है। यह मौजूदा सरकार की जनविरोधी, गैरप्रजातांत्रिक, सांप्रदायिक और फासिस्ट नीतियों को हराने के लिए है। प्रधानमंत्री का फैसला चुनाव के बाद होगा।
भास्कर- आपने मोदीजी पर "चौकीदार चोर हैalt39 कहकर हमला किया, अब उन्होंने उल्टा इसी को अभियान बना लिया है।
राहुल- यह अभियान सबूत है कि "चौकीदार चोर हैalt39 का हमारा नारा जनता तक पहुंचा है। मोदीजी को अपराधबोध है, तभी भाजपा को इसे काउंटर करने की जरूरत पड़ी। अपने नाम के आगे चौकीदार लिखने वालों के नाम कितने घोटालों में हैं, ये रोज सामने आ रहा है। पीएम से लेकर अमित शाह, पीयूष गोयल, अरुण जेटली, जय शाह जैसे लोग प्रत्यक्ष या परोक्ष तौर पर देश को लूटने वाले लोगों के मददगार हैं या स्वयं आरोपी हैं।
भास्कर- सर्जिकल स्ट्राइक पर कांग्रेसियों के आरोपों ने उन्हें ही बैकफुट पर ला दिया?
राहुल- ये हमला राष्ट्रीय सुरक्षा व खुफिया तंत्र की चूक का सबूत है। हम सब सेना व सरकार के साथ खड़े रहे। परंतु मोदीजी ने राजनीतिकरण कर हम पर निशाने लगाए।
भास्कर- मोदीजी की बतौर प्रधानमंत्री कौन-सी दो अच्छी बातें आपको पसंद हैं? उनकी कमियां क्या हैं? उन्हें बतौर पीएम कैसे याद करेंगे?
राहुल- पीएम में निरंतर झूठ बोलने की योग्यता है। वो खुद के प्रमोशन व मार्केटिंग से अभिभूत हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय को प्रचारमंत्री कार्यालय में बदल दिया है। उन्हेंे आलोचना से नफरत है, सवालों के जवाब नहीं देते। वे पहले पीएम हैं, जिन्होंने 5 साल में कोई प्रेस काॅन्फ्रेंस नहीं की। मैं उन्हें ऐसे प्रधानमंत्री के रूप में याद करूंगा जिसने नफरत, ध्रुवीकरण की राजनीति की।
भास्कर- अगर आप सत्ता में आते हैं तो क्या राम मंदिर बनवाएंगे?
राहुल- मैं दोहराना चाहूंगा कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है। कोर्ट के फैसले को सभी पक्ष मानें व उसे लागू किया जाए।
सरकार हजारों करोड़ का झूठा प्रचार कर दिखा रही है कि देश में सब ठीक है पढ़े | पेज 13 पर
प्रधानमंत्री का चौकीदार अभियान इस बात का सबूत है कि "चौकीदार चोर हैalt39 का हमारा नारा जनता तक पहुंचा है। मोदीजी को अपराधबोध है, तभी भाजपा को इसे काउंटर करने की जरूरत हुई

Have something to say? Post your comment
 
More National News
गुजरात: अल्पेश ठाकोर ने की बीजेपी जॉइन
आईसीजे का फैसला भारत की आधी जीत, जाधव की रिहाई के लिए अभिनंदन जैसी ठोस कार्रवाई की जरूरत
कर्नाटक फ्लोर टेस्ट: डीके शिवकुमार बोले, देश और कोर्ट को गुमराह कर रहे हैं येदियुरप्पा 22 जुलाई की दोपहर 2.43 मिनट पर चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग होगी राज्यसभा में समाजवादी पार्टी ने संभल में 2 सिपाहियों की हत्या का मामला उठाया अयोध्या मामले में 2 अगस्त से ओपन कोर्ट में सुनवाई विदेश मंत्री एस जयशंकर ने राज्यसभा में कहा, कुलभूषण जाधव निर्दोष हैं कुलभूषण जाधव की रिहाई के लिए भारत ने कानूनी लड़ाई लड़ी: एस जयशंकर राज्यसभा में बोले एस जयशंकर- कुलभूषण जाधव को रिहा करे पाकिस्तान महाराष्ट्र: गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी