Sunday, March 24, 2019
Follow us on
National

ट्रंप बोले, पाक के खिलाफ कोई बड़ा कदम उठा सकता है भारत

February 24, 2019 05:02 AM

COURTESY NBT FEB 24

ट्रंप बोले, पाक के खिलाफ कोई बड़ा कदम उठा सकता है भारत


जैश पर कार्रवाई नहीं की, वह तो मदरसा है : पाक• आईएएनएस, इस्लामाबाद : पाक के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने शनिवार को उन भारतीय मीडिया रिपोर्ट को मनगढ़ंत करार दिया, जिनमें जैश-ए-मोहम्मद के मुख्यालय का प्रशासनिक नियंत्रण पाकिस्तान सरकार द्वारा अपने हाथ में लिए जाने की बात कही जा रही है। मंत्री ने दावा किया कि वह केंद्र एक मदरसा है। सरकार के कदम का कश्मीर में आत्मघाती हमले से कोई लेना-देना नहीं है। दरअसल पड़ोसी मुल्क के गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया था कि सरकार ने पंजाब प्रांत के बहावलपुर क्षेत्र में एक मस्जिद और मदरसा परिसर का प्रशासनिक नियंत्रण ले लिया है। इस परिसर को मसूद अजहर का आतंकी मुख्यालय माना जाता रहा है।

•भाषा, नई दिल्ली : पाकिस्तान में सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पीटीआई के सदस्य रमेश कुमार वांकवानी ने दोनों देशों से शांति की अपील की है। उन्होंने कहा कि दोनों मुल्कों के हाथ मिलाने से नई दिल्ली को ज्यादा फायदा होगा। उन्होंने मध्यस्थ की भूमिका निभाने की पेशकश की है। बढ़ते तनाव पर उन्हांेने कहा, ‘इमरान खान की पार्टी ने कहा है कि उनकी सरकार इस तरह की स्थिति नहीं चाहती है।’
पाक के हिंदू सांसद ने की शांति की अपील•भाषा, इस्लामाबाद : पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित हनन को लेकर संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बैचलेट को लेटर लिखा है। कुरैशी का आरोप है कि भारत ने इस मुद्दे से दुनिया का ध्यान भटकाने के लिए पाकिस्तान को पुलवामा आतंकवादी हमले का जिम्मेदार ठहराया है। कुरैशी इस बारे में पहले भी पत्र लिख चुके हैं।


संयुक्त राष्ट्र को लेटर लिख भारत पर आरोप
भारत किसी मजबूत कदम पर विचार कर रहा है। उसने अपने 50 लोगों को खोया है, इसलिए मैं भी इस बात को समझ सकता हूं। - अमेरिकी राष्ट्रपति• भाषा, वॉशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच उपजे तनाव पर चिंता जाहिर की है। उन्होंने हालात को बेहद खतरनाक बताते हुए कहा है कि दोनों पड़ोसी देशों के बीच अभी बहुत भयानक चीज हो रही है। यह बहुत बुरी स्थिति है। हम इसे रुकते देखना चाहेंगे। ट्रंप ने माना कि इस वारदात के बाद भारत कोई बहुत मजबूत कदम उठाना चाहता है और वह उसकी इस इच्छा को समझते हैं।

ट्रंप ने चीन के उप प्रधानमंत्री लियू हे की अगुवाई वाले चीनी प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए संभावना जताई कि आतंकवादी हमले के मद्देनजर भारत मजबूत जवाब दे सकता है। भारत के आत्मरक्षा के अधिकार के बारे में पूछे जाने पर ट्रंप ने कहा, ‘भारत किसी मजबूत कदम पर विचार कर रहा है। मेरा मतलब है कि भारत ने हमले में अपने 50 लोगों को खोया है, इसलिए मैं भी इस बात को समझ सकता हूं।’ दो पड़ोसी देशों के बीच तनावपूर्ण स्थिति के बारे में पूछे गए सवालों पर ट्रंप ने कहा कि अमेरिका इस बारे में बात कर रहा है, जैसा कि कुछ अन्य देश कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने उनका नाम नहीं लिया। इस दौरान ट्रंप ने पाकिस्तान की आलोचना करते हुए कहा कि उसने अमेरिका का बहुत फायदा उठाया है।

 
Have something to say? Post your comment
 
More National News
ये चौकीदार सिर्फ अमीरों की ड्यूटी करते हैं, गरीबों की परवाह नहीं: प्रियंका गांधी बीजेपी नेता बी.सी. खंडूरी के बेटे मनीष को कांग्रेस ने गढ़वाल से टिकट दिया BJP नेता अनुराग ठाकुर को हमीरपुर से फिर टिकट दिया गया महाराष्ट्र के पूर्व CM अशोक चव्हाण एक बार फिर से नांदेड़ से चुनाव लड़ेंगे अरुणाचलः पूर्व CM नबाम तुकी सागले विधानसभा सीट से लड़ेंगे चुनाव कमल हासन की शाम 6 बजे कोयंबटूर में जनसभा, चुनाव लड़ने पर लेंगे फैसला Cancer-struck senior citizen swindled of ₹10cr by daughters Jet’s steep cancellation fee stings flyers बगैर डेबिट कार्ड एटीएम से कैश निकालेंगे एसबीआई ग्राहक एंटी फ्रॉड : फ्रॉड रोकने को एसबीआई की पहल, योनो एप पर पिन जेनरेट करें, तीस मिनट तक वैध रहेगा मोदीजी खुद के प्रमोशन से अभिभूत हैं, उन्हें नफरत की राजनीति के लिए याद करूंगा: राहुल भास्कर इंटरव्यू - लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का विशेष साक्षात्कार