Sunday, March 24, 2019
Follow us on
Haryana

प्रदर्शन के बाद पुलिस ने कश्मीरी छात्रों को भिजवाया पीजी आक्रोश : विभिन्न संगठनों ने बराड़ा में किया प्रदर्शन, शाम को प्रशासन और पुलिस के हस्तक्षेप के बाद लोगों को समझाया

February 17, 2019 05:24 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR FEB 17

प्रदर्शन के बाद पुलिस ने कश्मीरी छात्रों को भिजवाया पीजी
आक्रोश : विभिन्न संगठनों ने बराड़ा में किया प्रदर्शन, शाम को प्रशासन और पुलिस के हस्तक्षेप के बाद लोगों को समझाया

पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर शुक्रवार को मुलाना में प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कश्मीरी स्टूडेंट्स को कमरे खाली करवाने पर मकान मालिकों को मजबूर किया गया।
जैसे ही कश्मीरी छात्रों ने कमरे खाली करने शुरू किए तो प्रशासन हरकत में आया। शनिवार शाम करीब 4 बजे एसडीएम बराड़ा गिरीश कुमार व डीएसपी बराड़ा सुधीर तनेजा मुलाना थाने में पहुंचे और उन्होंने मुलाना सरपंच को बुलाकर सारे मामले की जानकारी ली।
सरपंच ने बताया कि वे किसी भी कश्मीरी स्टूडेंट्स के खिलाफ नहीं हैं। उन्होंने बताया कि कुछ स्टूडेंट्स अपनी फेसबुक पर देश विरोधी टिप्पणियां कर रहे हैं, हम लोग उनके खिलाफ हैं। उन्होंने प्रशासन को बताया कि एक महीने पहले भी मुलाना के लोगों को सूचित किया गया था कि जिनके भी घरों में कश्मीरी छात्र रह रहे हैं, वे उन बच्चों से उनकी आईडी लेकर जमा कराएं, लेकिन आजतक नहीं करवाई गई। उसके बाद एसडीएम व डीएसपी मुलाना सरपंच को लेकर एमएम यूनिवर्सिटी में जाकर कश्मीरी छात्रों से मिले। और उन्हें सुरक्षा का आश्वासन दिलाया। कहा कि उनकी सुरक्षा के लिए 60 पुलिस कर्मी तैनात किए गए हैं।
गर्म कपड़े बेचने वाले कश्मीरियों को क्षेत्र छोड़ने का अल्टीमेटम
अम्बाला सिटी| वहीं बलदेव नगर में कैंडल मार्च निकाल लोगों ने गर्म कपड़े बेचने वाले कश्मीरी व्यापारियों को बलदेव नगर छोड़ कर चले जाने का अल्टीमेटम दिया।
सुबह अपने कमरे छोड़कर जाते कश्मीरी छात्र।
पुलिस को सौंपे दस्तावेज
मुलाना के युवाओं ने शनिवार को भी कुछ ऐसे प्रूफ दिए हैं, जिनमें यह साफ हो रहा है कि कुछ कश्मीरी छात्र आतंकियों के चित्र अपनी फेसबुक पर पोस्ट कर रहे थे। युवाओं ने ये सारे दस्तावेज एसडीएम सहित डीएसपी को भी दिखाए।
पाक का झंडा फूंका
वहीं शनिवार को एमएम डीम्ड यूनिवर्सिटी के बच्चों ने सद्भावना रैली निकाली। जिसमें कश्मीरी छात्र भी शामिल हुए। रैली में दो मिनट मोन रखकर व कैंडल जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी व पाक का झंडा भी जलाया।
डीएसपी ने संस्थान पहुंचे छात्रों को समझाया।
वीडियो को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। कुछ छात्र भारत विरोधी टिप्पणी कर रहे थे, हम उनके खिलाफ हैं। कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और कश्मीरी हमारे भाई हैं। मकान मालिकों को भी आईडी लेने को कहा गया था। नरेश चौहान, सरपंच मुलाना।
स्टूडेंट्स ने एमएमयू में निकाला सद्भावना मार्च।
मुलाना में कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा बढ़ा दी है। प्रशासन के साथ मुलाना सरपंच ने भी उन्हें आश्वासन दिलाया है कि वे मुलाना में कहीं भी रह सकते हैं। गिरीश कुमार, एसडीएम
मुलाना में तनाव वाली कोई बात नहीं हैं। कश्मीरी बच्चों को यहां किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं है। सुरक्षा की दृष्टि से 60 जवान तैनात किए हैं।गलत टिप्पणी करने वालों की जांच की जाएगी। सुधीर तनेजा, डीएसपी बराड़ा।

 
Have something to say? Post your comment