Monday, December 10, 2018
Follow us on
Haryana

दुष्यंत की पार्टी का झंडा हरे-पीले रंग का होगा

December 06, 2018 05:43 AM

COURTESY NBT DEC 6

9 को जींद में जननायक जनता पार्टी के आगाज के साथ ही होगा झंडे का भी अनावरण
दुष्यंत की पार्टी का झंडा हरे-पीले रंग का होगा

 

nएनबीटी न्यूज, रोहतक : हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय चौटाला के पुत्र व युवा आईएनएलडी नेता अर्जुन चौटाला ने अप्रत्यक्ष तौर पर दुष्यंत चौटाला व दिग्विजय चौटाला पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि आज कुछ ऐसे लोग हैं, जो युवाओं के ठेकेदार बनते हैं और युवाओं को आगे लेकर जाने की बात करते हैं। वे कहते है कि हक मांगा नहीं, छीना जाता है। इन ठेकेदारों ने इस बात को ज्यादा ही दिल पर ले लिया है। लेकिन चौटाला साहिब ने यह बात लोगों के हक छीनने के बारे में की थी, लेकिन वे तो अपना हक छीनने पर आ गए। अगर उन्हें कुछ छीनना है तो सरकार से युवाओं का हक छीनें। अर्जुन चौटाला बुधवार को रोहतक स्थित महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी में आईएनएलडी के युवा सम्मेलन में बोल रहे थे। बाद में उन्होंने मेयर पद के लिए आईएनएलडी उम्मीदवार संचित नांदल का नामांकन भी कराया।
परिजनों के साथ दुष्यंत चौटाला•सुरेन्द्र कुमार, जींद

 

आईएनएलडी को अलविदा कहने के बाद अब हिसार सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला ने अपनी नई पार्टी के गठन को अंतिम रूप दे दिया है। चुनाव आयोग में पार्टी रजिस्ट्रेशन की तमाम प्रक्रिया पूरी करने के बाद उन्होंने नई पार्टी का झंडा भी तय कर लिया है। लगभग तय है कि ‘जननायक जनता पार्टी’ दुष्यंत की नई पार्टी का नाम होगा। दुष्यंत की पार्टी का झंडा दो रंगों का होगा, जिसमें हरे और पीले रंग का संगम नजर आएगा। जींद रैली की तैयारियों को लेकर बुधवार को दुष्यंत ने खुद रैली की तैयारियों के लिए नियुक्त किए गए जिला प्रभारियों के साथ-साथ राष्ट्रीय नेताओं के साथ बैठक की।

9 दिसंबर को जींद में होने वाले समस्त हरियाणा सम्मेलन में पार्टी के ऐलान के साथ ही दुष्यंत अपनी नई पार्टी के झंडे का अनावरण भी कर देंगे। रैली स्थल पर भी हरे और पीले रंग का संगम देखने को मिल सकता है। जींद शहर के साथ-साथ रैली स्थल पर लगने वाले होर्डिंग्स और पोस्टरों में भूतपूर्व उपप्रधानमंत्री दिवंगत चौधरी देवीलाल, पूर्व सांसद डॉ़ अजय सिंह चौटाला और खुद दुष्यंत चौटाला की तस्वीरें नजर आएंगी।

दुष्यंत के करीबियों का कहना है कि झंडे के लिए हरे और पीले रंग का चयन बहुत सोच-समझकर किया गया है। हरियाणा की राजनीति के अलावा प्रदेश की कला और संस्कृति के साथ-साथ धार्मिक और सामाजिक भावनाओं के अनुरूप इन रंगों का चयन किया गया है। हरा रंग खुशहाली का प्रतीक माना जाता है। ताऊ देवीलाल को हरा रंग सबसे ज्यादा पसंद था। दुष्यंत ताऊ देवीलाल की विरासत को आगे लेकर चलने की बात कह रहे हैं, ऐसे में उन्होंने अपनी पार्टी के झंडे में हरे रंग को शामिल किया है। इसी तरह से पीले रंग को विकास, विश्वास और ऊर्जा का प्रतीक माना जाता है। प्रदेश में राजनीतिक बदलाव का दावा कर रहे दुष्यंत हरे और पीले रंग के संगम के जरिये प्रदेश के लोगों में नया विश्वास भी पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। बुधवार को अनंतराम तंवर के नेतृत्व में एक दर्जन से ज्यादा नेताओं ने पांडु-पिंडारा गांव में रैली स्थल का दौरा किया।

Have something to say? Post your comment