Monday, December 10, 2018
Follow us on
National

फॉरेन का टूर करने वालों पर इनकम टैक्स विभाग की नजर

December 05, 2018 05:52 AM

COURTESY NBT DEC 5

फॉरेन का टूर करने वालों पर इनकम टैक्स विभाग की नजर
[ जोसफ बर्नाड | नई दिल्ली ]

टैक्स चोरी और ब्लैक मनी को पकड़ने के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने नया अभियान शुरू कर दिया है। डिपार्टमेंट की नजर अब उन लोगों पर है जो विदेशों का टूर करते हैं और वहां पर भारी भरकम शॉपिंग करते हैं। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ऐसे लोगों की आईटी रिटर्न की जांच करेगा और यह पता लगाएगा कि जो आमदनी इन लोगों ने टैक्स रिटर्न में भरा है, क्या यह उनके विदेशी टूर में किए गए खर्च से मेल खाता है। अगर आमदनी कम और खर्च ज्यादा निकलेगा तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट इन लोगों को सीधे नोटिस भेजेगा और इसके बाद नए ब्लैक मनी कानून के तहत इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के सूत्रों के अनुसार, भारत सरकार ने करीब 70 देशों से समझौता कर रखा है। विदेशी टूर की जानकारी इस समझौते के तहत हासिल की जाएगी। उदाहरण के लिए अगर कोई भारतीय ब्रिटेन गया तो उसके बारे में सारी जानकारी ब्रिटेन की एजेंसियों से मिल जाएगी। उस व्यक्ति ने कितने में टिकट खरीदा, किस होटल में वह रहा और कितने की शॉपिंग की, इसकी पूरी जानकारी भारत की एजेंसियां उससे ले सकेंगी। अभी तक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने करीब 5000 भारतीयों की विदेशी टूर की जानकारी इस समझौते के तहत हासिल करने में कामयाबी हासिल की है। जल्द ही इन लोगों को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का नोटिस मिल जाएगा। डिपार्टमेंट के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि ऑटोमेटिक एक्सचेंज ऑफ इन्फोर्मेशन के करार के तहत ये जानकारियां साझा की जा रही हैं।

जवाब देना जरूरी होगा

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि जिस किसी को भी इस बाबत इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का नोटिस मिलेगा, तय समय में उसका जवाब देना जरूरी होगा। अगर विदेशी टूर में किये गये खर्च की जानकारी सही दी गई और छिपाई नहीं गई तो कार्रवाई नहीं की जाएगी। नए ब्लैक मनी कानून के तहत एक राशि से ज्यादा टैक्स चोरी के मामले में उसे हिरासत में भी लिया जा सकता है।

ब्लैक मनी पर हर तरफ से शिकंजा

सीबीडीटी के चेयरमैन सुशील चंद्रा का कहना है कि सरकार हर तरीके से और हर तरफ से ब्लैक मनी पर शिकंजा कसना चाहती है। ऐसे में टैक्स डिपार्टमेंट अपनी तरफ से भरसक प्रयास कर रहा है कि जो लोग अपनी वास्तविक आमदनी छिपाते हैं और टैक्स चोरी करते हैं तो उनको चारों तरफ से घेरा जाए और ईमानदार टैक्स पेयर्स को रिवार्ड दिया जाए।

Have something to say? Post your comment