Thursday, April 25, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
गाजियाबादः बिहार से दिल्ली-एनसीआर में हथियार बेचने वाले 3 हथियार तस्कर गिरफ्तारहमारे लिए तो भारत माता की जय भक्ति और वंदे मातरम् का उद्घोष शक्ति है: मोदीPM मोदीः महामिलावट करने वालों, आपके लिए आतंकवाद मुद्दा नहीं होगा, लेकिन नए भारत में ये बड़ा मुद्दादरभंगा में PM मोदीः ये नया हिंदुस्तान है, ये आतंक के अड्डों में घुसकर मारेगादरभंगा में PM मोदीः जो पाकिस्तान का पक्ष ले रहे थे, वो अब मोदी और ईवीएम को गाली देने लगेचंडीगढ़ः नामांकन से पहले बीजेपी दफ्तर पहुंचे बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर और अनुपम खेर अखिलेश यादव का ट्वीटः जनता ने बीजेपी का नया अर्थ निकाला- भागती जनता पार्टीपीएम मोदी बोले- विपक्ष हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ने की कर रहा तैयारी
Haryana

देश को एकता के सूत्र में पिरोने में सरदार वल्लभ भाई पटेल का सबसे बडा योगदान-अनिल विज

October 31, 2018 04:01 PM
सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर आज माल रोड अम्बाला छावनी पर रन फॉर यूनिटी में  लगभग 4500 प्रतिभागी शामिल हुए। रन फॉर यूनिटी को स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री अनिल विज ने झंडी दिखाकर रवाना किया। इससे पूर्व उन्होने सरदार पटेल के चित्र पर पुष्पांजली भेंट की और प्रतिभागियों को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलवाई। इन प्रतिभागियों में स्थानीय नागरिकों के साथ-साथ जिला प्रशासन के अधिकारी, बडी संख्या में भाजपा के पदाधिकारी और कार्यकर्ता, खेल विभाग के कोच और खिलाड़ी, एनसीसी कैडेट, स्कूली बच्चे, विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधि भी शामिल रहे। कार्यक्रम में हरियाणा पुलिस के 7 फुट 6 इंच के जवान राजेश बलि आकर्षण का केन्द्र रहे। इस मौके पर कार्यक्रम की विशेषता यह रही कि इतनी बडी संख्या में प्रतिभागी होने के बावजूद प्रशासन और कैंटोनमैंट बोर्ड द्वारा स्वच्छता पर विशेष बल दिया गया और कार्यक्रम के समापन के एक दिन बाद पूरे क्षेत्र को पुन: साफ कर दिया गया। उपायुक्त ने स्वास्थ्य मंत्री को सरदार वल्लभ भाई पटेल के चित्र से युक्त स्मृति चिन्ह भेंट किया और इस मौके पर महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान में सहयोग के लिए हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया। इस अभियान में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज भी शामिल हुए। 
उपस्थित प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि देश की आजादी के बाद रियासतों के रूप में अलग-अलग टुकडों में बंटे हुए भारत को एकसूत्र में पिराने जैसा साहसिक और कठिन कार्य सरदार वल्लभ भाई पटेल की दुरदर्शिता से ही संभव हो पाया था। उन्होंने कहा कि आज के दिन पूरे भारत के लिए एक महान दिन है क्योंकि आज के ही दिन सरदार वल्लभ भाई पटेल का जन्म हुआ था जिन्होने स्वतंत्रता संग्राम में लंबा संघर्ष करने के बाद देश को एकता के सूत्र में पिरोने के लिए सबसे महत्वपूर्ण योगदान दिया था। उन्होने कहा कि आजादी के बाद देश 565 छोटी-बडी रियासतों में बंटा हुआ था और इन रियासतों को एक राष्ट्र के सूत्र में पिरोने जैसा कार्य सरदार वल्लभ भाई पटेल ने ही किया था। उन्होने कहा कि पूर्व सरकारों ने सोची-समझी साजिश के तहत सरदार वल्लभ भाई पटेल जैसे अनेक देशभक्तों की अनेदेखी की है और केवल एक ही परिवार को देश की आजादी और विकास का श्रेय दिया जाता रहा है। उन्होने कहा कि वर्तमान सरकार ने सरदार वल्लभ भाई पटेल को सम्मान प्रदान करने की पहल की है। न केवल प्रतिवर्ष उनके जन्मदिवस को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जा रहा है बल्कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से गुजरात में नर्मदा नदी के किनारे पर विश्व की सबसे उंची 182 मीटर उंचाई की सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा भी स्थापित की गई है। उन्होने कहा कि इस प्रतिमा को स्थापित करने में तीन वर्ष का समय लगा है और प्रतिमा के निर्माण के लिए देश के कौने-कौने से किसानों से लोहा एकत्रित किया गया था। उन्होने कहा कि अम्बाला छावनी के किसानों का भी इसमें योगदान शामिल करवाया गया है। उन्होने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल का व्यक्तित्व और देश के निर्माण में जितना बडा योगदान था उनके इस कद के मुताबिक ही विश्व की सबसे उंची प्रतिमा स्थापित की गई। 
श्री विज ने कहा कि श्री पटेल किसानों के सबसे बडे मसीहा थे और उन्होने किसानों के उत्थान के लिए सबसे अधिक काम किया है। उन्होने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल ने पूरा जीवन देश की एकता व विकास के लिए समर्पित किया है। उन्होने कहा कि देश में कुछ ताकतें धर्म, जाति, भाषा और क्षेत्र के नाम पर देश को बांटने का प्रयास कर रही हैं लेकिन सभी भारतवासियों को आज के दिन ऐसी ताकतों के इरादों को विफल बनाने का संकल्प लेने के साथ-साथ यह संकल्प भी लेना होगा कि  वे अपने जाति, धर्म, क्षेत्र और भाषा की पहचान से पहले एक भारतीय है। उन्होने कहा कि सरदार पटेल के जीवन आदर्शों से शिक्षा लेकर सभी को भारत की शक्ति बढाने, देश और समाज के उत्थान में अपना सहयोग करना होगा और यदि सभी भारतवासी एकजूट होकर प्रयास करें तो विश्व की कोई भी शक्ति भारत को विश्व शक्ति बनने से नहीं रोक सकती। इस मौके पर उपायुक्त श्रीमती शरणदीप कौर बराड़, पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार, अतिरिक्त उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह, एसडीएम अम्बाला छावनी सुभाष चन्द्र सिहाग, एसडीएम अम्बाला शहर मीनाक्षी दहिया, नगराधीश सुशील कुमार, नगर निगम के संयुक्त आयुक्त सतेन्द्र सिवाच, डीएसपी बलजीत सिंह, अनिल कुमार, खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के उपनिदेशक अरूण कांत, जिला शिक्षा अधिकारी उमा शर्मा, डीआरओ कैप्टन विनोद शर्मा, तहसीलदार राजेश पूनिया, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक निशांत राठी, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक नरेश सिंगला, कार्यकारी अभियंता डी.डी. कम्बोज, महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती बलजीत कौर, कैन्टोंमैन्ट बोर्ड के उपाध्यक्ष अजय बवेजा, सोम चोपड़ा, बलविन्द्र सिंह शाहपुर, जसबीर जस्सी, ललित चौधरी, राजीव डिम्पल, आशीष तायल, रामबाबू यादव, विकास बहगल, बलकेश वत्स, बिजेन्द्र चौहान, मदन गोपाल शर्मा, कमल किशोर जैन, बी.एस.बिन्द्रा, किरण पाल चौहान, सतपाल ढल्ल, रवि सहगल, सन्नी आनन्द, नरेन्द्र सिंह शेरा, संजीव जैन गोपचा, सुरेन्द्र बिन्द्रा, ललित चौधरी, ललिता प्रसाद, सुरजीत सिंह शाहपुर, बीईओ सुधीर कालड़ा सहित काफी संख्या में अन्य गणमान्य लोग व स्कूली बच्चे मौजूद रहे।
 
Have something to say? Post your comment