Wednesday, November 21, 2018
Follow us on
Chandigarh

फर्स्ट फ्राइडे फोरम में आठ प्रोफेशनल्स को सम्मानित किया गया

October 27, 2018 08:50 AM

फर्स्ट फ्राइडे फोरम ने अपने वार्षिक ऑरेशन-2018 के मौके पर सेक्टर 10-सी में स्थित गर्वनमेंट म्यूजियम एंड आर्ट गैलरी में आर्ट इन आर्किटेक्चर पर एक सिम्पोजियम का आयोजन किया। इस मौके पर आर्कि. कपिल सेतिया, चीफ आर्किटेक्ट, चंडीगढ़ एडमिनिस्ट्रेशन ने स्वागत संबोधन दिया और ऑरेशन के थीम के बारे में भी बताया।

न्यूयॉर्क स्थित आर्कि. अमर मल्ला सिम्पोजियम के मुख्यातिथि थे। अमेरिका में अपने काम और भारत में आर्किटेक्चर को लेकर हो रहे घटनाक्रमों पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि वहां पर कार्य नैतिकता को प्रमुखता और सर्वोच्चता प्रदान की जाती है, पर यहां पर सब बेलगाम ही चल रहा है। प्रक्रियात्मक बाधाओं और व्यापक राजनीतिक नौकरशाही हस्तक्षेप और अपने आप को सर्वोच्च समझने की आदत प्रतिभाओं का हनन कर रही है। ऐसी स्थिति में कुछ भी सार्थक बनाना असंभव है। ले कॉर्बूजिए चंडीगढ़ बनाने में सफल रहे क्योंकि वे विश्व के मान्यता प्राप्त प्रोफेशनल थे और पूरे विश्व में उनका सम्मान था।

उन्होंने शहर के सामने आने वाली कई समस्याओं के बारे में नागरिकों को शिक्षित करने में फोरम की मजबूत भूमिका की सराहना की। उन्होंने अमेरिका में ग्लिम्प्स ऑफ माई वर्क पर नए विचार प्रस्तुत करने वाली एक प्रस्तुति दी, और अपने कई बेहतरीन प्रोजेक्ट्स को दिखाया। मूल रूप से वेरका के रहने वाले, अमर चंडीगढ़ कॉलेज ऑफ आर्किटेक्चर के बेहद प्रतिष्ठित पूर्व छात्रों में से एक है जो 1962-1967 में ग्रेजुएशन करने के बाद विदेश में बस गए थे। उन्होंने विदेश में काम करते हुए अपनी आदर्श रचनात्मकता और प्रोफेशनल नैतिकता पर गर्व किया है और अपने काम के लिए उन्हें कई सम्मान भी मिले हैं। वर्तमान में वह म्यूजिक हॉल, स्नग हार्बर कल्चरल सेंटर, स्टेटन आईलैंड, न्यूयॉर्क (1 करोड़ डॉलर का प्रोजेक्ट) पर काम कर रहे हैं। इस परियोजना ने 2017 में एनवाईसी कमीशन डिजाइन एक्सीलेंस अवॉर्ड और 2018 में प्रिसेंट ऑफ आर्ट अवॉर्ड को जीता है। यह अभी निर्माणाधीन है।

प्रो. विलास तोनापे, गेस्ट ऑफ ऑनर थे, जो कि स्वयं एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त कलाकार और कला शिक्षक हैं, और वे संयुक्त राज्य अमेरिका के नॉर्थ कैरोलाइना के फेयेटविले में मेथोडिस्ट विश्वविद्यालय में डिपार्टमेंट ऑफ आर्ट के चेयरमैन हैं। वे तीस साल से अधिक समय से कलाकृतियां बना रहे हैं, और वे 40 से अधिक ग्रुप और सोलो कला प्रदर्शनियां लगा चुके हैं। न्यूयॉर्क, शिकागो, लॉस एंजिल्स, ओन्टारियो और मुंबई में अलग अलग जगहों पर पर प्रतिष्ठित कला दीर्घाओं में उनका काम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शित किया गया है। तोनापे ने संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत में अपनी कलाकृतियों के लिए कई पुरस्कार जीते हैं। अपने संबोधन में उन्होंने विजुअल आर्ट्स में रचनात्मकता के विभिन्न पहलुओं को बढ़ावा देने और उनको मान्यता प्रदान करने के लिए फर्स्ट फ्राइडे फोरम की इस पहल की सराहना की। कला की दुनिया में अपनी यात्रा को लेकर उन्होंने उपस्थित दर्शकों के साथ अपने प्रेरणादायक विचार साझा किए।

डॉ.एस.एस.भट्टी, संस्थापक, फर्स्ट फ्राइडे फोरम ने आर्ट इन आर्किटेक्चर पर थीम-ऑरेशन दिया, जो पुरातात्विक निष्कर्षों के आधार पर खुलासा करता है कि मनुष्य कुछ और बनने से पहले कलाकार बन गया। ग्राफिक भाषा के रूप में उन्होंने कलात्मक सृजन को मस्तिष्क के दाहिने हेमिसफेयर के भावना और प्राथमिक कार्य की अभिव्यक्ति के रूप में जिम्मेदार ठहराया। उनके अनुसार हर इंसान एक जन्मजात कलाकार है जैसा कि घर की दीवारों पर चारकोल ड्राइंग के लिए बच्चों के कृतियों में देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि अल्टामिरा (स्पेन) और लास्कॉक्स (फ्रांस) में पेंटिंग कलात्मक सृजन के चमत्कार हैं। आधुनिक आदमी अपने सहजता और त्याग के लिए कभी भी पार नहीं कर सकता है। 20 वीं शताब्दी के सबसे महान चित्रकार पाब्लो पिकासो ने यह घोषित किया था कि ‘‘अल्तामिरा के बाद सभी कला निराशाजनक है।’’

डॉ भट्टी ने जोर देकर कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य तथ्य के बावजूद कि आर्किटेक्चर एक महान मदर आर्ट है, लेकिन एक विषय के तौर पर देश भर में अकादमियों की गतिविधियों में शायद ही कभी इसका बनता सम्मान दिया गया हो, जो वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है।

आठ प्रोफेशनल्स को विभिन्न अवॉर्ड्स से सम्मानित किया गया। क्रिएटिव एक्सीलेंस के लिए फर्स्ट फ्राइडे फोरम अवॉर्ड्स [एफएफएफएसीई] को 2006 में उन पेशेवरों / चुनिंदा व्यक्तियों का सम्मान करने के लिए स्थापित किए गए थे, जिन्होंने अपने अद्वितीय तरीकों से उत्कृष्ट कार्य के माध्यम से निर्मित पर्यावरण के सौंदर्य वृद्धि में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। 2017 से दो नए पुरस्कार स्थापित किए गए: एफएफएफ लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड और एफएफएफ राइजिंग स्टार अवॉर्ड।

फर्स्ट फ्राइडे फोरम लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड क्रमश: आर्किटेक्चर और कला के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए आर्कि. अमर मल्ला और प्रोफेसर विलास तोनापे को प्रदान किया गया। डॉ.सुरजीत पातर को ‘सुल्तान-ए-सुखान’ खिताब के साथ मास्टर उर्दू कवि ऋषि पटियालवी मेमोरियल अवॉर्ड दिया गया। अपने संबंधित क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान के लिए और क्रिएटिव उत्कृष्टता के लिए एफएफएफ अवॉर्ड्स नोनिका सिंह (पत्रकारिता), डॉ.संगीता बग्गा मेहता (आर्किटेक्चुरल एजुकेशन), और सुश्री नीतू कत्याल (फोटो आर्ट) को दिए गए। आर्कि. मोहिता गर्ग वशिष्ठ को आर्किटेक्चुरल क्रिएटिविटी में असाधारण ऑल-राउंड प्रतिभा के लिए फर्स्ट फ्राइडे फोरम राइजिंग स्टार अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

आर्कि. अनिल शर्मा, एफएफएफ एक्टिीविटीज एडवाइजर, ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रदान किया। सिम्पोजियम में प्रोफेशनल्स, प्रमुख नागरिकों, मीडिया प्रतिनिधियों, आर्किटेक्चर स्टूडेंट्स, अन्य विषयों के स्टूडेंट्स और जागरूक नागरिकों ने हिस्सा लिया।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
आदर्श पब्लिक स्कूल में फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता आयोजित टी-टॉयज रिटेल चेन ने चंडीगढ़ में खोला अपना पहला खिलौना स्टोर Ministry okays plan for city’s first flyover मिसेज चंडीगढ़ - ए वुमैन ऑफ सब्सटेंस के ऑडिशन चंडीगढ़ और पंचकूला में 11 व 18 नवंबर को होंगे
अगर आप अपने उपर विश्वास करते हैं तो सब कुछ संभव:मीनाक्षी चौधरी
कला, टेक्सटाइल और संस्कृति की शानदार प्रदर्शनी ‘दस्तकारी हाट क्राफ्ट बाजार’ 5 नवंबर, 2018 तक
जीप रैंगलर ने 9वां सेमा '4&4 /एसयूवी ऑफ द ईयरÓ पुरस्कार जीता
ट्रम्प प्रशासन का ईबी 5 वीजा निवेश राशि में बढ़ोतरी का फैसला
चंडीगढ़ फेयर 2018 का पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने किया उद्घाटन
चंडीगढ़वासी नहीं ले पा रहे हैं पर्याप्त नींद - गोदरेज इंटेरियों के स्लीप/10 अध्ययन में खुलासा