Tuesday, November 20, 2018
Follow us on
Chandigarh

सीएलएस ने अपनी वार्षिक लघु कहानी लेखन प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए

October 20, 2018 09:01 PM

चंडीगढ़, 20 अक्टूबर: चंडीगढ़ लिटरेरी सोसाइटी के वार्षिक प्रीमियर साहित्यिक कार्यक्रम, लिटराटी 2018 का 6वां संस्करण 17-18 नवंबर को लेक क्लब में आयोजित किया जाएगा।

 

यह सुचना लेखक और प्रेरक वक्ता, विवेक अत्रे ने सी.एल.एस के वार्षिक लघु कहानी पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान, जो की यु टी गेस्ट हाउस में हुआ, दी।

 

इस बार लिटरेरी लेक क्लब पर इवेंट में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के इलावा कई तरह की संवादात्मक गतिविधियां भी होंगी।

 

उन्होंने कहा कि सी.एल.एस ने लोगों के बीच लिखने का शौंक पैदा किया है और इस क्षेत्र के कई युवा लेखकों ने पिछले कुछ वर्षों में अपने लेखन प्रकाशित करवाए है।

 

विजेताओं ने अपनी लघु कहानियों को पढ़ा और इस अवसर पर शहर के जाने माने लेखक और पत्रकार जुपिंदरजीत सिंह ने और अंतरराष्ट्रीय सम्मान प्राप्त कवित्री लिल्ली स्वर्ण ने भी अपनी रचनाओं के अंश उपस्थित श्रोताओं को पढ़कर सुनाए।

 

अर्पिता भट्टाचार्य ने पहला पुरस्कार जीता, जबकि युविका ग्रेवाल और रश्मी शर्मा ने दूसरा पुरस्कार साझा किया, और डेविड मैथ्यू ने कहानी के लिए तीसरा पुरस्कार जीता। पांच अन्य को उनकी कहानियों के लिए विशेष प्रशंसा मिली, जिनमें देवीयानी सिंह, रिया खुराना, सूरज श्रीवास्तव, सीरत संधू और मनमीत कौर शामिल थे।

 

इस प्रतियोगिता के ज्यूरी मेंबर, प्रमुख लेखक नीलकमल पुरी और नेहा सोई ने भी सम्बोधित किया।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
आदर्श पब्लिक स्कूल में फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता आयोजित टी-टॉयज रिटेल चेन ने चंडीगढ़ में खोला अपना पहला खिलौना स्टोर Ministry okays plan for city’s first flyover मिसेज चंडीगढ़ - ए वुमैन ऑफ सब्सटेंस के ऑडिशन चंडीगढ़ और पंचकूला में 11 व 18 नवंबर को होंगे
अगर आप अपने उपर विश्वास करते हैं तो सब कुछ संभव:मीनाक्षी चौधरी
कला, टेक्सटाइल और संस्कृति की शानदार प्रदर्शनी ‘दस्तकारी हाट क्राफ्ट बाजार’ 5 नवंबर, 2018 तक
जीप रैंगलर ने 9वां सेमा '4&4 /एसयूवी ऑफ द ईयरÓ पुरस्कार जीता
ट्रम्प प्रशासन का ईबी 5 वीजा निवेश राशि में बढ़ोतरी का फैसला
फर्स्ट फ्राइडे फोरम में आठ प्रोफेशनल्स को सम्मानित किया गया
चंडीगढ़ फेयर 2018 का पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने किया उद्घाटन