Saturday, October 20, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
पंजाब में सभी स्कूलों कॉलेजों में कल अवकाश रहेगा,दशहरे पर अमृतसर में हुई रेल ट्रेजिडी के बाद प्रदेश सरकार ने की घोषणाअमृतसर ट्रेन हादसाः हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य जताया दुखअमृतसर ट्रेन हादसाः58 लोगों की मौत हुई,तादाद बढ़ सकती है:पुलिस कमिश्नरमैं कल बताऊगा कितने लोग मरे है:कैप्टन अमरिंदर सिंहसिविल अस्पताल के SMO जतिन अरोड़ा ने कहा- अभी तक मोर्चरी में 40 शव पहुंचेआज लोग मर रहे है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल जाएंगेअमृतसर हादसे में घायल 60 से ज्यादा लोग सिविल हॉस्पिटल में भर्तीः डॉ. संदीपमनोज सिन्हा बोले- स्थानीय प्रशासन ने नहीं दी रावण दहन की जानकारी
Haryana

अम्बाला के गांव सैदांपुर में किसानों को पराली न जलाने के बारे में जागरूक करने के लिए आज एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया

October 12, 2018 06:23 PM
हरियाणा पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा जिला अम्बाला के गांव सैदांपुर में किसानों को पराली न जलाने के बारे में जागरूक करने के लिए आज एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया।
विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इस शिविर में आस पास के गांव के लगभग 100 किसानों ने भाग लिया। शिविर में किसानों को पराली से जैविक खाद तैयार करने की विधि बताने के लिए मेसर्ज वाई.एस. सन्स एग्रोटेक के प्रतिनिधि को भी आमंत्रित किया गया। पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग हरियाणा के वैज्ञानिक ग्रेड-1 डॉ. राधेश्याम शर्मा ने अपने व्याख्यान में किसानों को पराली का विभिन्न तरह से उपयोग करने के तरीकों से अवगत कराया तथा पराली जलाने के गंभीर परिणामों के बारे में भी जानकारी दी। शिविर में किसानों को पराली से जैविक खाद बनाने के तरीके, पराली के जलाने से होने वाले नुकसान के बारे जानकारी सहित विभिन्न ज्ञानवर्धक पाठन सामग्री भी वितरित की गई। 
प्रवक्ता ने बताया किसटेलाईट के माध्यम से पराली जलाने वाले स्थानों को चिन्हित किया जा रहा है। पराली जलाने पर राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के आदेशानुसार 5000 रुपये व 2000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान है। 
इस अवसर पर शिविर में हरियाणा पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग की डॉ० रंजीत कौर, डॉ० भाविका शर्मा व श्री रामचंद्र ने भी किसानों को पराली न जलाने और उसका उचित तरीके से प्रयोग करने की जानकारी दी। 
Have something to say? Post your comment