Saturday, February 16, 2019
Follow us on
National

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ले रहे हैं ऑइल सेक्टर की बैठक, पेट्रोल डीजल पर होगा कोई फैसला?

October 12, 2018 12:39 PM

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में केंद्र की ओर से ढाई रुपये की कटौती और दोबारा मूल्य वृद्धि के बीच आजप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई में ऑइल सेक्टर की अहम बैठक चल रही है। इसमें पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी मौजूद हैं। बड़ा सवाल यह है कि क्या सरकार पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पेट्रोल-डीजल को लेकर कोई बड़ा फैसला कर सकती है? हालांकि, जानकारों का कहना है कि कीमतों को लेकर कोई फैसला होने की संभावना कम है, क्योंकि आचार संहिता लागू होने और वित्तीय हालातों की वजह से सरकार के हाथ बंधे हुए हैं।

गौरतलब है कि क्रूड ऑइल की महंगाई को लेकर देश में पेट्रोल-डीजल के दाम रेकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए हैं। ढाई रुपये की कटौती के बावजूद अधिकतर राज्यों में पेट्रोल 80 रुपये प्रति लीटर से ऊपर बिक रहा है। पिछले दिनों केंद्र सरकार ने एक्साइज ड्यूटी में 1.50 रुपये की कमी की तो तेल कंपनियों को भी प्रति लीटर 1 रुपया कम लेने को कहा गया। इसके बाद कई राज्यों ने भी वैट में कटौती कर ग्राहकों को कुछ राहत दी।

उपभोक्ताओं को भले ही तत्काल कुछ राहत मिली हो, लेकिन तेल कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट देखी गई। हालांकि, वित्त मंत्री अरुण जेटली और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान यह साफ कर चुके हैं कि पेट्रोलियम बाजार के नियंत्रण में ही रहेगा और सरकार पुरानी व्यवस्था दोबारा बहाल नहीं करेगी।

उधर, अमेरिकी प्रतिबंधों की वजह से ईरान से तेल खरीदारी को लेकर भी संकट पैदा हो चुका है। हालांकि, पेट्रोलियम मंत्री ने कहा है कि भारत अपने हितों को ध्यान में रखकर ईरान से तेल खरीदता रहेगा, लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने एक बार फिर भारत को चेतावनी दी है।

Have something to say? Post your comment