Saturday, February 16, 2019
Follow us on
Haryana

गुरुग्राम में वल्र्ड यूनियन आफ होलसेल मार्केट काफं्रेस (व्योम) के पहले दिन के तीसरे सत्र में अंतर बाजार व अंतराल बाजार के एकीकरण पर यूरोपीय देशों के विशेषज्ञों ने विस्तार से अपने विचार सांझा किए

October 11, 2018 07:46 PM

गुरुग्राम में वल्र्ड यूनियन आफ  होलसेल मार्केट काफं्रेस (व्योम)  के पहले दिन के तीसरे सत्र में अंतर बाजार व अंतराल बाजार के एकीकरण पर यूरोपीय देशों के विशेषज्ञों ने विस्तार से अपने विचार सांझा किए। सेंट्रल मार्केट एंड फिशरीज आग्रेनाईजेशन (ग्रीस) के सीईओ आई ट्राईटेंफि लिश ने बताया कि इटली की रोम में 1922, जर्मनी में अस्सी के दशक और फ्रांस व स्पेन की होलसेल मार्केट ने बाजार की मांग के अनुसार अपने को बदलते हुए दुनिया में अग्रणी स्थान बनाया है। विशेषज्ञ एक बात पर सहमति जताते नजर आए कि बाजार एकीकरण के लिए ई-कामर्स व डिजिटलाईजेशन अहम है । साथ ही संबंधित देशों के होलसेल मार्केट को सर्वमान्य लीगल फ्रेमवर्क को अपनाना होगा।

      आई ट्राईटेफि लिश ने कहा कि यूरोप की होलसेल मार्के ट ने उत्पाद की गुणवता और बाजार भाव को सफलता का आधार बनाते हुए घरेलू खपत के साथ-साथ निर्यात  पर विशेष फोकस किया। यूरोपीय मार्के ट के सामने स त  फूड सेफ्टी कानून, गुणवता प्रंबधन, फंडिंग जैसी समस्याएं भी आई, लेकिन बेहतर प्रबंधन और बाजार की मांग के अुनसार अपने प्रोडक्ट की गुणवता बरकरार रखते हुए अपना विस्तार किया।

स्पेन के  रिर्काडो ओपेज, चीन की यू मेंगक्यू, फ्रांस से मार्क स्पीलेरियन सहित अमेरिकन व ग्रीस के वक्ताओं ने बाजार व फू ड होलसेल मार्केट के सामने आ रही नई-नई चुनौतियों के बारे में विस्तार से अपने-अपने देशों के अनुभव सांझा किए। डैन कारमोडी ने फुड होलसेल मार्केट के उत्थान में ई बाजार और डिजिटलाईजन के महत्व के बारे विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि ई-बाजार से उपभोक्ताओं को काफी फायदा मिला है।

 फू ड टे्रडर्स व होल सेलर्स के लिए बाजार की मांग को समझना और आसान हो गया है। उन्होंने कहा कि अलीबाबा व अमेजॉन जैसी ई-कामर्स कंपनियां बी टू सी यानि बिजनेस टू क नज्यूमर मॉडल को अपनाते हुए होलसेल मार्केट में नये आयाम स्थापित कर रही हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि दुनिया भर में ई कामर्स और फू ड की गुणवता बढऩे से ईटिंग हैबिट भी बदल  रही हैं। सब्जी समूह शंघाई के अध्यक्ष मेंगक्यू ने चीन की होल सेल मार्के ट के बारे में जानकारी सांझा की। विशेषज्ञों ने माना कि भारत एक बड़ी मार्केट है तथा यहां भी तेजी से नई तकनीक सृजित हो रही है, जिस कारण भारत दु़निया की मार्केट में अपने उत्पादों की  गुणवता के दम पर अहम दस्तक दे रहा है।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
Services of 629 striking NHM workers terminated in Gurugram फरीदाबाद से ही लड़ूंगा चुनाव : भड़ाना लखनऊ में गुरुवार को फिर से कांग्रेस में शामिल हुए अवतार सिंह भड़ाना सर्व कर्मचारी संघ ने किया आंदोलन का ऐलान HARYANA-डीजीपी के लिए यूपीएससी की मीटिंग, मंगलवार तक भेजा जा सकता है पैनल HARYANA-प्राइमरी स्कूलों के टीचर करा सकेंगे गृह जिलों में ट्रांसफर, गेस्ट-एडहॉक को भेज सकते हैं दूर HARYANA-अपने जिंदा होने का प्रमाण ना देने से अटकी है 44 हजार सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पेंशन HARYANA-700 और एनएचएम कर्मी बर्खास्त, तीन दिन के लिए बढ़ी हड़ताल गन्नौर में एग्री समिट : केंद्रीय मंत्री ने धनखड़ पर कसा तंज सोनीपत के राई में वारदात : स्टेट चैंपियन खिलाड़ी की हत्या पंचकूला-बलटाना बॉर्डर मामला, दोनों डीसी की अध्यक्षता में रेवेन्यु �ऑफिसर्स की मीटिंग