Thursday, December 13, 2018
Follow us on
Haryana

पीजीआई निदेशक नित्यानंद का निलंबन दुर्भाग्यपूर्ण- डा. कौशिक

October 07, 2018 02:07 PM

रोहतक। पंडित भगवतदयाल शर्मा मेडिकल कालेज रेजिडेंट डाक्टर एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डा. गजराज कौशिक ने कहा है कि स्वास्थ्य मंत्री की ओर से पीजीआई रोहतक निदेशक डा. नित्यानंद शर्मा को निलंबित किया जाना चिकित्सा संस्थान के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है, इस पर उन्हें पुन: विचार करना चाहिए। 

उनका कहना था कि डा. नित्यानंद शर्मा राज्य सरकार की ओर से अपनाई जारी रही ‘जीरो टोलरेंस’ की नीति पर कार्य कर रहे थे। डा. शर्मा ने तो बतौर विजिलेंस अधिकारी संस्थान में लंबे समय से चली आ रही अनियमितताओं को उजागर करने का प्रयास किया है। इससे पहले भी डा. नित्यानंद संस्थान के सिक्योरिटी विभाग में करोड़ों रुपए के कथित गोलमाल का पर्दाफाश कर चुके हैं।
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन गोहाना इकाई के अध्यक्ष डा. गजराज कौशिक ने कहा कि डा. नित्यानंद इसी माह रिटायर होने वाले थे। उनके कार्यों को देखते हुए उम्मीद थी कि सरकार उन्हें एक्सटेंशन देगी। मगर ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि बिना किसी मुद्दे की जानकारी लिए बिना निलंबन करना किसी भी संस्थान के लिए सही नहीं है। इसी दृष्टिकोण के चलते 3 वर्ष में 8 निदेशक बदले जा चुके हैं। यह संस्थान के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है, इस पर सरकार को पुनर्विचार कर लेना चाहिए।

Have something to say? Post your comment