Thursday, April 25, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
गाजियाबादः बिहार से दिल्ली-एनसीआर में हथियार बेचने वाले 3 हथियार तस्कर गिरफ्तारहमारे लिए तो भारत माता की जय भक्ति और वंदे मातरम् का उद्घोष शक्ति है: मोदीPM मोदीः महामिलावट करने वालों, आपके लिए आतंकवाद मुद्दा नहीं होगा, लेकिन नए भारत में ये बड़ा मुद्दादरभंगा में PM मोदीः ये नया हिंदुस्तान है, ये आतंक के अड्डों में घुसकर मारेगादरभंगा में PM मोदीः जो पाकिस्तान का पक्ष ले रहे थे, वो अब मोदी और ईवीएम को गाली देने लगेचंडीगढ़ः नामांकन से पहले बीजेपी दफ्तर पहुंचे बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर और अनुपम खेर अखिलेश यादव का ट्वीटः जनता ने बीजेपी का नया अर्थ निकाला- भागती जनता पार्टीपीएम मोदी बोले- विपक्ष हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ने की कर रहा तैयारी
Haryana

अम्बाला शहर से हजारों की संख्या में इनैलो बसपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का जत्था सैकड़ों वाहनों से गोहाना के लिए रवाना हुआ

October 07, 2018 01:13 PM

देश के पूर्व उपप्रधानमंत्री चौ ताऊ देवीलाल की 105 वीं जयंती पर गोहाना (सोनीपत) में आयोजित सम्मान दिवस  रैली में भाग लेने के लिए इनैलो जिलाध्यक्ष शीशपाल जंधेड़ी के नेतृत्व में हल्का अम्बाला शहर से हजारों की संख्या में इनैलो बसपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का जत्था सैकड़ों वाहनों से गोहाना के लिए रवाना हुआ। जत्थे को इनैलो जिलाध्यक्ष शीशपाल जंधेड़ी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान जिलाध्यक्ष शीशपाल जंधेड़ी ने कहा कि आज गोहाना में हो रही इनैलो बसपा की सम्मान दिवस रैली में लाखों लोगों की भीड़ प्रदेश की भाजपा सरकार के चूले हिलाने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि रैली के प्रति लोगों में उत्साह है। महिलाएं भी भारी संख्या में इस रैली में भाग लेंगी। जंधेड़ी ने कहा कि गोहाना की रैली विशाल होगी और यह रैली अपने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ने का काम करेगी। शीशपाल जंधेड़ी ने कहा कि चौधरी देवीलाल जी हमेशा समाज के गरीब, कमेरे तथा किसान वर्ग के उत्थान एवं विकास के लिए संघर्ष करते रहे। उन्होंने जहां समाज में समानता के सिद्धांत को प्रतिपादित करने का प्रयास किया वहीं शासन में रहते हुए गरीब एवं किसान के हितों को सर्वोपरि रखकर नीतियां बनाई।उन्होंने कहा कि जननायक चौ. देवीलाल जी ने हरियाणा रूपी पौधे को अपने खून पसीने सींचा था। इस पौधे का एक एक पत्ता गवाह है कि चौ. देवीलाल जी ने 36 बिरादरियों में कभी भेदभाव नहीं किया वो सभी को अपना मानकर साथ लेकर चले। वे हरियाणा को प्रदेश नहीं अपितु अपना परिवार मानते थे। हरियाणा में हरित क्रान्ति लाकर किसानों के जीवन स्तर को उठाने के लिए अपनी पूरी जींदगी कुर्बान कर दी थी। इस अवसर पर रैली में भाग लेने के लिए रवाना होने इनैलो स्टेट कार्यकारणी सदस्य मक्खन सिंह लबाना, जिला प्रधान महासचिव लाली भानोखेड़ी, हलकाध्यक्ष रामकुमार बटरोहन, दलबीर पुनिया, जसविंदर सकरोहो, बसपा लोकसभा प्रभारी कर्मबीर सेगता, जिला प्रभारी हाकम सिंह, मलकीत भानोखेड़ी, हरपाल कंबोज, संदीप सुल्लर, कर्मचंद, गुरनाम, सुखदेव, गुरमीत, परमजीत भड़ी, दलबीर खैरा,इंदरजीत,हरविंद्र बलाना,  चरनजीत,दरबारा घेल,डॉ ऋषिपाल जनसुआ, काला, अंग्रेज, भूरा,जसपाल, गुलाब बाहपुर, परमजीत, जगशेर, रणजीत नग्गल, अवतार बेगोमाजरा, बलबीर सिंह, मनदीप सैनी, रामचन्द्र, इंद्रमोहन, तेजपाल,सुरेंद्र फौजी,सुन्नी ढिल्लो,कुलदीप, सुरजीत, जसबीर, पिंकी,  कर्मा बिड़गा, हैप्पी, भगवान, रघुवीर सैनी, जीत धुरकड़ा, बलजीत, गुरमीत,माया राम, अवतार केसरी, सतनाम सिंह, बलवान जंधेड़ी व अनिल खटकड़ आदि सदस्य मौजूद रहे।

 
Have something to say? Post your comment