Monday, December 10, 2018
Follow us on
Haryana

कुरुक्षेत्र के कुलपति डॉ.बलदेव कुमार ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम के अन्तर्गत विश्वविद्यालय परिसर को स्वच्छ एवं हरित बनाने के लिए 51 सैक्टरों में विभक्त किया

September 17, 2018 06:25 PM
श्रीकृष्णा आयुष विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र के कुलपति डॉ.बलदेव कुमार ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम के अन्तर्गत विश्वविद्यालय परिसर को स्वच्छ एवं हरित बनाने के लिए 51 सैक्टरों में विभक्त किया है तथा प्रत्येक सैक्टर की उचित देखरेख के लिए 51 टीमों का गठन किया है। 
डॉ० कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आह्वïान पर आज देश में स्वच्छता एक मिशन बन चुका है। इस स्वच्छता अभियान के लिए अब हमारे बच्चे एवं युवा पीढ़ी ब्रांड एम्बेसडर के तौर पर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक टीम में एक प्राध्यायक या वरिष्ठï अधिकारी, 2 कर्मचारी तथा 5 से 7 विद्यार्थियों को शामिल किया गया है। ये टीमें महाविद्यालय, अस्पताल, पुरुष एवं महिला हॉस्टल, विश्वविद्यालय परिसर, रास्ते, खेल के मैदान सहित अन्य स्थानों में स्वच्छता एवं हरियाली का कार्य देखेंगे। इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा इन्हें हर सम्भव सहायता दी जाएगी ताकि सभी टीमें अपने-अपने सैक्टर को पूर्णत: स्वच्छ बनाने का कार्य कर सके। 
कुलपति ने कहा कि हमारी प्राचीन पद्घति आयुर्वेद एवं अन्य विधाओं में स्वस्थता के लिए स्वच्छता अनिवार्य बताई गई है, जिसके लिए व्यक्ति को स्वच्छता अपने स्वभाव से अपनानी चाहिए। जीवन में शारीरिक एवं मानसिक स्वच्छता व्यक्ति को जहां आगे बढऩे में सहयोग करती है वहीं आत्मिक एवं बौद्घिक स्वच्छता उसे समाज में प्रतिष्ठïा प्रदान करती है। इसके लिए महर्षि पतंजलि का अष्टïांग योग व्यक्ति को सभी प्रकार की स्वच्छता प्रदान करने में सहायक होता है, जिसे लोगों को अपने जीवन में अपनाना चाहिए।
इस दौरान कुलसचिव डॉ० कृष्ण जाट्यान ने कहा कि इसके लिए हमने स्वच्छता एवं सौंदर्यकरण समिति का गठन किया गया है, जिसकी देखरेख में विश्वविद्यालय परिसर को साफ-सुथरा बनाने के लिए कोई कमी नही छोड़ी जाएगी। इस कार्य में सभी विद्यार्थियों, स्टाफ तथा प्राध्यापक पूरी तन्मयता से कार्य करेंगे। आयुर्वेदिक महाविद्यालय की प्राचार्या श्रीमती ऊषा दत्त ने कहा कि वे अपने परिसर को जिले का सर्वोत्तम एवं स्वच्छ परिसर बनाने में हर सम्भव प्रयास करेंगे। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के रीडर डॉ० राजेन्द्र चौधरी ने सभी प्राध्यापकों, कर्मचारियों तथा विद्यार्थियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई
Have something to say? Post your comment