Thursday, January 24, 2019
Follow us on
Haryana

आजादी से 67 वर्षों तक देश की स्वच्छता की हुई अनदेखी- अनिल विज

September 17, 2018 05:32 PM
स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री अनिल विज ने कहा कि देश की आजादी के 67 वर्ष तक स्वच्छता जैसे महत्वपूर्ण विषय की अनदेखी की गई है। उन्होंने कहा कि यदि आजादी के बाद से ही देश के प्रथम प्रधानमंत्री द्वारा स्वच्छता पर बल दिया जाता तो आज भारत भी अन्य देशों की तर्ज पर स्वच्छ राष्ट्र की श्रेणी में शामिल हो सकता था। 
श्री विज आज भारत स्वच्छता मिशन के तहत प्रधानमंत्री के आहवान पर 15 सितम्बर से 2 अक्तूबर तक चलाये जा रहे स्वच्छता ही सेवा पखवाड़े के तहत अम्बाला सदर में स्वच्छता अभियान आरम्भ करने से पूर्व स्थानीय लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। इस मौके पर उपायुक्त श्रीमती शरणदीप कौर बराड़ ने उपस्थित लोगों को स्वच्छता की सेवा पखवाड़े में सहयोग देने की शपथ दिलवाई और कहा कि हर व्यक्ति सप्ताह में कम से कम दो घंटे स्वच्छता के लिए श्रमदान करे। 
स्वास्थ्य मंत्री ने उपस्थित लोगों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस की मुबारकबाद दी और प्रधानमंत्री की लंबी आयु की कामना की ताकि वे लंबे समय तक देश का नेतृत्व करके विश्व स्तर पर भारत का परचम लहराते रहें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लाल किले से देशवासियों के नाम अपने प्रथम संदेश में देश को स्वच्छ बनाने का आहवान किया था जिसके फलस्वरूप स्वच्छता के स्तर में सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रयासों से पूरे देश में एक करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण हुआ है और स्वच्छता को लेकर देश के आम व्यक्ति में जागरूकता आई है। उन्होने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने देश की आजादी के संघर्ष के दौरान देशवासियों को स्वच्छता के लिए भी जागरूक किया और वे स्वयं भी शौचालय साफ करके स्वच्छता का संदेश देते थे। उन्होने कहा कि देश को स्वच्छ राष्ट्र बनाना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का सपना था लेकिन आजादी के बाद सरकारों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने 2 अक्तूबर 2019 तक देश को स्वच्छ राष्ट्र बनाने का संकल्प लिया है और इसके लिए हर देशवासी की सहभागिता जरूरी है। 
उन्होंने कहा कि हरियाणा खुले में शौच मुक्त प्रदेश बन चुका है और यहां के युवाओं में भी स्वच्छता को लेकर जागरूकता बढ़ी है। वे न केवल स्वयं स्वच्छता गतिविधियों में भाग ले रहें है बल्कि अपने अभिभावकों को भी स्वच्छता के लिए प्रेरित करते हैं। उन्होंने कहा कि अब देश में खुले में शौच की समस्या पर काफी हद तक नियंत्रण पाया गया है। उन्होंने कहा कि अम्बाला छावनी विधानसभा क्षेत्र को अम्बाला शहरी, महेशनगर और ग्रामीण मंडलों में बांटकर स्वच्छता गतिविधियों के लिए कार्यकर्ताओं की डयूटी लगाई गई है ताकि क्षेत्र के हर घर तक स्वच्छता का संदेश पहुंचाया जा सके। इसके अलावा बाजार एसोसिएशनों, सामाजिक संगठनों व अन्य संगठनों को भी इस अभियान के साथ जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता एक दिन और एक सप्ताह का विषय नहीं है बल्कि इसे प्रतिदिन की दिनचर्या में शामिल करने की आवश्यकता है। 
इस मौके पर उपायुक्त श्रीमती शरणदीप कौर बराड़, अतिरिक्त उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह, एसडीएम सुभाष चंद्र सिहाग, निगम के संयुक्त आयुक्त सत्येन्द्र सिवाच, जीएम रोडवेज गगनदीप सिंह, म्यूनिसिपल इंजिनियर आर.डी. धीमान, तहसीलदार राजेश पूनिया, भाजपा के मंडल अध्यक्ष सोम चोपड़ा, बलविन्द्र सिंह, जसबीर जस्सी, ओम सहगल, खादी बोर्ड के सदस्य मदन लाल शर्मा, कमल किशोर जैन, सन्नी आनंद, अजय बवेजा, डा0 अनिल दत्ता, रवि चौधरी, राजीव डिम्पल, ललिता प्रसाद, सुरेन्द्र बिन्द्रा, ललित चौधरी, अनूप चोपडा, रणधीर सिंह, रवि सहगल, सतपाल ढल, बलकेस वत्स, बी.एस. बिन्द्रा, नरेन्द्र पाल शेरा, विजेन्द्र चौहान, राम बाबू यादव सहित बडी संख्या में भाजपा पदाधिकारी और स्थानीय नागरिक उपस्थित थे। 
 
Have something to say? Post your comment