Saturday, February 16, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा- पुलवामा हमले को लेकर अपने बयान पर कायम हूंभारत की पाकिस्तान पर बड़ी कार्रवाई, 200% तक बढ़ाया गया कस्टम ड्यूटी पुलवामा में CRPF की गाड़ियों पर पहले हुआ था पथराव, 10 मिनट बाद धमाकावायुशक्ति 2019: पाकिस्तान सीमा के पास वायुसेना ने दिखाई ताकत, दो घंटे तक गरजे 137 लड़ाकू विमानमुंबई: क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया ने PAK पीएम इमरान खान की फोटो हटाईJ-K: गवर्नर सत्यपाल मलिक ने राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा कीअसम के सीएम सर्वानंद सोनोवाल ने शहीद जवान के पार्थिव शरीर को दिया कंधाराम बिलास शर्मा ने कहा कि हमें खेतों में अपने किसानों और सीमा पर अपने जवानों पर गर्व है
Haryana

हरियाणा सरकार ने राजकीय प्राथमिक विद्यालय, कसौला, रेवाड़ी का नाम बदलकर राजकीय प्राथमिक विद्यालय, बखापुर (रेवाड़ी) किया

September 03, 2018 06:29 PM
हरियाणा सरकार ने राजकीय प्राथमिक विद्यालय, कसौला, रेवाड़ी का नाम बदलकर राजकीय प्राथमिक विद्यालय, बखापुर (रेवाड़ी) किया है। इसके अलावा, राजकीय प्राथमिक विद्यालय, नाटो का माजरा का नाम बदलकर राजकीय प्राथमिक विद्यालय, जोहड़माजरा खुर्द नटान किया है। 
मौलिक शिक्षा निदेशालय के प्रवक्ता ने इस सम्बंध में बताया कि इस आशय के एक प्रस्ताव को हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने स्वीकृति प्रदान कर दी है। 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
राम बिलास शर्मा ने कहा कि हमें खेतों में अपने किसानों और सीमा पर अपने जवानों पर गर्व है पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को दी श्रद्धांजलि सत्यदेव नारायण आर्य ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सी.आर.पी.एफ.) के जवानों की शहादत पर गहरा शोक प्रकट किया
कैथल:धर्मवीर को लेखां,कलायत को हरियाणा किसान खेत मजदूर कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बनाया
Services of 629 striking NHM workers terminated in Gurugram फरीदाबाद से ही लड़ूंगा चुनाव : भड़ाना लखनऊ में गुरुवार को फिर से कांग्रेस में शामिल हुए अवतार सिंह भड़ाना सर्व कर्मचारी संघ ने किया आंदोलन का ऐलान HARYANA-डीजीपी के लिए यूपीएससी की मीटिंग, मंगलवार तक भेजा जा सकता है पैनल HARYANA-प्राइमरी स्कूलों के टीचर करा सकेंगे गृह जिलों में ट्रांसफर, गेस्ट-एडहॉक को भेज सकते हैं दूर HARYANA-अपने जिंदा होने का प्रमाण ना देने से अटकी है 44 हजार सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पेंशन