Tuesday, October 16, 2018
Follow us on
Haryana

कैप्टन अभिमन्यु ने आज जिला हिसार के गांव बास में लगभग 5 करोड़ रुपये से बनने वाली न्यू बास माइनर परियोजना का शिलान्यास किया

September 02, 2018 04:02 PM

हरियाणा के वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने आज जिला हिसार के गांव बास में लगभग 5 करोड़ रुपये से बनने वाली न्यू बास माइनर परियोजना का शिलान्यास किया। उन्होंने ग्रामीणों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि न्यू बास माइनर के माध्यम से क्षेत्र की 3200 एकड़ भूमि की प्यास बुझाने के लिए 1300 क्यूसिक पानी उपलब्ध होगा। इस परियोजना पर 4.95 करोड़ रुपये की लागत आएगी। बास क्षेत्र की इस वर्षों पुरानी मांग के पूरे होने पर ग्रामीणों ने वित्तमंत्री का भव्य स्वागत किया और पगड़ी पहनाकर उनका अभिनंदन किया।

        वित्तमंत्री ने कहा कि बास गांव की चार पंचायतों की विकास परियोजनाओं पर वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 25 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं जबकि पिछली सरकार के 10 साल के कार्यकाल में पूरे नारनौंद हलके में भी इतने रुपये के विकास कार्य नहीं हुए। उन्होंने कहा कि बास की चारों पंचायतों ने बास को नगर पालिका बनाने के लिए प्रस्ताव पास करके सरकार को दिया है जिसके तहत जल्द ही बास को नगर पालिका का दर्जा मिलने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि मैंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि पालिका बनने के बाद भी जब तक वर्तमान पंचायतों का कार्यकाल शेष है तब तक सभी सरपंच वार्ड पार्षद के रूप में कार्य करते रहें।

        उन्होंने कहा कि बास के सब यार्ड को पूरी मंडी का दर्जा दे दिया गया है। यहां अब सचिव और अन्य अधिकारी बैठेंगे। इसके अलावा बास की तहसील मंजूर हो गई है। यहां नेशनल हाइवे सड़क का काम मंजूर हो गया है। मैं कोशिश कर रहा हूं कि इस क्षेत्र में कोई बड़ा उद्योग लगवा सकूं ताकि युवाओं के लिए रोजगार के मार्ग खुलें। उन्होंने कहा कि मैं क्षेत्र का जो विकास करवा पाया हूं वह आप सभी के सहयोग से ही संभव हो पाया है।

        वित्तमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा किसी परियोजना के लिए किसान की भूमि अधिग्रहीत करने की नीति में बदलाव किया है। अब किसी से जबरन भूमि नहीं ली जाएगी बल्कि किसी परियोजना के लिए जरूरी भूमि संबंधित व्यक्तियों द्वारा स्वेच्छा से ई-पोर्टल के माध्यम से दी जाएगी। इस नीति के तहत न्यू बास माइनर के लिए जमीन उपलब्ध करवाने के लिए किसानों की एकता की मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी सराहना की है। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें जमीन उपलब्ध करवाई जाए तो वे चार महीने में नारनौंद के चारों तरफ बाईपास बनवा सकते हैं। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों क्षेत्र के गांव सिंघवा खास में 2 करोड़ रुपये से 14 सोलर ट्यूबवेल लगवाए गए हैं जो हरियाणा में अपनी तरह की पहली परियोजना है।

        उन्होंने कहा कि नारनौंद हलके का संपूर्ण विकास करवाना उनका सपना है ताकि पिछले 30 साल में न हुए विकास की भरपाई की जा सके। नारनौंद हलके में चार कॉलेज, चार आईटीआई, 100 बिस्तर का अस्पताल, सड़क, मंडियां, पेयजल व सिंचाई परियोजनाओं के अलावा जो अन्य कार्य करवाए गए हैं वे इसी दिशा में किए गए प्रयास हैं। उन्होंने कहा कि 10-10 साल राज करने वालों से पूछो, उन्होंने नारनौंद जैसे हलके तो छोड़ो, क्या अपने हलकों में भी चार-चार कॉलेज या आईटीआई बनवाई हैं। उन्होंने अपने घर तो खूब भरे लेकिन जनता की सुध नहीं ली।

Have something to say? Post your comment