Monday, December 10, 2018
Follow us on
Haryana

रामबिलास का कद बढ़ाकर CM ने एक तीर से किए कई शिकार

August 11, 2018 07:17 AM

COURSTEY NBT AUG 11

दक्षिण हरियाणा में राव इंद्रजीत के मुकाबले रामबिलास की पीठ पर रखा हाथ
रामबिलास का कद बढ़ाकर CM ने एक तीर से किए कई शिकार

 

• कैबिनेट मंत्रियों में रामबिलास शर्मा को कैप्टन अभिमन्यु के समानांतर खड़ा करके कई संदेश देने का काम किया है।• कैबिनेट में रामबिलास के पास अब उनके पास आठ विभाग हो गए हैं और प्रोटोकॉल के हिसाब से वे मुख्यमंत्री के बाद कैबिनेट में दूसरे पायदान पर हैं। मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में से एक माना जाता था।•एनबीटी न्यूज, जींद

हरियाणा सरकार ने शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा को एक और विभाग देकर एक तीर से कई शिकार कर दिए हैं। चुनावी सीजन में इसे सीएम मनोहर लाल का बड़ा दांव माना जा रहा है। कैबिनेट मंत्रियों में रामबिलास शर्मा को कैप्टन अभिमन्यु के समानांतर खड़ा करके कई संदेश देने का काम किया है। अब मनोहर कैबिनेट में रामबिलास के पास अब उनके पास आठ विभाग हो गए हैं और प्रोटोकॉल के हिसाब से वे मुख्यमंत्री मनोहरलाल के बाद कैबिनेट में दूसरे पायदान पर हैं।

हरियाणा में विधानसभा चुनाव के दौरान रामबिलास शर्मा को मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदारों में से एक माना जाता था। रामबिलास शुरू से ही बीजेपी की सक्रिय राजनीति का झंडा उठाए हुए हैं। रामबिलास शर्मा महेंद्रगढ़-नारनौल के क्षेत्र से आते हैं। इसी क्षेत्र में केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत भी अपनी राजनीति को आगे बढ़ाते रहे हैं। आगामी चुनाव के दौरान राव इंद्रजीत ने अपनी बेटी आरती राव के लिए इसी क्षेत्र से टिकट के लिए दबाव बनाना शुरू कर रखा है।

पिछले चुनाव के दौरान कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आने वाले राव इंद्रजीत पिछले कुछ समय से मुख्यमंत्री मनोहर लाल की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए बीजेपी हाईकमान पर दबाव बना रहे हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रामबिलास शर्मा के विभागों में बढ़ोतरी कर दक्षिण हरियाणा के लोगों को बड़ा संदेश देने का काम किया गया है। इससे लोगों में यही संदेश जाएगा कि मुख्यमंत्री खेमे का पूरा समर्थन रामबिलास शर्मा के साथ है। ऐसे में राव इंद्रजीत की राह में इसे बड़ा रोड़ा माना जा रहा है।

दूसरा बीजेपी ने शुरू से ही जाट और गैर जाट की राजनीति की है। पिछले दिनों रामबिलास शर्मा ने रोहतक में जाकर जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान अपनी ही सरकार की खामियों को मीडिया के समक्ष स्वीकार किया था। इसके बाद जातिगत समीकरणों में कुछ बदलाव आया है। मौजूदा सरकार में लंबे समय तक डिप्टी सीएम के पद के दावेदार रहे कैप्टन अभिमन्यु के पास से मुख्यमंत्री के बराबर विभाग थे, जिनमें धीरे-धीरे कटौती की गई है। मौजूदा सरकार ने रामबिलास शर्मा और कैप्टन अभिमन्यु के विभागों को एक समान कर जाति-विशेष को भी कड़ा संदेश देने का काम किया

Have something to say? Post your comment