Monday, October 22, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
एसटीएफ गुरुग्राम टीम इंचार्ज डा0. सुनील कुमार की टीम ने गुप्त सुचना के आधार पर एटीएम मशीन को हैंग करके रुपये निकालने के जुर्म मे चार लोगों को गिरफतार किया गया कानून व्यवस्था सहित जीएम रोडवेज से अम्बाला रोडवेज की व्यवस्था के बारे में विस्तार से जानकारी लेते हुए समीक्षा कीसिद्धू ने राज्य सरकार की ओर से हादसे में मृतकों के परिवारों को बांटे चैकअमृतसर हादसाः NHRC ने पंजाब सरकार और रेल मंत्रालय को तलब कियाराज्य सरकार ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अधिकार क्षेत्र के तहत आने वाले ग्रुप-बी (गैर राजपत्रित) और ग्रुप-सी के विभिन्न पदों के लिए संयुक्त समुह आधारित परीक्षा का संचालन कराने का निर्णय लियाडी एस ढेसी ने प्रदेश के सभी सभी जिलों के अतिरिक्त उपायुक्तों को समग्र शिक्षा की गतिविधियों की प्रतिमाह समीक्षा करने के निर्देश दियेदिल्ली : महिपालपुर में मनी एक्सचेंज दफ्तर पर फायरिंग, 2 घायल अस्‍थाना रिश्वत मामले में अफसर देवेंद्र कुमार को सीबीआई ने किया गिरफ्तार
Haryana

वर्ष 2013 से 2017 तक 94 डिफाल्टर राईस मिलों के विरूद्व एफआईआर दर्ज करवाई गई है, जिनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर रही है: कर्णदेव कांबोज

August 09, 2018 05:43 PM
हरियाणा खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री श्री कर्णदेव कांबोज ने कहा कि वर्ष 2013 से 2017 तक 94 डिफाल्टर राईस मिलों के विरूद्व एफआईआर दर्ज करवाई गई है, जिनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर रही है। श्री कांबोज ने आज यहां पत्रकारवार्ता में बोलते हुए कहा कि कस्टम मिल्ड राईस (सीएमआर) की डिलीवरी पूर्ण रूप से न होने की एवज मे राईस मिलर्स पर कार्रवाई के साथ-साथ संबन्धित निरीक्षक, उपनिरीक्षक, सहायक खाद्य व पूर्ति अधिकारी को नियम 7 के तहत आरोपित करने की कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि राईस मिलर्स द्वारा भारतीय खाद्य निगम को वर्ष 2013-14 में खरीफ फसल का 47352 टन चावल की डिलीवरी बकाया थी, जो लगातार घट कर वर्ष 2014-15 में 21483 टन, वर्ष 2015-16 में 23487 टन व वर्ष 2016-17 में 1736 टन रह गयी है। खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने चावल मिलर्स से रिकवरी के लिए विशेष अभियान चलाया है, जिसके फलस्वरूप हरियाणा सरकार द्वारा गत 2 वर्षों के दौरान करीब 99 प्रतिशत सीएमआर की वसूली हो चुकी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने राज्य के दो राइस मिलर्स से वर्ष 2013-14 तथा वर्ष 2015-16 की बकाया सीएमआर के तौर पर करीब 11 करोड़ रुपये की राशि वसूली है। इसके अलावा उपायुक्त कुरुक्षेत्र द्वारा जिले के 3 अन्य राइस मिलर्स की प्रोपर्टी संलग्न करने के आदेश दिए गये है। इसकी कीमत करीब 25 करोड़ रुपये है। श्री कांबोज ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के हितों को सुरक्षित रखने के लिए न्युनतम समर्थन मूल्य पर बेचे गये धान /गेहूं / बाजरे की समस्त अदायगी किसानों की इच्छानुसार उनके खातों में भेजने की व्यवस्था की है। उन्होंने कहा कि हमने अपने कार्यकाल के दौरान न केवल फसलों की खरीद की मात्रा में बढ़ोतरी की है बल्कि उनके दामों को भी बढ़ाया है। इसके तहत वर्ष 2013-14 में 1350 रुपये प्रति किवंटल की दर से 58.56 लाख एमटी गेहूं खरीदा गया था, जोकि वर्ष 2018-19 में बढकर 1735 रुपये की दर से 87.33 लाख एमटी हो गया। इसी प्रकार वर्ष 2013-14 में 35.87 लाख एमटी धान की खरीद 1310 रुपये तथा 23.7 लाख एमटी ए ग्रेड धान को 1345 रुपये में खरीदा गया, जिसको बढ़ाकर वर्ष 2017-18 में क्रमश: 59.57 लाख एमटी धान को 1550 रुपये व 1590 रुपये में खरीदा गया। इसके अलावा हमारी सरकार ने वर्ष 2017-18 में 1435 रुपये की दर से 0.31 लाख एमटी बाजरा खरीदा गया, जिसको गत सरकार द्वारा खरीदारी नही की गई थी।
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
एसटीएफ गुरुग्राम टीम इंचार्ज डा0. सुनील कुमार की टीम ने गुप्त सुचना के आधार पर एटीएम मशीन को हैंग करके रुपये निकालने के जुर्म मे चार लोगों को गिरफतार किया गया
कानून व्यवस्था सहित जीएम रोडवेज से अम्बाला रोडवेज की व्यवस्था के बारे में विस्तार से जानकारी लेते हुए समीक्षा की राज्य सरकार ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अधिकार क्षेत्र के तहत आने वाले ग्रुप-बी (गैर राजपत्रित) और ग्रुप-सी के विभिन्न पदों के लिए संयुक्त समुह आधारित परीक्षा का संचालन कराने का निर्णय लिया डी एस ढेसी ने प्रदेश के सभी सभी जिलों के अतिरिक्त उपायुक्तों को समग्र शिक्षा की गतिविधियों की प्रतिमाह समीक्षा करने के निर्देश दिये मनोहर लाल मंगलवार 23,अक्तूबर, 2018 को लगभग 85.10 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन कर नई सौगात देंगे पंजाब सरकार ने सीएम के पत्र का अब तक नही दिया कोई जवाब हिमाचल प्रदेश से भी जल्द मदद मिलने की संभावना उत्तर प्रदेश स्टाफ समेत देगा बसें 300 बसों को परमिट जारी करने का काम शुरू उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की 300 बसें जल्द हरियाणा में चलाई जाएंगी सबसे पहले उत्तरप्रदेश सरकार ने बढ़ाया मदद का हाथ