Monday, October 22, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
एसटीएफ गुरुग्राम टीम इंचार्ज डा0. सुनील कुमार की टीम ने गुप्त सुचना के आधार पर एटीएम मशीन को हैंग करके रुपये निकालने के जुर्म मे चार लोगों को गिरफतार किया गया कानून व्यवस्था सहित जीएम रोडवेज से अम्बाला रोडवेज की व्यवस्था के बारे में विस्तार से जानकारी लेते हुए समीक्षा कीसिद्धू ने राज्य सरकार की ओर से हादसे में मृतकों के परिवारों को बांटे चैकअमृतसर हादसाः NHRC ने पंजाब सरकार और रेल मंत्रालय को तलब कियाराज्य सरकार ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अधिकार क्षेत्र के तहत आने वाले ग्रुप-बी (गैर राजपत्रित) और ग्रुप-सी के विभिन्न पदों के लिए संयुक्त समुह आधारित परीक्षा का संचालन कराने का निर्णय लियाडी एस ढेसी ने प्रदेश के सभी सभी जिलों के अतिरिक्त उपायुक्तों को समग्र शिक्षा की गतिविधियों की प्रतिमाह समीक्षा करने के निर्देश दियेदिल्ली : महिपालपुर में मनी एक्सचेंज दफ्तर पर फायरिंग, 2 घायल अस्‍थाना रिश्वत मामले में अफसर देवेंद्र कुमार को सीबीआई ने किया गिरफ्तार
Haryana

आज का युग रिफार्म, परफार्म और ट्रांसफार्म का युग है: प्रो० कप्तान सिंह सोलंकी

August 09, 2018 05:41 PM
आज का युग रिफार्म, परफार्म और ट्रांसफार्म का युग है। यदि सुधार के परिणाम नहीं आते और उनसे समाज में बदलाव नहीं आता तो पूरी प्रक्रिया बेकार है। शिक्षा के क्षेत्र में यह बात अधिक लागू होती है। इसलिए विश्वविद्यालय इस पर खरा उतरने के लिए कमर कस लें। 
ये उदगार हरियाणा के राज्यपाल प्रो० कप्तान सिंह सोलंकी ने आज हरियाणा राजभवन में राज्य विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की बैठक में बोलते हुए व्यक्त किए। बैठक का आयोजन हरियाणा राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद् ने किया था। बैठक में इस समय हरियाणा में उच्चतर शिक्षा की स्थिति का आकलन कर भविष्य के लिए विजन पर विचार-विमर्श किया गया।
      राज्यपाल ने कहा कि शिक्षा में ऐसा सुधार किया जाए कि उससे विद्यार्थियों में कौशल व संस्कार आए और वे परफार्म करें। इसके बाद उसका असर समाज में दिखाई भी दे। इस तरह जो परिवर्तन आएगा वह स्थायी होगा। उन्होंने कहा कि हम जैसा समाज व देश बनाना चाहते हैं उसका प्रारंभ शिक्षा से होता है। इसलिए शिक्षा में गुणवत्ता लाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि देश का भविष्य क्लास रूम में दिखाई देता है। जो कुछ क्लास रूम में हो रहा है उसी में राष्ट्र के भविष्य के बीज छिपे हैं। इसलिए शिक्षक का कत्र्तव्य है कि वह देश की जरूरत के अनुसार शिक्षा प्रदान करे।
      प्रो० सोलंकी ने कुलपतियों से कहा कि वे अपना उद्देश्य समझें, उसके अनुसार योजना बनाएं और उसे कार्यान्वित भी करें। उन्होंने विश्वविद्यालयों को फेसलैस, पेपरलैस और कैशलैस बनाने का आग्रह भी किया। उन्होंने सब विश्वविद्यालयों में समान फीस लागू करने का कोई फार्मूला तैयार करने को भी कहा।
इससे पहले हरियाणा राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद् के अध्यक्ष प्रो0 बी0 के0 कुठियाला ने कहा कि राज्य में उच्चतर शिक्षा की दशा काफी अच्छी है। लेकिन अभी हमें और आगे बढऩा है। उन्होंने कहा कि उच्चतर शिक्षा में लड़कियां की संख्या निरंतर बढ़ रही है। नियमित शिक्षकों की कमी को पूरा करने का प्रयास भी हो रहा है। राज्यपाल के सचिव डॉ० अमित कुमार अग्रवाल ने बैठक में सबका स्वागत किया।
      बैठक में उच्चतर शिक्षा विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती ज्योति अरोड़ा, महानिदेशक अनुराग अग्रवाल आदि उपस्थित थे।
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
एसटीएफ गुरुग्राम टीम इंचार्ज डा0. सुनील कुमार की टीम ने गुप्त सुचना के आधार पर एटीएम मशीन को हैंग करके रुपये निकालने के जुर्म मे चार लोगों को गिरफतार किया गया
कानून व्यवस्था सहित जीएम रोडवेज से अम्बाला रोडवेज की व्यवस्था के बारे में विस्तार से जानकारी लेते हुए समीक्षा की राज्य सरकार ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अधिकार क्षेत्र के तहत आने वाले ग्रुप-बी (गैर राजपत्रित) और ग्रुप-सी के विभिन्न पदों के लिए संयुक्त समुह आधारित परीक्षा का संचालन कराने का निर्णय लिया डी एस ढेसी ने प्रदेश के सभी सभी जिलों के अतिरिक्त उपायुक्तों को समग्र शिक्षा की गतिविधियों की प्रतिमाह समीक्षा करने के निर्देश दिये मनोहर लाल मंगलवार 23,अक्तूबर, 2018 को लगभग 85.10 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन कर नई सौगात देंगे पंजाब सरकार ने सीएम के पत्र का अब तक नही दिया कोई जवाब हिमाचल प्रदेश से भी जल्द मदद मिलने की संभावना उत्तर प्रदेश स्टाफ समेत देगा बसें 300 बसों को परमिट जारी करने का काम शुरू उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की 300 बसें जल्द हरियाणा में चलाई जाएंगी सबसे पहले उत्तरप्रदेश सरकार ने बढ़ाया मदद का हाथ