Wednesday, October 24, 2018
Follow us on
Haryana

जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने हरी झंडी दिखाकर किया रैली को रवाना

August 01, 2018 02:48 PM
सडक़ हादसों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से हरियाणा राज्य विविध सेवाएं प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा बुधवार को रेवाड़ी में सडक़ सुरक्षा सप्ताह जागरूकता अभियान शुरू किया गया। इस अभियान का शुभारंभ जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनीषा बतरा ने सडक सुरक्षा जागरूकता रैली को हरी झंडी दिखाकर किया। इस रैली में विभिन्न स्कूली बच्चों, न्यायधीशों व प्रशासनिक अधिकारियों ने लिया भाग लिया। सडक सुरक्षा जागरूकता अभियान रैली न्यायिक परिसर रेवाडी से मुख्य सडको पर होती हुई बाल भवन पहुंची। बच्चों ने सडक सुरक्षा इस रैली के दौरान हैलमेट का करे उपायोग, नियमपालन में सहयोग, मोबाईल पर है यदि बात करना वाहन को होगा साईड में रोकना, व मत करो इतनी मस्ती जिंदगी नहीं सस्ती, आदि स्लोगन के डिस्पले कार्ड अपने हाथो में लेकर लोगों को सडक सुरक्षा का संदेश दे रहे थे। जिला एवं सत्र न्यायधीश मनीषा बतरा ने इस अवसर पर कहा कि लगातार बढ़ रहे सडक़ हादसे बेहद चिंता का विषय हैं। इसे लेकर संबंधित पुलिस व अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे इस पर अंकुश लगाने के लिए कड़े कदम उठाएं। उन्होंने कहा कि इस सडक सुरक्षा जागरूकता सप्ताह अभियान के दौरान नुक्कड नाटकों के माध्यम से सडक़ सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा। न्यायधीश मनीषा बतरा ने इस मौके पर स्कूली बच्चों को सडक सुरक्षा नियमों के पैम्पलेट भी वितरित किये। रैली समापन के अवसर पर बाल भवन में बच्चो को सम्बोधित करते हुए मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रेवाडी कीर्ति जैन ने बताया कि मनुष्य को जीने के लिए एक ही जीवन मिलता है जो कि अमूल्य है। सडक पर चलते समय तथा वाहन चलाते समय लापरवाही के कारण लोग सडक दुर्घटनाओं में अपनी कीमती जान गंवा देते है व काफी लोग घायल हो जाते है। इस बचाव के लिए सडक सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया गया है। उन्होंने बताया कि सडक पर चलते समय सावधानी रखने के बारे में आमजन को जागरूक करने के लिए इस प्रकार के अभियान चलाये जाते है। उन्होंने बताया कि जिला में सप्ताहभर इस सडक सुरक्षा जागरूकता का अभियान चलाया जाएगा। कीर्ति जैन ने बताया कि सडक़ पर होने वाली दुर्घटनाओं का मुख्य कारण लोगों द्वारा सडक़ यातायात नियमों की अनदेखी करना है। उन्होंने बताया कि तेज़ गति में गाडी चलाना, नशे में ड्राइविंग और गलत दिशा में गाड़ी चलाना आदि दुर्घटनाओं का मुख्य कारण है। सीजेएम ने बताया कि चाहे पैदल यात्री हों या वाहन चालक, सडक़ संबंधी नियमों का पालन सभी के लिए बेहद ज़रूरी है, ताकि आकस्मिक दुर्घटनाओं से बचा जा सके। ऐसे में ज़रूरी है कि आप न सिर्फ सडक सुरक्षा नियमों को जाने, बल्कि इनका पालन भी करें। उन्होंने बताया कि चालक यदि सभी नियमों का सही तरीक़े से पालन करेंगे, तो दुर्घटनाएं कम होंगी। सुरक्षा नियमों का पालन बच्चों को सिखाना बहुत ज़रूरी है और यह तभी संभव है, जब अभिभावक और अध्यापक ख़ुद इन नियमों का पालन करें। कीर्ति जैन ने बताया कि इस अभियान के तहत 2 अगस्त को ब्रास मार्किट रेवाडी में 10 बजे नुक्कड नाटक के माध्यम से सडक सुरक्षा के प्रति जागरूक किया जाएगा तथा इसी दिन 11:30 बजे आरटीए कार्यालय रेवाडी, 3 अगस्त को 9 बजे हरियाणा रोडवेज कार्यशाला रेवाडी में तथा 11 बजे बस स्टैण्ड रेवाडी में, 4 अगस्त को महारणा प्रताप चौक, लियो चौक व झज्जर रोड रेवाडी में, 5 अगस्त को लीगल एैड क्लीनिक गांव व पीएचसी में, 6 अगस्त को 11 बजे राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय आकेडा में व 7 अगस्त को यूरो इंटरनेशनल स्कूल रेवाडी में सडक सुरक्षा के प्रति जागरूकता अभियान चलाकर लोगो को जागरूक किया जाएगा। एसीजेएम मोहित अग्रवाल ने रैली में आये हुए स्कली बच्चों से अपने अनुभव सांझा किये तथा बच्चों से कहा कि वे स्कूटी व बाईक चलाने के लाईसैंस बनवाये तथा ट्रैफिक नियमों का पालन करें। बिना लाईसैंस के स्कूटी व बाईक न चलाये। रैली में जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनीषा बतरा, जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण सचिव एवं सीजेएम कीर्ति जैन, अतिरिक्त जिला सत्र न्यायधीश श्री दीपक अग्रवाल, नरेश कुमार, संजय कुमार खण्डुजा, शैलेन्द्र सिंह, एसीजीएम मोहित अग्रवाल, सीजेएम समप्रीत कौर, जेएमआईसी अम्बरदीप सिंह, याचना, मीनाक्षी यादव, अमनदीप, मौहम्मद इम्तियाज खान, नगराधीश डा. विरेन्द्र सिंह, डीएसपी सतपाल यादव, यातायात प्रभारी हरी सिंह, आरएसओ रमेश वशिष्ट, सहायक सचिव आरटीए सूरत सिंह, परिवहन निरीक्षक नवीन, उप-परिवहन निरीक्षक प्रदीप ने इस रैली में भाग लिया।
Have something to say? Post your comment