Tuesday, September 25, 2018
Follow us on
Haryana

HARYANA-मुख्यमंत्री से मिलने आईं पीड़िताएं बोलीं- हमारे साथ रोजाना होती है छेड़छाड़, हमारी भी सुनवाई करवाओ

July 13, 2018 06:14 AM

COURSTEY DAINIK BHASKAR JULY 13

मुख्यमंत्री से मिलने आईं पीड़िताएं बोलीं- हमारे साथ रोजाना होती है छेड़छाड़, हमारी भी सुनवाई करवाओ

सीएम ने लॉन्च किया दुर्गा शक्ति एप, बोले- क्लिक करते ही 5 मिनट में पुलिस मदद के लिए पहुंचेगी

अमित शर्मा | पंचकूला

सेक्टर-5 स्थित इंद्रधनुष ऑडिटोरियम में हरियाणा पुलिस के अधिकारियों, महिला पुलिसकर्मियों और हरियाणा से आईं महिलाओं के सामने सीएम ने सुरक्षा एप को लॉन्च किया। वहीं महिलाओं की सुरक्षा को लेकर कई घोषणाएं भी की गई, लेकिन कुछ पीड़ित महिलाओं को सीएम से मिलने नहीं दिया गया। जब तक सीएम नहीं गए, तब तक कुछ महिला पुलिसकर्मियों ने महिलाओं को सीएम की गाड़ी तक जाने ही नहीं दिया, जबकि वो बार बार गुहार लगाती रहीं कि उनके साथ रोजाना छेड़छाड़ होती है, हमारी सुनवाई करवाओ।
पानीपत, रेवाड़ी की रहने वाली कुछ महिलाएं यहां सीएम से मिलने के लिए आई थीं, वैसे तो उन्हें यहां कुछ महिलाओं की तर्ज पर कार्यक्रम में शामिल करने के लिए बुलाया था, लेकिन जब ये महिलाएं सीएम के मिलने की बात कह उनके पास जाने लगी तो रोक लिया गया।
मनोहर लाल से न िमलने दिया तो गाड़ी रोकने का किया प्रयास
रेवाड़ी से आई महिला ने बताया कि पड़ोस के लोग परेशान करते हैं, उसके बारे में कई बार शिकायत दी, लेकिन कोई सुनता ही नहीं है। अब यहां सीएम के साथ बात ही नहीं करने दी गई।
पानीपत से आई महिला ने कहा कि पड़ोस के युवक ने उनकी बेटी के साथ रेप किया है, वह नाबालिग है, उसके बाद भी उसके साथ रेप किया गया, पुलिस में शिकायत दी, उसके बाद भी कोई सुनवाई नहीं की गई। इस बारे में किसे बताएं, अब पुलिस आगे नहीं जाने दे रही है। इस दौरान यहां कई महिलाओं को रोक लिया गया, उन्होंने कई बार सीएम के पास जाने की कोशिश की, जब सीएम गाड़ियों में बैठकर निकले तो उसके बाद महिला पुलिसकर्मी हटीं।
प्रदेशभर की इन महिलाओं को किया सम्मानित
पंकज चौधरी, गांव मैनाखेड़ा सिरसा: हरियाणा की प्रथम महिला बस चालक हैं। पिछले 11 वर्षों से स्कूल बस चला रही हैं।
नजमा खान, सरपंच दौंच, फरीदाबाद: समाज व गांव के कल्याण के लिए महत्वपूर्ण कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया है। गांव में 200 लड़कियों को टेलरिंग में प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार के योग्य बनाया। इस गांव में पर्दा प्रथा प्रचलित है।
कविता शर्मा, गांव बधाना, झज्जर: पांच महिलाओं के साथ मिलकर सेनेटरी नैपकिन बनाती हैं और इन नैपकिन को स्कूलों में लड़कियों को निशुल्क बांटती हैं। लड़कियों के लिए यह एक महत्वपूर्ण मुद्दा है।
मंजू कौशिक, महेंद्रगढ़: लड़की के जन्म पर कुंआ पूजन के लिए महिलाओं को प्रेरित करने के लिए सम्मानित किया गया। अब तक 600-700 घरों में लड़कियों के जन्म पर कुंआ पूजन करवाया है।इससे पूर्व भी वह नेशनल यूथ और लक्ष्मीबाई पुरस्कार से सम्मानित हो चुकी हैं।
ऐसे मिलेगी हेल्प
इस एप को हरियाणा पुलिस के आईटी सेल ने बनाया है। जिसके चलते इसमें ऑप्शन रखे हैं कि किसी कॉल या मैसेज को लोकेट करने के लिए अलग से स्टॉफ होगा। ये वो स्टॉफ होगा 1091 पर काम करता है। इसके लिए अलग से सभी पुलिस थानों में गाड़ियां जाएंगी। अगर किसी भी महिला को परेशानी आती है, तो वो इस पर कॉल करेगी, जो कॉल उस एरिया के वूमन हेल्पलाइन डेस्क पर जाएगी। जिसके बाद वहां पर कॉल कर अपनी परेशानी के बारे में बताया जा सकता है। इसके लिए महिला पुलिस थानों में व्हीकल्स को दिया है।
दुर्गा शक्ति रैपिड एक्शन फोर्स को मिले 50 नए वाहन :महिलाओं की सुरक्षा को लेकर गठित की दुर्गा शक्ति रैपिड एक्शन फोर्स को 50 नए वाहन दिए हैं। सीएम ने महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण पर आयोजित कार्यक्रम में इन वाहनों को झंडी दिखाकर रवाना किया। डीजीपी बीएस संधू ने बताया कि इन 50 वाहनों में गुड़गांव और फरीदाबाद जिलों में 6-6 वाहन आवंटित किए है, जबकि अम्बाला, करनाल और सोनीपत में 3-3, पंचकूला, कुरुक्षेत्र, पानीपत, रेवाड़ी, झज्जर, हिसार, फतेहाबाद, सिरसा, यमुनानगर, जींद और रोहतक में 2-2 और भिवानी, पलवल, नूंह, हांसी, चरखी दादरी, नारनौल और कैथल में 1-1 वाहन भेजा है।

Have something to say? Post your comment