Tuesday, March 26, 2019
Follow us on
Haryana

HARYANA सीएम के साथ गेस्ट टीचर्स की वार्ता फेल, 14 को सामूहिक मुंड

July 13, 2018 05:41 AM

COURSTEY DAINIK TRIBUNE JULY 13

सीएम के साथ गेस्ट टीचर्स की वार्ता फेल, 14 को सामूहिक मुंडन
हिसार, 12 जुलाई (निस)

चंडीगढ़ में बृहस्पतिवार को सीएम के साथ वार्ता विफल होने के बाद सीएम हाउस के सामने नारेबाजी करते गेस्ट टीचर्स। -निस
चंडीगढ़ में बृहस्पतिवार को सीएम के साथ वार्ता विफल होने के बाद सीएम हाउस के सामने नारेबाजी करते गेस्ट टीचर्स। -निस

प्रदेश के राजकीय स्कूलों में कार्यरत गेस्ट टीचर्स की बृहस्पतिवार को हुई चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ वार्ता विफल रही, जिससे क्षुब्ध पीडि़त अध्यापकों ने फिर से आंदोलन का ऐलान कर दिया है। 14 जुलाई को प्रदेशभर के गेस्ट टीचर्स दिल्ली में एकत्रित होकर सामूहिक मुंडन कराएंगे। भाजपा के प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन के कहने पर मुख्यमंत्री ने गेस्ट टीचर्स को वार्ता के लिए बुलाया था।
गेस्ट टीचर्स की नेता मैना यादव ने बताया कि सरकार के बुलावे पर गेस्ट टीचर्स का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री व अन्य अधिकारियों से मिलने के लिए गया था। बैठक में गेस्ट टीचर्स ने नियमित करने व नियमित होने पर समान काम- समान वेतन की मांग रखी, जिस पर मुख्यमंत्री ने स्पष्ट इनकार कर दिया। उन्होंने बताया कि सरकार गेस्ट टीचर्स को मात्र 15 या 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी देकर ही बहकाना चाहती है, जबकि गेस्ट टीचर्स को समान काम-समान वेतन से कम कुछ भी मंजूर नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि सीएम ने बैठक में गेस्ट टीचर्स से कहा कि आप कभी नियमित हो ही नहीं सकते। जिससे क्षुब्ध होकर गेस्ट टीचर्स ने आंदोलन का बिगुल बजा दिया है।
मैना यादव ने ऐलान किया कि आगामी 14 जुलाई को दिल्ली स्थित भाजपा के मुख्यालय पर गेस्ट टीचर्स आंदोलन करेंगे और महिला गेस्ट टीचर्स अपनी मांगों को लेकर मुंडन करवाएंगी।
अनिल जैन ने कहा था वार्ता के िलए: मालूम हो 29 जून को गेस्ट टीचर्स ने अपनी मांगों को लेकर दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय पर आंदोलन करते हुए सामूहिक मुंडन का ऐलान किया था, लेकिन वहां पर पहुंचे गेस्ट टीचर्स को मुंडन करवाने से पहले ही भाजपा के प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन ने वार्ता के लिए बुलाया था और मुख्यमंत्री से फोन पर बात कर गेस्ट टीचर्स की बात सुन कर समाधान की बात कही थी, जिसके बाद महिला गेस्ट टीचर्स ने मुंडन के निर्णय को वापस ले लिया था।

 

 
Have something to say? Post your comment