Wednesday, December 19, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
विश्व कल्याण के लिए प्रत्येक युवा को पवित्र ग्रंथ गीता का संदेशवाहक बनना होगा: सुषमा स्वराजIPL नीलामी: ईशांत शर्मा को दिल्ली ने 1.10 करोड़ में और लसिथ मलिंगा को मुंबई ने 2 करोड़ में खरीदा IPL नीलामी: मोहम्मद शमी को पंजाब ने 4 करोड़ 80 लाख में खरीदा IPL नीलामी: मोहित शर्मा को चेन्नई ने 5 करोड़ में खरीदा, राहुल शर्मा नहीं बिकेविदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अम्बाला छावनी में अनिल विज से की मुलाकात- पुरानी यादें की ताजा18 हजार छात्रों ने किया अष्टादश श्लोकी गीता पाठ श्रीमद्भगवद् गीता हमारी प्राचीन संस्कृति की अमूल्य धरोहर है, जोकि ज्ञान, कर्म और भक्ति का बेजोड़ संगम:मंत्री नायब सिंह सैनी आयुष्मान भारत योजना के तहत अभी तक प्रदेश के 1505 मरीजों को करीब 1.90 करोड़ रुपए की चिकित्सा सहायता उपलब्ध करवाई गई:विज
Haryana

एसडीएम रेवाडी ने किया राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल का औचक निरीक्षण

July 12, 2018 04:02 PM

 उपमण्डल अधिकारी ना. जितेन्द्र कुमार ने कहा है कि शिक्षक पढ़ाई के कार्य को पेशे के साथ-साथ समाज की भलाई का कार्य भी समझें। यदि वे शिक्षा के क्षेत्र में पूरी मेहनत और लग्न से कार्य करेंगे तो बच्चों का भविष्य सुधरने से वे देश के अच्छे नागरिक तैयार होंगे। 
    जितेन्द्र कुमार राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक रेवाडी के स्कूल का औचक निरीक्षण कर मूल्याकंन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि स्कूलों में पढ़ाई के क्षेत्र में जो बच्चे कमजोर हैं उन्हें कमजोर न कहकर अच्छा वातावरण दें तथा उन पर स्कूल से पहले व स्कूल के बाद अलग से समय देकर शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढने के लिए प्रेरित करें। ऐसे बच्चे समय-समय पर प्रोत्साहन और प्रेरणा से आगे बढ़ेंगे तथा शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणाम लाकर शिक्षा सुधार की दिशा में अच्छा प्रयास करेंगे। 
उन्होंने बताया कि शिक्षा सुधार का कार्यक्रम हरियाणा सरकार का महत्वपूर्ण फलैगशिप कार्यक्रम हैं तथा समय-समय पर वरिष्ठ अधिकारी इस कार्यक्रम की निगरानी कर रहे हैं, ताकि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करके स्कूली शिक्षा को उच्च मापदंडों पर लाकर परिणाम में सुधार लाया जाए।
    उन्होंने विद्यार्थियों से गणित व हिन्दी के प्रश्न पूछकर विद्यार्थियों के स्तर को जांचते हुए कहा कि अध्यापकों द्वारा विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम अनुसार सही शिक्षा दी जाएं।
    उल्लेखनीय है कि बच्चों के शैक्षणिक स्तर को बढाने के लिए जिला के खोल, बावल रेवाडी व खंड को शैक्षणिक स्तर पर सक्षम बनाने के लिए जिला के अधिकारी स्कूलों की कक्षाओं में जाकर शिक्षा के स्तर में सुधार लाने का कार्य कर रहे है। इसी उद्देश्य से एसडीएम रेवाडी ने कन्या स्कूल में पहुंचकर अपने अनुभव सांक्षा किये व शिक्षा के लिए बच्चों व शिक्षकों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने लर्निग लेवल टैस्ट में गणित व हिन्दी के वस्तुनिष्ठ सवाल भी बच्चों से पूछे। गौरतलब है कि दो अगस्त को लर्निग लेवल एसेस्मैंट टैस्ट होना है इसको लेकर तैयारी की जा रही है। 
    एसडीएम ने बताया कि प्रदेश में शिक्षा गुणवत्ता और रोजगार क्षमता बढ़ाने के लिए सक्षम हरियाणा का अभियान चलाया हुआ है। इसका उद्देश्य स्कूलों में 80 प्रतिशत ग्रेड स्तर की क्षमता हासिल करना है। जितेन्द्र कुमार ने स्कूल में स्थापित कम्प्यूटर लैब का निरीक्षण भी किया। 

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
विश्व कल्याण के लिए प्रत्येक युवा को पवित्र ग्रंथ गीता का संदेशवाहक बनना होगा: सुषमा स्वराज
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अम्बाला छावनी में अनिल विज से की मुलाकात- पुरानी यादें की ताजा
18 हजार छात्रों ने किया अष्टादश श्लोकी गीता पाठ श्रीमद्भगवद् गीता हमारी प्राचीन संस्कृति की अमूल्य धरोहर है, जोकि ज्ञान, कर्म और भक्ति का बेजोड़ संगम:मंत्री नायब सिंह सैनी आयुष्मान भारत योजना के तहत अभी तक प्रदेश के 1505 मरीजों को करीब 1.90 करोड़ रुपए की चिकित्सा सहायता उपलब्ध करवाई गई:विज
गीता से बडा कोई ग्रन्थ नहीं -डॉ बनवारी लाल
गीता जयंती महोत्सव के दूसरे दिन सायंकालीन सत्र का शुभारंभ मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुशल कटारिया ने दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया हरियाणा के सूचना,जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के तीन स्टॉफ रिपोर्टरों की पदौन्नति हुई हरियाणा के उच्चतर शिक्षा विभाग ने डिजीटल इंडिया अभियान में कदम बढ़ाते हुए ‘शिक्षा सेतु’ मोबाइल एप शुरू हरियाणा सरकार ने दो एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी किए