Saturday, January 19, 2019
Follow us on
Haryana

175 करोड़ रूपए खर्च कर होगी करनाल से पंजाब की कनेक्टिविटी

July 11, 2018 09:13 PM
लोगों की दशकों पुरानी मांग करनाल की पंजाब से कनेक्टिविटी को सुगम बनाने के प्रदेश सरकार के प्रस्ताव पर केंद्रीय सडक़, परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने मुहर लगाते हुए करनाल-कैथल-खनौरी रोड को फोरलेन बनाने के प्रस्ताव की मंजूरी प्रदान कर दी है। खुद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को चिट्ठी लिखते हुए इस मार्ग समेत चार मार्गों के लिए केंद्रीय सडक़ निधि के तहत 348 करोड़ रूपए की राशि मंजूर करने की सूचना दी है। अब करनाल से पंजाब जाने में आधे घंटे से अधिक समय की बचत होगी।
प्रदेश में लगातार सडक़ मार्गों के विस्तार में क्रांति ला रही केंद्र एवं प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा करनाल और कैथल की जनता को बडी सौगात देने का काम किया गया है। केन्द्रीय सडक़ परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने हरियाणा में 132.49 किलोमीटर लंबी चार सडक़ों को चौड़ा करने और सुदृढ़ करने के लिए चालू वित्त वर्ष के दौरान केन्द्रीय सडक़ निधि (सीआरएफ) के तहत 348 करोड़ रुपये की मंजूरी प्रदान की है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल को लिखे गए पत्र में बताया गया है कि करनाल-कैथल-खनौरी (स्टेट हाइवे आठ) सडक़ को फोरलेन बनाने के लिए 175 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की गई है। इस राशि से 50 किलोमीटर के सेक्शन के फोरलेन बनने से पंजाब की ओर जाने वाले लोगों को सहूलियत होगी और आधा घंटा समय में भी कटौती होगी। इसी प्रकार, जिला कैथल के ढाण्ड में कैथल-ढाण्ड सडक़, पुराना बाइपास और नया बाइपास को चौड़ा करना, ऊंचा उठाने और मजबूत करने के लिए 18.70 किलोमीटर सेक्शन के लिए 34 करोड़ रुपए की राशि मंजूर की गई है। जिला करनाल में कोंड-मुनक-सालवान-असंध सडक़ को चौड़ा करने और फोरलेन बनाने के लिए 37.85 किलोमीटर टुकड़े के लिए 70 करोड़ रुपए की राशि मंजूर की गई है, वहीं जिले में नीलोखेड़ी-करसा-ढांड सडक़ को चौड़ा कर विस्तार करने के लिए 24.64 किलोमीटर सेक्शन पर 69 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी।
 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
22 को पुलिस आडिटोरियम में होगा नुपूर 2019 का आयोजन 7 किलो 320 ग्राम डोडा पोस्त सहित युवक काबू
औरत का सम्मान करें - डा. केपी सिंह
सभी ग्राम पंचायतें परिवार पहचान पत्र बनवाने में करें प्रशासन का सहयोग, इन पहचान पत्रों के माध्यम से होगा योजनाओं का निर्धारण-अतिरिक्त उपायुक्त 23 जनवरी को बावल में राव इन्द्रजीत सिंह करेगें राव तुलाराम पार्क का उद्घाटन- मंत्री TRIBUNE EDIT-Selection of DGPs And now to make the police citizen-friendly FARMERS-हर साल प्रति हेक्टेयर मिलेंगे "15,000 ! गुजरात-85 लाख करोड़ रुपए निवेश के समझौते हुए। लेकिन वास्तविक निवेश कितना हुआ यह साफ नहीं है। AMBALA-एक ही परिवार के छह सदस्यों को स्वाइन फ्लू HARYANA- अधिकारी दबाए रहते हैं फाइल, 19 करोड़ में से डी-प्लान के 4 करोड़ रुपए ही हुए खर्च कमेटी की एक भी मीटिंग नहीं हुई, विधायक भेजते हैं मनमर्जी के काम