Saturday, July 21, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
पुडुचेरी गैंगरेप मामले में अब तक किसी की गिरफ्तारी नहींओडिशा: भुवनेश्वर में भारी बारिश से सड़कों पर पानी लग गयामनोहर लाल आज गुरुग्राम वासियों को सिन्थैटिक एथलैटिक ट्रैक तथा ऑप्टीकल फाईबर नेटवर्क का तोहफा दिया राज्य सरकार ने हरियाणा के इतिहास में पहली बार मूक एवं बधिर कर्मचारियों को वाहन भत्ता देने का निर्णय लिया:अभिमन्युअलवर लिंचिंग पर बोले राज्यवर्धन राठौड़- ऐसी घटनाओं की देश में जगह नहीं नोएडा सेक्टर 63 में एक निर्माणाधीन इमारत गिरी, एक की मौत तीन घायल उत्‍तराखंड: पिथौरागढ़, ऋषिकेश में हो रही भारी बारिशइनेलो का बसपा के साथ गठबंधन और मोदी के साथ गुप्तबंधन - नवीन जयहिंद
National

Govt notice to IAS topper over tweet Faesal terms it ‘bureaucratic over-enthusiasm’, seeks rule change

July 11, 2018 05:34 AM

COURSTEY THE TRIBUNE JULY 11

Govt notice to IAS topper over tweet
Faesal terms it ‘bureaucratic over-enthusiasm’, seeks rule change
Samaan Lateef

Tribune news service

Srinagar, July 10

The Jammu and Kashmir Government has sent a notice to the 2009 IAS topper, Shah Faesal, over his tweets which it termed were against service conduct rules. It has asked him to explain his stand within 15 days, failing which action will be taken against him as per rules.
“Patriarchy + Population + Illiteracy + Alcohol + Porn + Technology + Anarchy = Rapistan,” Faesal had tweeted on April 22, referring to the frequent rapes or sexual harassment of women across India.
The Centre asked the J&K Government to initiate action against the IAS officer, who is on a study leave to Harvard.
Reacting, Faesal tweeted: “Love letter from my boss for my sarcastic tweet against rape-culture in South Asia. The irony here is that service rules with a colonial spirit are invoked in a democratic India to stifle the freedom of conscience. I’m sharing this to underscore the need for a rule change.” Talking to The Tribune over phone, the IAS officer said, “I see this notice as a case of bureaucratic over-enthusiasm where people who are pushing the files at the top don’t understand the spirit of the times we are living in.”
He added, “I think we need to understand that government employees live in society and they can’t stay completely detached from the moral questions. A ban on their freedom of speech and expression is totally unacceptable.”
Faesal was MD of J&K Power Development Corporation

Have something to say? Post your comment
 
More National News
पुडुचेरी गैंगरेप मामले में अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं ओडिशा: भुवनेश्वर में भारी बारिश से सड़कों पर पानी लग गया अलवर लिंचिंग पर बोले राज्यवर्धन राठौड़- ऐसी घटनाओं की देश में जगह नहीं केरल: केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लिया मध्यप्रदेश: CM शिवराज सिंह के गृह जिले में 12 साल की बच्ची के साथ रेप केरल:केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लिया पुणेः केशवनगर में गिरी इमारत से 8 लोगों को सुरक्षित निकाला गया पुणे: शिवाजी नगर में एक ब्रिज से नीचे गिरा ट्रक, दो की मौत छत्तीसगढ़: NTPC कोरबा के छात्रों को ले जा रहा वाहन पुल से गिरा कल्पेश याग्निक की मौत मामले में पत्रकार सलोनी अरोरा के खिलाफ केस दर्ज