Tuesday, September 25, 2018
Follow us on
Haryana

हैफड द्वारा सूरजमुखी की खरीद के तहत 28 जून से 3 जुलाई तक शहजादपुर खण्ड के तहत विभिन्न गांवों के किसानों की सूरजमुखी खरीदी जायेगी

June 22, 2018 04:31 PM
हैफड द्वारा सूरजमुखी की खरीद के तहत 28 जून से 3 जुलाई तक शहजादपुर खण्ड के तहत विभिन्न गांवों के किसानों की सूरजमुखी खरीदी जायेगी। उन्होंने बताया कि सूरजमुखी की खरीद अम्बाला शहर अनाज मंडी में होगी। यह खरीद आढ़तियों की बजाए सीधी हैफड़ द्वारा की जायेगी और किसानों की फसल के दाम भी सीधे तौर पर किसान के बैंक खाते में डाले जायेंगे। 
हैफड़ के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि सूरजमुखी की खरीद 4100 रुपए प्रति क्विंटल की दर से की जायेगी। उन्होंने कहा कि 28 जून को शहजादपुर खण्ड के गांव शहजादपुर, माजरा बपौली, पंजेटों, कडासन, धमौली, विचली, धमौली, माजरी, हाण्डी खेड़ा, पै्रल, नगांवा, धमौली उपराली, रजौली, रजपुरा, रछेड़ी, 29 जून को गणेशपुरा, शेरपुर, संतोखी, मधरपुरा, जटवाड़, फतेहगढ़, खानपुरा, सादापुर, भडोग, रायेवाली, 30 जून को सिंधपुरा, बोडयों, खेड़ा जाटान, कोडवा खुर्द, नानक माजरा, कोडवा कलां, नगला, नसडौली, पटवी, डैहरी, खेडागनी, 2 जुलाई को गाजीपुर, छज्जू माजरा, सौतली, बेरपुरा, ककड़ माजरा और 3 जुलाई को गांव श्यामडू, तेपला, तसडौली, धनाना, दवकौरा, पतरेहड़ी, धडौली, तानका माजरा, टपरी शहीद, खुर्द व नग्गल के किसानों की सूरजमुखी की फसल खरीदी जायेगी। उन्होंने कहा कि शेष गांवो के लिए खरीद का शैडयूल शीघ्र जारी कर दिया जाएगा। 
उन्होंने बताया कि बताए गए इन गांवो का एक किसान एक दिन में केवल 25 क्विंटल सूरजमुखी बेच सकता है। उन्होंने बताया कि सूरजमुखी में 9 प्रतिशत से अधिक की नमी नही होनी चाहिए। किसान को सम्बन्धित पटवारी से सूरजमुखी की काश्त की गिरदावरी रिपोर्ट के साथ-साथ अपना बैंक खाता, आईएफएससी कोड़, बैंक की पास बुक साथ लानी होगी। इसके साथ-साथ किसान को अपनी पहचान के लिए आधार कार्ड, किसान क्रेडिट कार्ड, राशन कार्ड अथवा मतदाता पहचान पत्र में से किसी एक की सत्यापित प्रति भी प्रस्तुत करनी होगी। उन्होंने बताया कि किसानों को अपनी सूरजमुखी बेचने के लिए आधार कार्ड की सत्यापित प्रति विशेष तौर पर प्रस्तुत करना होगी। उन्होंने कहा कि जिस दिन जिन गांवो की सूरजमुखी खरीदी जाएगी, उन गांवो के पटवारी मंडी में मौजूद रहेंगे। उन्होंने किसानों से अनुरोध किया कि वे फसल को अच्छी तरह सूखाकर लाएं।
Have something to say? Post your comment