Monday, September 24, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
हिमाचल प्रदेश: भूस्खलन के चलते वांगटू और तापती के रास्ते बंदकेरल में अगले 5 दिन भारी बारिश की चेतावनी: मौसम विभागदिल्‍ली : इस सीजन में 343 हुई डेंगू मरीजों की संख्‍या हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश जारी, 24 घंटे के लिए मौसम विभाग का रेड अलर्टहरियाणा पुलिस ने ऐप को लेकर विश्वविद्यालय में चलाया जागरूकता अभियानडॉ. बनवारी लाल ने हिसार में सरकारी जमीनों पर अवैध रूप से चलने वाले रोटी बैंक या इस प्रकार की अन्य गतिविधियों को बंद करवाकर सरकारी जमीन से कब्जा छुड़वाने के निर्देश दिएहरियाणा सरकार ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती 31 अक्तूबर, 2018 को राष्टï्रीय एकता दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लियाजीवन में बढ़ता उतावलापन
Haryana

योग शरीर को स्वस्थ रखने की विद्या है और यह किसी धर्म से जुड़ा हुआ नही है:विज

June 21, 2018 05:18 PM
स्वास्थ्य, खेल एंव युवा कार्यक्रम मंत्री अनिल विज ने कहा कि योग को देश में ही नही विश्व में भी लोग पूरे उत्साह के साथ एक उत्सव के रूप में मना रहे हैं। भारत की यह सबसे उपलब्धि है कि योग की विद्या को विश्व ने भी स्वीकारा है। योग शरीर को स्वस्थ रखने की विद्या है और यह किसी धर्म से जुड़ा हुआ नही है। स्वास्थ्य मंत्री आज चौथे अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस के उपलक्ष में आज पुलिस लाईन मैदान अम्बाला शहर में जिला स्तरीय योग दिवस समारोह में शामिल होने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करने के दौरान कही। स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री अनिल विज के साथ जिला के लगभग 3000 से अधिक महिला, पुरूष और बच्चों ने संयुक्त रूप से योगाभ्यास किया। इस कार्यक्रम का शुभारम्भ स्वास्थ्य मंत्री ने दीपशिखा प्रज्वलित करके किया। इस अवसर पर जिला प्रशासन की ओर से स्वास्थ्य मंत्री को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। स्वास्थ्य मंत्री ने पंतजलि योग समिति के पदाधिकारियों व अन्य गणमान्य लोगों को योग की महत्वता बारे प्रेरित करने के लिए प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित भी किया।
श्री विज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सार्थक प्रयासों और योग गुरू बाबा रामदेव की मेहनत के बल पर योग को अंतर्राष्टï्रीय स्तर पर मान्यता मिलने के बाद भारत में विश्व गुरू का दर्जा पुन: हासिल कर लिया है। उन्होने कहा कि पिछले चार वर्षों से विश्व के 177 देशों ने भारत की 6 हजार वर्ष पुरानी संस्कृति की पहचान योग को अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस के रूप में मना रहे है। उन्होने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ के कार्यालय पर रोशनी करके और अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस लिखा जाना भारत के लिए गर्व की बात है। उन्होने कहा कि योग किसी धर्म और जाति से सम्बन्धित विषय नहीं और विश्व के 50 से अधिक मुस्लिम देशों ने भी योग दिवस मनाया है। उन्होने कहा कि योग का अर्थ मन, आत्मा और शरीर को जोडकर व्यक्ति को एकाग्रता प्रदान करना और विभिन्न बीमारियों से सुरक्षित रखना है। उन्होने कहा कि योग से रक्त संचार सामान्य होता है और व्यक्ति के शारीरिक और मानसिक विकार दुर होते हैं। 
उपायुक्त श्रीमती शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि योग से न केवल व्यक्ति के शारीरिक और मानसिक विकार दूर होते हैं बल्कि योग मन, बुद्घि और शरीर को एकाग्र करके व्यक्ति को सर्वशक्तिमान ईश्वर से जुडने में भी सहयोग देता है। उन्होने कहा कि भारत की प्राचीन जीवनशैली व्यक्ति को स्वस्थ और तनावमुक्त जीवन जीने के लिए प्रेरित करती है और उस शैली से दूर होने के कारण ही शारीरिक और मानसिक समस्याएं बढी हैं। उन्होने कहा कि इस जिला स्तरीय समारोह के आयोजन के लिए प्रशासन द्वारा पिछले कईं दिनों से तैयारियां की जा रही थी और पंतजलि योग समिति के सहयोग और विभिन्न विभागों के अधिकारियों, कर्मचारियों और विद्यार्थियों को योग का प्रशिक्षण दिया जा रहा था। 
पंतजलि योग समिति के प्रदेश संयोजक संजीव धीमान और प्रशिक्षक नीरू अग्रवाल व उनकी टीम ने प्रतिभागियों को खडे होकर, बैठकर और लेटकर किये जाने वाले योग के 20 से अधिक आसनों का अभ्यास करवाया। सभी प्रतिभागियों के लिए जिला प्रशासन द्वारा पेयजल और हल्के नास्ते की व्यवस्था की गई थी। 
इस अवसर पर उपायुक्त श्रीमती शरणदीप कौर बराड़, पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल, अतिरिक्त उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह, निगम आयुक्त धर्मबीर सिंह, एसडीएम सतेन्द्र सिवाच, सुभाष चंद्र सिहाग, नगराधीश सुशील कुमार, सिविल सर्जन डा0 मुकेश, डीआरओ कैप्टन विनोद शर्मा, डीएफओ नरेश रंगा, उपनिदेशक पशुपालन विभाग डा0 प्रेम, मुख्यमंत्री सुशासन अधिकारी अर्चना गुप्ता, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डा0 सतपाल सिंह, भाजपा के जिला अध्यक्ष जगमोहन लाल कुमार, संजय लाकड़ा स्वास्थ्य मंत्री के मीडिया सलाहकार डा0 अनिल दत्ता, पंतजलि योग समिति के प्रदेश प्रभारी संजीव धीमान, जिला प्रभारी, राकेश सैनी सहित बडी संख्या में जिला अधिकारी, कर्मचारी, आगंनवाडी कार्यकर्ता, स्कूलों के विद्यार्थी, पंतजलि योग पीठ के योग अभ्यासी व जिलावासी मौजूद रहे। 
Have something to say? Post your comment