Tuesday, October 16, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
गुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल के स्टैच्यू आफ यूनिटी के अनावरण 1 नवंबर के बाद लोग दर्शन के लिए जाये:रामबिलास शर्मास्टेच्यू ऑफ़ यूनिटी के निर्माण में हरियाणा-पंजाब के किसानों का भी अमूल्य योगदान है: भूपेंद्रसिंह चुडासमागुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल के स्टैच्यू आफ यूनिटी के अनावरण के बारे में जानकारी देते हुए गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिन्ह चूड़ास्माप्रतिदिन 3000 पयर्टक लिफ़्ट के माध्यम से विजिटर गैलेरी में पहुँचेगे:भूपेंद्रसिंह चुडासमास्टेच्यू ऑफ़ यूनिटी के दर्शन प्रतिदिन लगभग 15000 पयर्टक आने की संभावना:भूपेंद्रसिंह चुडासमा13 अक्टूबर 2013 को स्टेच्यू ऑफ़ यूनिटी का शिलान्यास मात्र पांच वर्ष में निर्माण का काम संपन्न हुआ: भूपेंद्रसिंह चुडासमान्यूयॉर्क के स्टेच्यू ऑफ़ लिबर्टी से दोगुनी ऊँचाई:भूपेंद्रसिंह चुडासमापवन पांडेः रॉबर्ट वाड्रा भी उस दिन उसी होटल में थे, वीडियो को वायरल कराया
Haryana

हरियाणा के रिटायर्ड आईएएस अधिकारी प्रदीप कासनी कांग्रेस में हुए शामिल, प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर के साथ राहुल गांधी से मिलने के बाद की घोषणा

June 14, 2018 07:54 PM

चंडीगढ़: हरियाणा के दंबग आईएएस (रिटायर्ड) अधिकारी प्रदीप कासनी आज कांग्रेस में शामिल हो गये । लगभग सभी सरकारों में विभिन्न मुख़्मंत्रियों की आंख में खटकते रहे प्रदीप कासनी का मौजूदा बीजेपी सरकार के साथ भी 36 का आंकड़ा रहा है ।
प्राप्त जानकारी के अनुसार अपने 34 साल के सरकारी सेवाकाल के दौरान 71 तबादले झेलने वाले प्रदीप कायनी आज दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिले और इसके बाद उन्होंने कांग्रेस की विधिवत सदस्यता लेने का एलान कर दिया ।

इसी साल 28 फरवरी को रिटायर होने वाले प्रदीर कासनी का विवादों के साथ चोली दामन का साथ रहा है । मौजूदा बीजेपी सरकार के दौरान भी कासनी को लगातार परेशान किया गया । अपनी ईमानदारी और बेबाक टिप्पणियों के लिए मशहूर प्रदीप कासनी का पूरा सेवा काल नेताओं के साथ उलझते हुए बीता है । गलत या असंवैधानिक काम करने से साफ इंकार करने में जरा देर न करने वाले और नेताओं को सच का आईना दिखाते रहे प्रदीप कासनी ने आखिर कार राजनैतिक जीवन में कूदने का फैसला लेकर सभी को चौंका दिया है । किसी को भनक तक नही थी कि प्रदीप कासनी एकाएक कांग्रेस का हाथ थाम लेंगे ।
जानकारी के मुताबिक प्रदीप कासनी हरियाणा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष डा. अशोक तंवर के नेतृत्व में आज शाम ही नई दिल्ली में राहुल गांधी के निवास पर पहुंचे और कांग्रेस की नीतियों में अपना आस्था व्यक्त की । इस मौके पर उनके साथ जेएनयू के दिग्गज छात्र नेता और दलित एक्टिविस्ट प्रदीप नरवाल और नारायणगढ़ के प्रसिद्ध कानूनविद एडवोकेट सुखविंदर नारा भी थे ।
प्रदीप कासनी की प्रदेश में अपनी एक अलग छवि रही है और उन्हें एक दबंग अफसर के रूप में जाना जाता है । इससे कांग्रेस को जहां एक मजबूत कंधा मिला है , वही अशोक तंवर की ताकत में भी इजाफा होगा ।
इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि प्रदीप कासनी जैसे जूझारू , संघर्षशील व ईमानदार व्यक्ति के कांग्रेस में आने से पार्टी की ताकत बढ़ेगी । उन्होंने कहा कि पार्टी में प्रदीप कासनी के मान सम्मान का पूरा ध्यान रखा जाएगा और उन्हें उनके कद के हिसाब से यथायोग्य जिम्मेदारी भी दी जाएगी । प्रदीप कासनी ने भी कहा है कि वे राहुल गांधी के संघर्ष और कुशल नेतृत्व से प्रभावित होकर कांग्रेस में शामिल हुए हैं । उन्होंने कहा कि डा. अशोक तंवर जैसे नेता के दमदार नेतृत्व में कांग्रेस सत्ता में लौटेगी ।
प्रदीप कासनी के पिता धर्म सिंह एक जूझारू पत्रकार थे और उन्होंने 1991 में कांग्रेस के टिकट पर भिवानी जिले के बाढ़ड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था ।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News