Wednesday, October 17, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
केरल: नन रेप मामले में आरोपी बिशप जेल से बाहर, कल मिली थी सशर्त बेलकरनाल में करीब 100 एकड़ में ‘फार्मा पार्क’ का निर्माण किया जाएगा:विपुल गोयलहरियाणा सीएसआर समिट (कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी) का आयोजन 12 नंवबर को किया जायेगासमाज के निर्माण में अधिवक्ताओं का अहम योगदान होता है:मनोहर लालराम बिलास शर्मा ने हरियाणा उर्दू अकादमी के डायरेक्टर डॉक्टर नरेंद्र कुमार उपमन्यु द्वारा लिखित एवं संपादित दो किताबों हरियाणा के प्रमुख तीर्थ स्थल एवं हिंदुस्तान की महान हस्तियां का चंडीगढ़ में अपने निवास पर विमोचन किया।चंडीगढ़ में आज हरियाणा उर्दू अकादमी के डायरेक्टर डॉ नरेंद्र उपमन्यु ने हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य से शिष्टाचार भेंट कीकरनाल के कुंजपुरा के सैनिक स्कूल में कक्षा 6वीं तथा 9वीं कक्षाओं में प्रवेश हेतू अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा का आयोजन आगामी 6 जनवरी, 2019 को होगाकोरियर कंपनी के कार्यालय से लाखों रूपये नगदी चोरी करने वाला कंपनी का सुपरवाइजर ही निकला चोर
Delhi

पीड़िता के नाम से ‘शपथ पत्र’ सार्वजनिक कर सवालों में घिरे दाती महारा

June 14, 2018 06:06 AM

COURSTEY NBT JUNE 14

आसाराम केस के बाद लिखवाने लगे थे ऐसे लेटर : आश्रम
शपथ पत्र में खुली दाती की 'पोल'

 


पीड़िता के नाम से ‘शपथ पत्र’ सार्वजनिक कर सवालों में घिरे दाती महाराज• प्रमुख संवाददाता, फतेहपुर बेरी

 

रेप और कुकर्म जैसे संगीन आरोपों से घिरे दाती महाराज उर्फ मदन लाल राजस्थानी ने अपने बचाव में ऑडियो-विडियो क्लिप के साथ पीड़िता का एक ‘शपथ पत्र’ सार्वजनिक किया है। अब यह शपत्र पत्र भी सवालों के घेरे में है।

पीड़िता के वकील प्रदीप तिवारी का कहना है कि सभी डॉक्युमेंट काफी पहले दाती महाराज ने आश्रम में लड़की से जबरन साइन करवाए थे। एनबीटी को भी यह शपथपत्र दाती महाराज ने वट्सऐप किए थे। इनकी पड़ताल करते हुए कई चौंकाने वाली बातें दिखीं। शपथ पत्र के 11वें पैरे से शपथ पत्र शक के दायरे में आ गया है।

एनबीटी ने शपथ पत्र को गौर से पढ़ा तो ऐसा लगा कि उसे मनमाने तरीके से कुछ जगहों पर पेन से भरा गया है। कुछ स्थानों पर छेड़छाड़ की गई है। दाती महाराज की ओर से भेजा गया 3 पेज का यह शपथ पत्र टाइप किया हुआ है। लेकिन कुछ जगहों पर खाली जगह छोड़ी गई है।

वहां ब्लू पेन से पीड़िता का नाम, पता, खासतौर पर तारीख लिखी गई है। शपत्र पत्र में 11 पॉइंट देते हुए मजमून के शुरुआत में जहां पेन से 2006 लिखकर पीड़िता के हवाले से कबूलनामा दिखाया गया है कि वह स्वेच्छा से दाती महाराज की शरण में आई, वहीं आखिरी 11 वें पैरे में जो लिखा है उससे शपथ पत्र शक के दायरे में आ गया। उसमें टाइप किया हुए मैटर में लिखा है कि.. ‘मैं निजी कारणों से यह कर रही हूं। इसमें किसी भी प्रकार का छल, प्रलोभन, बल, प्रयोग, उत्पीड़न इत्यादि नहीं है। मैं वचन देती हूं कि मैं दाती महाराज की किसी प्रकार की निंदा नही करूंगी। किसी भी प्रकार का उपहास नहीं करूंगी। क्योंकि यहां मैंने ऐसा कुछ भी निंदा या उपहास आदि के लायक नहीं पाया है।

यदि मैं ऐसा कुछ करती हूं तो इसमें मेरा निजी स्वार्थ ही होगा तथा दाती महाराज अथवा संस्थान मेरे ऊपर उचित कानूनी कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र है। आज के बाद मैं किसी अनुचित, अमानवीय अथवा गलत आचरणों के लिए स्वयं जिम्मेदार होऊंगी’..। टाइप मैटर में पीड़िता के कथित साइन और अंगूठा निशानी होने का दावा किया गया।

क्या ऐसे शपथ पत्र वहां सभी से भरवाएं जाते रहे हैं/ इसके जवाब में आश्रम की तरफ से तर्क दिया गया है कि पहले तो इस तरह के शपथ पत्र नहीं लिए जाते थे, लेकिन आसाराम प्रकरण के बाद शपथ पत्र लेने लगे।

मामले में पीड़ित परिवार का दावा है कि आरोपी बाबा ने अपनी करतूतों के खुलासे के डर से उन्हीं दिनों में डरा धमकाकर कई पेपर्स पर लड़की से साइन करवाए थे। एक बार जब कुछ पेज पढ़ने की कोशिश की तो आरोपी बाबा ने कई थप्पड़ जड़े।

Have something to say? Post your comment
 
More Delhi News
दिल्‍ली: होटल में बंदूक लहराने के आरोपी के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी दिल्ली पिस्टल कांड: गृह राज्य मंत्री बोले- आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज NGT ने दिल्ली सरकार पर लगाया 50 करोड़ का जुर्माना दिल्ली: 100 करोड़ की हेरोइन के साथ दो गिरफ्तार दिल्ली: केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के घर पहुंचे NSA अजीत डोभाल दिल्ली: पूर्व BSP MP के बेटे पर आरोप, पांच सितारा होटल में पिस्टल लहराया दिल्ली: नशे में लेडीज टॉयलेट में किया प्रवेश, झगड़े के बाद निकाली पिस्टल दिल्लीः Netflix समेत कई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर बैन के लिए HC में याचिका दिल्ली लौटकर बोले एमजे अकबर- आरोपों पर बाद में बयान जारी करूंगा
एयरटेल ने चंडीगढ़ में #PassTheTorch अभियान शुरू किया