Sunday, June 24, 2018
Follow us on
Haryana

मोदी का सिर काटने की धमकी देने में देशद्रोह के आरोपी सोमबीर जसिया ने टोल पर तानी पिस्तौल

June 13, 2018 06:21 AM

COURSTEY DAINIK BHASKAR JUNE13

युवा नेता साेमबीर जसिया ने चौथी बार टोल पर दिखाई दबंगई, 3 बार में केस दर्ज नहीं, इस बार हुई एफआईआर

भास्कर न्यूज | रोहतक

 

मकड़ौली टोल प्लाजा पर कर्मचारियों से मारपीट और उन्हें पिस्तौल दिखाकर जान से मारने की धमकी देने के मामले में युवा नेता सोमबीर जसिया पर केस दर्ज हुआ है। सोमबीर जसिया आरक्षण आंदोलन के दौरान एक सभा में पीएम नरेंद्र मोदी की गर्दन काटकर लाने के बयान से सुर्खियों में रह चुका है। इस मामले में सोमबीर पर देशद्रोह का केस दर्ज हुआ था।
अब मकड़ौली टोल प्लाजा पर मारपीट मामले में टोल के कर्मचारी संदीप ने सदर थाना में सोमबीर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। खास बात ये है कि इससे पहले भी टोल प्लाजा प्रबंधन सोमबीर जसिया के खिलाफ मारपीट की तीन बार शिकायत दे चुका है, लेकिन किसी शिकायत पर कभी केस दर्ज नहीं हुआ। ऐसा पुलिस ने तब किया जब टोल प्रबंधन ने बाकायदा पुलिस को तीनों शिकायतों के साथ सीसीटीवी फुटेज भी सौंपी थी। इससे पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं।
बगैर कार्ड फास्ट टैग लेन
से निकलना चाहता था
अब दर्ज हुए केस में टोल कर्मी संदीप ने पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि सोमबीर 11 जून की रात सवा 9 बजे एक कार लेकर लेन नंबर 7 की फास्ट टैग लेन पर पहुंचा। यह लेन केवल फास्ट टैग लगे वाहनों के लिए है। टोल कर्मचारी का कहना है कि सोमबीर की कार पर कोई भी फास्ट टैग नहीं लगा था। इस लेन पर तैनात सुरक्षा कर्मी ने उसे समझाने की कोशिश की कि वह अन्य लेन से अपनी कार लेकर जाए, परन्तु सोमबीर जसिया ने सुरक्षा कर्मी को जान से मारने की धमकी दी। इसी समय दूसरे सुरक्षा कर्मी भी वहां पर पहुंच गए और उसे समझाने का प्रयास किया, लेकिन उसने एक नहीं सुनी और सुरक्षा कर्मियों को अपनी पिस्तौल निकालकर जान से मारने की धमकी देता रहा। आरोप है कि सोमबीर ने कर्मचारियों का कहा कि मुझे जाने दो वरना जिस तरह मैंने पहले आग लगाई थी, उसी तरह दोबारा आग लगा दूंगा। आरोप है कि बाद में साेमबीर टोल नाके को तोड़ता हुआ अपनी गाड़ी लेकर निकल गया।
इस तरह 4 बार टोल पर किया हंगामा
22 फरवरी 2018
सीसीटीवी फुटेज में कैद हुआ मामला
टोल प्लाजा पर इस तरह से कर्मचारियों को पिस्तौल तानकर धमकी देने का पूरा मामला सवा 9 बजे टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी में भी कैद हो गया है। टोल प्रबंधन ने इस सीसीटीवी फुटेज को भी जारी किया है। वहीं रात में यह फुटेज सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई और इसी को आधार बनाकर अब पुलिस आगे की जांच में जुट गई है।
18 जनवरी 2014
15 अप्रैल 2017
11 जून 2018
टोल प्रबंधन ने पुलिस
से सुरक्षा की मांग की
टोल प्लाजा प्रबंधन के सीजीएम मेजर सदानंद चौहान का कहना है कि धमकी देने के अलावा सोमबीर की ओर से पहले भी टोल प्लाजा पर तोड़फोड़ की गई है। इसमें उन्होंने 18 जनवरी 2014, 15 अप्रैल 2017, 22 फरवरी 2018 की वीडियाे भी सदर थाना पुलिस में दी गई है। जिसमें सोमबीर कार्यालय में तोड़फोड़ करता हुआ और टोल पर भिड़ते हुए नजर आ रहा है। इसी के साथ टोल प्रबंधन ने पुलिस से सुरक्षा व पीसीआर की व्यवस्था करने की भी मांग की है।
सोमबीर पर केस किया दर्ज : एसएचओ
मकड़ौली टोल प्लाजा पर टोल कर्मियों को पिस्तौल दिखाकर धमकी देने का मामला सामने आया है। पीड़ितों के बयान पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इससे पहले भी सोमबीर पर देशद्रोह का केस दर्ज है। जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी होगी। - अाईपीएस मकसूद अहमद, एसएचओ, सदर थाना

Have something to say? Post your comment