Thursday, January 24, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
आईआरसीटीसी Rs.7560 में कराएगी 4 ज्याेतिर्लिंगों के दर्शन तीर्थ यात्रा : 7 रात 8 दिन का होगा टूर पैकेज, 12 फरवरी सुबह 7 बजे चंडीगढ़ से रवाना होगी ट्रेन GOHANA-एमसी एक्ट में संशोधन व डीडी पावर छीनने पर पार्षदों के साथ इस्तीफा देंगे नप व नपा अध्यक्ष DAINIK BHASKAR EDIT- प्रियंका को महासचिव पद की जिम्मेदारी देने का अर्थ जींद सेक्टरवासियों ने इनहांसमेंट की नियमानुसार गणना न करने पर बुधवार को शहर में प्रदर्शनगुलाम नबी आजाद हरियाणा कांग्रेस प्रभारी, खेमों में बंटी पार्टी को जाेड़ना बड़ी चुनौती 9 माह बाद हरियाणा कांग्रेस को मिला प्रभारी JIND- 10 साल पुरानी िजस रार को सुलझाने को जुटा वैश्य और पंजाबी समुदाय, फिर उसी पर हंगामा वैश्य समुदाय के समर्थन को भाजपा ने मंत्री, विधायकों और मेयरों को उतारा मैदान मेंरोहतक में गरीब रथ एक्सप्रेस में रात सवा 3 बजे डकैती प्रियंका (आई) राहुल के लिए राजनीति में... मोदी-योगी के इलाके पूर्वी उत्तरप्रदेश की प्रभारी बनीं
Haryana

रेलूराम परिवार का हत्यारा दामाद अभी फरार

June 13, 2018 05:12 AM

courstey DAINIK BHASKAR JUNE 13

संजीव को जानते भी नहीं उसके जमानती

रेलूराम परिवार का हत्यारा दामाद अभी फरार

वकील ने जमानती तलाश खुद शिनाख्त की, 15 हजार रु. लिए, जमानतियों को 3500-3500 दिए

भास्कर न्यूज | यमुनानगर

पूर्व विधायक रेलूराम पूनिया समेत परिवार के 8 लोगों का हत्यारा दामाद संजीव अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। संजीव को पैरोल के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। संजीव को पैरोल दिलाने में कई तरह की गड़बड़ियां की गईं, जिन्हें किसी ने जांचा भी नहीं। संजीव को जिन्होंने पैरोल दिलाई, वे उसे जानते भी नहीं। वकील ने जमानती जुटाए और खुद शिनाख्त की। वकील से लेकर जमानतियों तक का कहना है कि उन्हें तो ये भी नहीं पता था कि संजीव ने किनकी हत्या की हुई है। उन्हें बताया गया था कि हत्या के केस में संजीव 16-17 साल की सजा काट चुका है। एक साल की सजा बची है। वह पहले 8 बार पैरोल ले चुका है। उसका रिकॉर्ड अच्छा है। इन बातों में वे आ गए और संजीव के जमानत बन गए। संजीव के लिए जमानती तलाशने वाले वकील मोहित ने बताया कि पैरोल दिलाने के लिए 15 हजार रु. फीस तय हुई थी। इसमें से 3500-3500 रुपए दोनों जमानतियों ने लिए। पैरोल के लिए संजीव के जेल में बने दोस्त चगनौली के पूर्व सरपंच के बेटे रिक्की ने भागदौड़ की। रिक्की के पिता बलदेव सिंह ने ही संजीव की मां के अपने घर में किराएदार होने का शपथपत्र दिया।अब रिक्की का भी कहना है कि उससे गलती हो गई। संजीव को एक-एक लाख के मुचलके पर जमानत मिली है। जमानतियों ने इसके लिए अपनी कृषि भूमि दिखाई है। शेष | पेज 7 पर
चगनौली के पूर्व सरपंच ने अपने घर में संजीव की मां के किराएदार होने का शपथपत्र दाखिल किया
परिवार दहशत में, सुरक्षा के लिए 2 गनमैन तैनात
हिसार | संजीव के फरार होने से पूर्व विधायक रेलूराम के परिवार के लोग दहशत में हैं। रेलूराम के भतीजे जितेंद्र ने जान को खतरा बताते हुए पुलिस प्रशासन से सुरक्षा की गुहार लगाई। डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर जितेंद्र सिंह ने परिवार को दो गनमैन मुहैया कराए हैं। -पेज 2 भी पढ़िए
भास्कर न्यूज | यमुनानगर
पूर्व विधायक रेलूराम पूनिया समेत परिवार के 8 लोगों का हत्यारा दामाद संजीव अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। संजीव को पैरोल के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। संजीव को पैरोल दिलाने में कई तरह की गड़बड़ियां की गईं, जिन्हें किसी ने जांचा भी नहीं। संजीव को जिन्होंने पैरोल दिलाई, वे उसे जानते भी नहीं। वकील ने जमानती जुटाए और खुद शिनाख्त की। वकील से लेकर जमानतियों तक का कहना है कि उन्हें तो ये भी नहीं पता था कि संजीव ने किनकी हत्या की हुई है। उन्हें बताया गया था कि हत्या के केस में संजीव 16-17 साल की सजा काट चुका है। एक साल की सजा बची है। वह पहले 8 बार पैरोल ले चुका है। उसका रिकॉर्ड अच्छा है। इन बातों में वे आ गए और संजीव के जमानत बन गए। संजीव के लिए जमानती तलाशने वाले वकील मोहित ने बताया कि पैरोल दिलाने के लिए 15 हजार रु. फीस तय हुई थी। इसमें से 3500-3500 रुपए दोनों जमानतियों ने लिए। पैरोल के लिए संजीव के जेल में बने दोस्त चगनौली के पूर्व सरपंच के बेटे रिक्की ने भागदौड़ की। रिक्की के पिता बलदेव सिंह ने ही संजीव की मां के अपने घर में किराएदार होने का शपथपत्र दिया।अब रिक्की का भी कहना है कि उससे गलती हो गई। संजीव को एक-एक लाख के मुचलके पर जमानत मिली है। जमानतियों ने इसके लिए अपनी कृषि भूमि दिखाई है

 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
JIND-वादे तो सारे नेता करैं, पर टेम पै सबकी मां सी रूसज्या सै... GOHANA-एमसी एक्ट में संशोधन व डीडी पावर छीनने पर पार्षदों के साथ इस्तीफा देंगे नप व नपा अध्यक्ष जींद सेक्टरवासियों ने इनहांसमेंट की नियमानुसार गणना न करने पर बुधवार को शहर में प्रदर्शन गुलाम नबी आजाद हरियाणा कांग्रेस प्रभारी, खेमों में बंटी पार्टी को जाेड़ना बड़ी चुनौती 9 माह बाद हरियाणा कांग्रेस को मिला प्रभारी JIND- 10 साल पुरानी िजस रार को सुलझाने को जुटा वैश्य और पंजाबी समुदाय, फिर उसी पर हंगामा वैश्य समुदाय के समर्थन को भाजपा ने मंत्री, विधायकों और मेयरों को उतारा मैदान में रोहतक में गरीब रथ एक्सप्रेस में रात सवा 3 बजे डकैती प्रियंका (आई) राहुल के लिए राजनीति में... मोदी-योगी के इलाके पूर्वी उत्तरप्रदेश की प्रभारी बनीं HARYANA-पीडब्ल्यूडी के एनएच डिपार्टमेंट ने बिना एन्वायर्नमेंट क्लीयरेंस के माइनिंग और बिना ट्रांसफर के ही शुरू कर दिया प्रोजेक्ट पर काम व्हाट्सएप के जरिए पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन को अंडे के गलत रेट देने वाले पर केस दर्ज PANCHKULA-राउंड अबाउट्स घपले में जांच कर रही कमेटी ने शहर में घूमकर की चेकिंग